अपना शहर चुनें

States

अमेरिका-चीन में बढ़ा तनाव, साउथ चाइना सी में ड्रैगन करेगा युद्धाभ्यास

शी जिनपिंग (File Pic)
शी जिनपिंग (File Pic)

China Military Exercises in South China Sea: चीन और अमेरिका के बीच रिश्ते और तल्ख होते जा रहे हैं. ड्रैगन ने साउथ चाइना सी में सैन्य अभ्यास करने की घोषणा कर दी है. दरअसल, वह साउथ चाइना सी में अमेरिका के जंगी जहाज भेजे जाने की घटना से लाल है.

  • Share this:
बीजिंग. चीन और अमेरिका के बीच तनातनी जल्द ही खत्म होता नहीं दिख रहा है। कुछ दिन पहले अमेरिका के साउथ चाइना सी (South China Sea) में जंगी जहाज भेजने की खबरों के बाद अब चीन ने भी सख्त रुख दिखाया है. बीजिंग ने मंगलवार को कहा कि वह इस सप्ताह SCS में सैन्य अभ्यास करेगा. माना जा रहा है कि चीन इस रुख के बाद इस इलाक में तनाव बढ़ सकता है.

साउथ चाइना सी में चीनी अभ्यास
चीन के मारिटाइम सेफ्टी एडमिनिस्ट्रेशन की तरफ से जारी नोटिस में गल्फ की खाड़ी में तोनकिन की तरफ से 27-30 जनवरी के बीच प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया गया है. हालांकि इसमें यह नहीं बताया गया है कि यह सैन्य अभ्यास कब होगा और किस स्तर का होगा. बता दें कि अमेरिका के लड़ाकू युद्धपोत (US Aircraft Carrier) का बेड़ा रविवार को दक्षिण चीन सागर (South China Sea) में प्रवेश कर चुका है.

अमेरिका ने भेज दिए हैं जंगी जहाज
अमेरिकी इंडो-पैसेफिक कमांड के अनुसार लड़ाकू युद्धपोत यूएसएस थियोडोर रूजवेल्ट (USS Theodore Roosevelt) के नेतृत्व में कई लड़ाकू युद्धपोत दक्षिण चीन सागर में प्रवेश कर गए हैं. अमेरिका ने कहा था कि समुद्र सबका की रक्षा करने के लिए वह ऐसा कदम उठा रहा है.





चीन-अमेरिका में फिर बढ़ेगी तनातनी, वाशिंगटन ने साउथ चाइना सी में तैनात किए जंगी जहाज

अब बाइडन भी चीन के पीछे पड़े
पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के बाद राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) भी अब चीन के साथ तल्खी दिखा रहे हैं. ऐसे में माना जा रहा है कि दोनों देशों के बीच चली आ रही कड़वाहट अभी खत्म नहीं होने वाली है. अमेरिका की सेना ने हाल के सालों में ऐसे कई इलाकों में अपनी गतिविधियां बढ़ा दी हैं, जिसे चीन अपना कहता रहा है. चीन का अपने पड़ोसियों वियतनाम, मलेशिया, फिलीपींस, ब्रुनेई और ताइवान के साथ रिश्ते लगातार खराब रहे हैं. चीन ने सोमवार को अमेरिका के सामने लगातार साउथ चाइना सी में लड़ाकू और जंगी जहाज भेजने को लेकर विरोध जताया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज