Corona वैक्सीन तैयार होने पर इसे दी जाएगी 'ग्लोबल पब्लिक गुड्स' की मान्यता: चीन

Corona वैक्सीन तैयार होने पर इसे दी जाएगी 'ग्लोबल पब्लिक गुड्स' की मान्यता: चीन
अमेरिका ने चीन पर वैक्सीन बनाने के काम में बाधा डालने का आरोप लगाया है. (File Photo)

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (Xi Jinping) ने भी पिछले महीने विश्व स्वास्थ्य सभा में कहा था कि अगर चीन वैक्सीन बना लेता है, तो वह इसे 'ग्लोबल पब्लिक गुड्स' घोषित करेगा.

  • Share this:
बीजिंग. कोरोना महामारी के लिये वैक्सीन बनाने को लेकर चीन की तरफ से एक बयान सामने आया है. चीन के विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री वांग झींगांग (Wang Zhigang) ने कहा है कि वह अगर कोरोना वायरस (COVID-19) के वैक्सीन बनाने में सफल रहा तो वह अंतरराष्ट्रीय सहयोग बढ़ाएगा. वांग झींगांग ने कहा कि वैक्सीन तैयार होने पर चीन इसे 'ग्लोबल पब्लिक गुड्स' के रूप में मान्यता देगा. मतलब ये टीका पूरे विश्व के लिए उपलब्ध होगा. विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार पूरे विश्व में कोरोना का टीका बनाने प्रयास के बीच चीनी शोधकर्ता पांच अलग-अगल वैक्सीन का ह्यूमन ट्रायल कर रहे हैं.

विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री वांग झींगंग ने बीजिंग में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि नए कोरोना वायरस को दूर करने के हमारे प्रयास में अभी भी एक वैक्सीन बनाना मौलिक रणनीति है. लेकिन टीका बनाना बहुत कठिन है और इसमें समय लगता है. समाचार सम्मेलन में राज्य परिषद सूचना कार्यालय द्वारा जारी किए गए श्वेत पत्र में सरकार द्वारा वैश्विक सहयोग का भी अनुरोध किया गया है. इसमें कहा गया कि वैश्विक समुदाय को वायरस की लेकर उंगली नहीं उठानी चाहिए और राजनीतिकरण का विरोध करना चाहिए.

3 बिलियन डॉलर के सहयोग का वादा
वहीं चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने भी पिछले महीने विश्व स्वास्थ्य सभा में कहा था कि अगर चीन वैक्सीन बना लेता है, तो वह इसे 'ग्लोबल पब्लिक गुड्स' घोषित करेगा. यह विकासशील देशों में वैक्सीन की पहुंच और सामर्थ्य सुनिश्चित करने में चीन का योगदान होगा. जिनपिंग कोरोना के खिलाफ लड़ाई में विशेष रूप से विकासशील देशों की मदद करने के लिए अगले दो वर्षों में वित्तीय सहायता में 2 बिलियन डॉलर के सहयोग का वादा किया.
ये भी पढ़ें: चीन ने COVID-19 के प्रसार के आरोप पर श्वेतपत्र जारी किया, खुद को निर्दोष ठहराया
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज