न्‍यूजीलैंड के आसपास गिर सकता है चीन का अनियंत्रित रॉकेट, अगले 12 घंटे हैं बेहद अहम

100 टन का चाइनीज रॉकेट अंतरिक्ष में कंट्रोल खोने के बाद तेजी से धरती की ओर गिर रहा है. (सांकेतिक फोटो)

रॉकेट (Rocket) जिस तेजी और जिस दिशा की ओर बढ़ रहा है उससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि ये न्‍यूजीलैंड (New Zealand) के आसपास कहीं भी गिर सकता है. वैज्ञानिकों के मुताबिक अभी हम ये नहीं कह सकते कि रॉकेट आबादी वाली जगह पर गिरेगा या फिर समुद्र में.

  • Share this:
    बीजिंग. धरती पर कोरोना महामारी के बढ़ते हमले के बीच चीन (China) के अनियंत्रित रॉकेट (Uncontrolled Rocket) का खतरा भी बढ़ गया है. ऐसा माना जा रहा है कि अगले 12 घंटे में चीन का ये रॉकेट धरती (Earth) पर क्रैश (Crash) कर सकता है. बता दें कि चीन का इस रॉकेट से नियंत्रण पूरी तरह से खत्‍म हो गया है. रॉकेट जिस तेजी और जिस दिशा की ओर बढ़ रहा है उससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि ये न्‍यूजीलैंड (New Zealand) के आसपास कहीं भी गिर सकता है. वैज्ञानिकों के मुताबिक अभी हम ये नहीं कह सकते कि रॉकेट आबादी वाली जगह पर गिरेगा या फिर समुद्र में.

    बता दें कि चीन का ये रॉकेट करीब 100 फीट लंबा है और इसका वजन 21 टन के करीब है. पिछले साल भी ऐसी ही घटना सामने आई थी, जिसमें मई के महीने में चीन का एक रॉकेट पश्चिमी अफ्रीका और अटलांटिक महासागर में गिरा था. उस वक्‍त चीन के इस रॉकेट ने पश्चिमी अफ्रीका के एक गांव को पूरी तरह से बर्बाद कर दिया था. इस घटना में सबसे अच्‍छी बात ये थी कि इस गांव में कोई रहता नहीं था.

    इसे भी पढ़ें :- कोविड-19 वैक्सीन में पेटेंट छूट का समर्थन करेगा अमेरिका, कैपिटल हिल में उठे विरोध के सुर

    कहीं भी हो सकता है विस्फोट
    एक्सपर्ट्स का कहना है कि लॉन्ग मार्च 5बी वाई2 नामका ये चीनी रॉकेट चार मील प्रति सेकंड की रफ़्तार से नीचे गिर रहा है. इसके टुकड़े कहीं भी गिर सकते हैं. हो सकता है कि ये भारी जनसंख्या वाली जगह पर गिरे. या ऐसा भी हो सकता है कि ये किसी खाली जगह पर गिरे. एक्सपर्ट्स लगातार इसपर नजर बनाए हुए हैं. चीन ने Long March 5B Y2 को 29 अप्रैल को लॉन्च किया था. इसके जरिये चीन अंतरिक्ष में नया स्पेस स्टेशन बनाना चाहता था. यह धरती के ऊपर 170 किलोमीटर से 372 किलोमीटर की ऊंचाई के बीच तैर रहा है.

    इसे भी पढ़ें :- कोरोना वायरस से जूझ रहा भारत, वुहान में बिना टेंशन म्यूजिक पर झूम रहे चीनी युवा

    क्या था चीन का प्लान?
    चीन ने प्लान किया था कि इस रॉकेट के जरिये स्पेस में Tiangong नाम का चीनी स्पेस स्टेशन बनाया जाएगा, जो 2022 तक पूरा हो जाएगा. इसके बाद ये स्पेस स्टेशन पृथ्वी के चक्कर लगाकर पृथ्वी की जानकारी स्पेस से देगा. लेकिन अब खबर है कि ये रॉकेट अपना कंट्रोल खो चुका है और इसके मलबे कई देशों पर गिरकर तबाही मचा सकते हैं. एक्सपर्ट्स के मुताबिक, चीन को भी इसकी जानकारी है लेकिन अभी तक उसने इसे लेकर कोई चेतावनी जारी नहीं की है.