थाईलैंड में बंदरों से तुड़वाए जाते हैं नारियल, ब्रिटेन ने यहां के उत्पादों पर बैन लगाया

थाईलैंड में बंदरों से तुड़वाए जाते हैं नारियल, ब्रिटेन ने यहां के उत्पादों पर बैन लगाया
थाईलैंड में बंदरों से नारियल तुड़वाने पर ब्रिटेन को आपत्ति

थाईलैंड में बंदरों से नारियल तुड़वाने (Coconut Plucking From Monkeys) को लेकर विवाद खड़ा हो गया है. एक एक्टिविस्ट ने बंदरों पर क्रूरता की शिकायत करते हुए इस मुद्दे को उठाया. इसके बाद ब्रिटेन ने थाइलैंड से नारियल के उत्पाद मंगाने पर बैन लगा दिया है.

  • Share this:
बैंकॉक. दक्षिणी थाईलैंड (South Thailand) में बंदरों से नारियल तुड़वाने (Coconut Plucking From Monkeys) को लेकर विवाद खड़ा हो गया है. यह सारा विवाद तब उठा जब एक एक्टिविस्ट ने बंदरों पर क्रूरता (Cruelty with Monkeys) की शिकायत करते हुए इस मुद्दे को उठाया. पीपुल्स फॉर एथिकल ट्रीटमेंट ऑफ एनिमल्स (PETA) की इस  रिपोर्ट के कारण कई ब्रिटिश सुपरमार्केट ने थाईलैंड से नारियल उत्पादों के मंगाए जाने पर प्रतिबंध लगा दिया. दरअसल बंदरों को प्रशिक्षण देने वाले एक व्यक्ति ने शनिवार को बताया कि कुछ बंदर निर्यात के उद्देश्य से नारियल की कटाई करते हैं.

बंदरों का प्रशिक्षित करने का चलाया जाता है स्कूल

52 वर्षीय नीरन वोंगवानिच सूरत थानी प्रांत के बंदरों के एक स्कूल में नारियल तोड़कर लाने के लिए बंदरों को प्रशिक्षित करते हैं. नीरन ने इस विषय पर कहा कि निर्यात किए जाने वाले ज्यादातर नारियल बंदरों द्वारा नहीं बल्कि मनुष्यों द्वारा तोड़े जाते हैं. उसने बंदरों के साथ क्रूरता किये जाने के आरोप का जवाब देते हुए कहा कि दक्षिण थाईलैंड के के कुछ खेतों में नारियल के बहुत लंबे पेड़ों पर लगे नारियल तोड़ने के लिए ही बंदरों का इस्तेमाल होता है.



पेटा ने लगाया क्रूरता का आरोप
बंदरों के साथ अपने भावनात्मक संबंधों को बताते हुए उसने कहा कि इन आरोपों में कोई सच्चाई नहीं है और वह बंदरों के साथ पिछले 30 वर्षों से ज्यादा से रह रहा है उसका उनसे एक बंधन है और एक रिश्ता है. निरून ने रॉयटर्स को बताया कि वह एक साल में छह से सात बंदरों को प्रशिक्षित करता है. इस महीने की शुरुआत में कई ब्रिटिश खुदरा विक्रेताओं ने पीपुल्स फॉर एथिकल ट्रीटमेंट ऑफ एनिमल्स (PETA) की एक रिपोर्ट के बाद थाई नारियल के उत्पादों को अपनी अलमारियों से खींच लिया और आरोप लगाया कि थाईलैंड में नारियल का दुरुपयोग करने वाले बंदरों द्वारा लिया जाता है. इस महीने की शुरुआत में कई ब्रिटिश खुदरा विक्रेताओं ने पीपुल्स फॉर एथिकल ट्रीटमेंट ऑफ एनिमल्स (PETA) की एक रिपोर्ट के बाद थाई नारियल के उत्पादों को खरीदना बंद कर दिया और थाईलैंड पर आरोप लगाया कि थाईलैंड में नारियल बंदरों द्वारा तुड़वाये जाते हैं जो बंदरों पर क्रूरता की श्रेणी में गिना जाता है.

पीएम बोरिस जॉनसन की मंगेतर ने किया ये अनुरोध

प्रधान मंत्री बोरिस जॉनसन की मंगेतर कैरी साइमंड्स ने अन्य सुपरमार्केट को ये उत्पाद न बेचने के लिए कहा. पेटा ने भी कहा है कि ​थाईलैंड के सभी नारियल बंदरों द्वारा तुड़वाए जाते हैं. हालांकि थाईलैंड की सरकार ने यह कहते हुए PETA की रिपोर्ट का खंडन किया है कि थाईलैंड में नारियल तोड़ने के लिए बंदरों का प्रयोग लगभग न के बराबर है.

ये भी पढ़ें: अमेरिकी वैज्ञानिकों ने इंसानों की आयु बढ़ाने का ढूंढ निकाला रास्ता!

इस शहर को आर्थिक मंदी से बचाने के लिए छापे जा रहे हैं कोविड डॉलर

थाई उप-कृषि मंत्री मनन्या थैसेट ने कहा कि थाईलैंड के 2,00,000 नारियल उत्पादक नारियल तोड़ने के लिए मानव श्रम और मशीनों का अत्यधिक उपयोग करते हैं. उन्होंने यह भी कहा कि अगर थाईलैंड के जंगलों के सारे बंदरों को भी काम पर लगा दिया जाये तब भी यह काम पूरा नहीं कर सकेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading