लाइव टीवी

रूस में बढ़ा कोरोना का प्रकोप, पिछले 24 घंटों में 9,434 नए मामले सामने आए

News18Hindi
Updated: May 23, 2020, 11:34 PM IST
रूस में बढ़ा कोरोना का प्रकोप, पिछले 24 घंटों में 9,434 नए मामले सामने आए
रूस में कुल मामलों की संख्या 3,35,882 हो गई है. फाइल फोटो

शुक्रवार को दुनिया भर में लगातार दूसरे दिन संक्रमण (Covid-19) के एक लाख से ज्यादा 1,07,700 नए केस सामने आए हैं जिसके बाद कुल मामले बढ़कर अब 52,98,200 से ज्यादा हो गए हैं. बीते 24 घंटे में दुनिया भर में संक्रमण (Coronavirus) से 5250 से ज्यादा लोगों ने अपनी जान गंवा दी है जिसके बाद कुल मौतों का आंकड़ा अब 3,39,400 से भी ज्यादा पहुंच गया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. भारत (India) और ब्राजील (India) दुनिया में कोरोना संक्रमण (Coronavirus) के नए हॉटस्पॉट के तौर पर सामने आए हैं. दुनिया भर में कोरोना के अब तक 5,322,358 मामले सामने आ चुके हैं. वहीं वायरस के संक्रमण से अब तक 340,290 लोगों की मौत हो चुकी है. हालांकि इससे उबरने में कामयाब होने वालों की तादाद भी 2,170,723 हो गई है. अमेरिका (US) में अभी भी रोज़ सबसे ज्यादा नए मामले और संक्रमण से मौतें दर्ज की जा रहीं हैं. वहीं रूस में भी मामले लगातार बढ़ रहे हैं.

रूस में बढ़ा कोरोना का प्रकोप
रूस में कोरोना के मामले लगातार सामने आ रहे हैं. पिछले 24 घंटों में देश में कोरोना वायरस के 9,434 मामले सामने आए हैं. वहीं अब तक कुल मामलों की संख्या बढ़कर 3,35,882 हो गई है.

पेंसिलवेनिया में हट सकता है लॉकडाउन



पेंसिलवेनिया में कोरोना महामारी अब कुछ कमजोर पड़ती नजर आ रही है. यहां की हर काउंटी में 5 जून से आंशिक तौर पर लॉकडाउन हटाए जाने की उम्मीद है. शुक्रवार को गवर्नर टॉम वॉल्फ ने यह जानकारी दी. यहां 67 में से 49 काउंटी येलो जोन में आ गई हैं.



 

इटली में कोरोना के मामलों में कमी
लगातार कोरोना का प्रकोप झेल रहे इटली से राहत की खबर है. यहां फिलहाल कोरोना के सक्रिय मामलों में कमी दर्ज की गई है. स्थानीय अधिकारियों के मुताबिक देश में 59322 सक्रिय मामले हैं, वहीं कुल मामलों की संख्या दो लाख से अधिक है.

 

#कोविड-19 की वैक्सीन पहले ह्यूमन ट्रायल में सफल
क्लिनिकल ट्रायल के पहले चरण तक पहुंचने वाला कोविड-19 का पहला टीका मनुष्यों के लिए सुरक्षित, सहनीय और कोरोना वायरस के खिलाफ प्रतिरोधक प्रतिक्रिया उत्पन्न करने में सक्षम है. 'द लांसेट' पत्रिका में प्रकाशित एक नये अनुसंधान में यह दावा किया गया है. 108 वयस्कों पर किए गए इस अध्ययन के मुताबिक, इस टीके ने सार्स-सीओवी-2 को खत्म करने वाले एंटीबॉडी पैदा किए और रोग प्रतिरोधक तंत्र की टी-कोशिकाओं की मदद से प्रतिक्रिया उत्पन्न की. हालांकि, चीन के बीजिंग इस्टीट्यूट ऑफ बायोटेक्नोलॉजी के अनुसंधानकर्ताओं समेत अन्य ने कहा है कि इस बात की पुष्टि करने के लिए और अनुसंधान करने की जरूरत है कि सार्स-सीओवी-2 संक्रमण के खिलाफ यह टीका संरक्षण देता है या नहीं. अध्ययन में कहा गया कि 108 स्वस्थ वयस्कों पर किए गए परीक्षण में, टीके ने 28 दिन बाद अच्छे परिणाम दिखाए जहां अंतिम परिणामों का अगले छह महीने में आकलन किया जाएगा.

#दक्षिण कोरिया में कोविड-19 के 23 नए मामले
दक्षिण कोरिया में कोरोना वायरस के 23 नए मामले सामने आए हैं. इनमें से ज्यादातर घनी आबादी वाले सियोल मेट्रोपॉलिटन इलाके से हैं जहां अधिकारियों ने हजारों नाइट क्लब, बार और काराओके रूम बंद करवा दिए हैं ताकि संक्रमण को फैलने से रोका जा सके. कोरिया के रोग नियंत्रण एवं रोकथाम केंद्र ने शनिवार को जो आंकड़े घोषित किए उनके मुताबिक देश में संक्रमण के कुल 11,165 मामले हैं और मृतक संख्या 266 है. मार्च की शुरुआत में यहां रोज 500 नए मामले आ रहे थे जिसके बाद बड़े पैमाने पर जांच की गई और संक्रमितों के संपर्क में आए लोगों का पता लगाया गया लेकिन ग्रेटर कैपिटल एरिया जहां दक्षिण कोरिया की आधी आबादी रहती है वहां संक्रमण के धीरे-धीरे बढ़ने का खतरा बना हुआ है क्योंकि स्वास्थ्य अधिकारियों ने सामाजिक दूरी के दिशा-निर्देशों में ढील दी है और स्कूलों को चरणबद्ध तरीके से खोलने की इजाजत दे दी है. यहां संक्रमण के 200 से अधिक मामले ऐसे हैं जो क्लब जाने वालों से संबंधित हैं. कम से कम 1,204 मामले ऐसे हैं जो अंतरराष्ट्रीय यात्रा करके लौटे लोगों के हैं.

#ब्रिटेन मे प्रधानमंत्री के सलाहकार से पूछताछ
ब्रिटेन में प्रधानमंत्री के मुख्य सलाहकार डोमिनिक क्युमिंग्स विवादों में घिर गए हैं. लॉकडाउन के उल्लंघन को लेकर डोमिनिक क्युमिंग्स से पुलिस ने बातचीत की है. कोरोना वायरस से संक्रमण के लक्षण होने के बावजूद डोमिनिक लंदन से 264 किलोमीटर दूर डरहम में देखे गए थे.ऐसी चर्चा है कि डोमिनिक क्युमिंग्स मार्च के आख़िर में प्रधानमंत्री से डॉउनिंग स्ट्रीट में मिले थे. उस समय बोरिस जॉनसन कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे.

#पेरू में बढ़ायी गयी इमरजेंसी
पेरू में दो महीने से लागू लॉकडाउन के बावजूद कोरोना संक्रमण के मामले कम होते हुए नहीं दिख रहे हैं. हालांकि इस बीच वहां लॉकडाउन की शर्तों में कुछ ढील दी गई थी. अब सरकार ने कहा है कि पेरू में आपातकाल के प्रावधान जून के आख़िर तक लागू रहेंगे.पेरू लातिन अमरीका में कोविड-19 की महामारी से दूसरा सबसे ज़्यादा प्रभावित देश है. आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार पेरू में 111,000 से ज़्यादा संक्रमण के मामले दर्ज किए गए हैं और वहां 3148 लोगों की मौत हो चुकी है.

#अमेरिका
अमेरिका में शुक्रवार को संक्रमण के 24,000 से ज्यादा नए मामले सामने आए जिसके बाद कुल केस बढ़कर अब 16,45,000 से भी ज्यादा हो गए हैं. बीते 24 घंटे में यहां संक्रमण से 1,293 लोगों ने अपनी जान गंवा दी जिसके बाद कुल मौतों की संख्या बढ़कर 97,600 से भी ज्यादा हो गयी है. अमेरिका ने हो रही मौतों के शोक में तीन दिन तक देश भर में राष्ट्रीय झंडा आधा झुकाए रखने का फैसला लिया है.

#ब्राजील
ब्राजील अब संक्रमण से प्रभावित लोगों की संख्या के मामले में अमेरिका के बाद दूसरे नंबर पर आ गया है. ब्राजील में शुक्रवार को संक्रमण के करीब 20,000 नए केस सामने आए जिसके बाद कुल मामले बढ़कर अब 3,30,800 से भी ज्यादा बताए जा रहे हैं. यहां बीते 24 घंटे में संक्रमण से 966 लोगों की मौत हो गयी जिसके बाद कुल मौतों का आंकड़ा बढ़कर अब 21,000 से भी ज्यादा हो गया है.

#नेपाल में कोरोना वायरस के 30 नये सामने आए
नेपाल में शुक्रवार को कोरोना वायरस के 30 नये मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की कुल संख्या 487 हो गई है. देश में कोरोना वायरस से अब तक तीन लोगों की मौत हो चुकी है। कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन लागू है. स्वास्थ्य और जनसंख्या मंत्रालय ने शुक्रवार को बताया कि कोविड-19 से 21 और लोगों को पूरी तरह से स्वस्थ होने पर अस्पतालों से छुट्टी दी गई है. इस तरह कोरोना वायरस से अब तक 70 लोग स्वस्थ हो चुके हैं. मंत्रालय ने बताया कि कोविड-19 से संक्रमित हुए 30 लोगों में से नौ लोग कपिलवस्तु जिले से है जिनमें 24 से 53 वर्ष की आयु के आठ पुरुष और एक आठ वर्षीय बालिका शामिल हैं. इसी तरह सर्लाही जिले में 22 से 39 वर्ष की आयु के 14 पुरुष और 18 वर्षीय एक महिला इस वायरस से संक्रमित पाये गये हैं. चितवन जिले में 73 वर्षीय एक महिला संक्रमित पाई गई है.

#सिंगापुर में कोरोना वायरस के 614 नये मामले
सिंगापुर में शुक्रवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 614 नये मामले सामने आए जिनमें अधिकतर विदेशी श्रमिक हैं. देश में संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 30,426 हो गयी है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने अपने प्रारंभिक दैनिक अपडेट में कहा कि नये मामलों में चार रोगी या तो सिंगापुर के नागरिक हैं या स्थायी निवासी (विदेशी) हैं, बाकी अधिकतर विदेशी कामगार हैं. मंत्रालय ने कहा कि यहां बड़ी संख्या में विदेशी मजदूरों के सीमित जगह में एक साथ रहने के कारण नये मामले तेजी से बढ़ रहे हैं.

#वयस्कों के मुकाबले बच्चों के लिए कम खतरनाक है कोविड-19
वयस्कों के मुकाबले बच्चों में कोरोना वायरस संक्रमण और मृत्यु दर का खतरा कम होता है क्योंकि बच्चों की नाक में मौजूद एपिथिलियमी उत्तकों में कोविड-19 रिसेप्टर एसीई2 की मात्रा बहुत कम होती है. एक नए अध्ययन के मुताबिक सार्स-सीओवी-2 संक्रमण के लिए पहले स्तर के रिसेप्टर एसीई2 की मात्रा और मानव शरीर की बनावट में यह राज छुपा है कि आखिर बच्चों के मुकाबले वयस्क इस संक्रमण से ज्यादा प्रभावित क्यों हो रहे हैं. अमेरिका के माउंट सिनाई में इकान स्कूल ऑफ मेडिसिन के अनुसंधानकर्ताओं ने बताया कि सार्स-सीओवी-2 किसी भी होस्ट (सजीव शरीर) में प्रवेश करने के लिए रिसेप्टर एसीई2 का उपयोग करता है.

‘जेएएमए’ पत्रिका में प्रकाशित इस अध्ययन के लिए चार से 60 साल आयु वर्ग के 305 मरीजों का न्यूयॉर्क के माउंट सिनाई हेल्थ सिस्टम में विश्लेषण किया गया. अनुसंधानकर्ताओं ने पाया कि बच्चों की नाक के एपिथिलियमी उत्तकों में एसीई2 की मात्रा कम होती है जो बढ़ती उम्र के साथ-साथ बढ़ती है. उनका कहना है कि इस अनुसंधान से यह गुत्थी सुलझ सकती है कि आखिरकार वयस्कों के मुकाबले बच्चों में कोविड-19 संक्रमण की संख्या और इससे होने वाली मौतें कम क्यों हैं.

#सिंगापुर में 10 भारतीयों पर कोविड-19 की पाबंदियों के उल्लंघन का आरोप
सिंगापुर में कुछ छात्रों समेत 10 भारतीय नागरिकों पर शुक्रवार को किराये के एक घर में इकट्ठा होने पर कोविड-19 की पाबंदियों के उल्लंघन का आरोप लगा है. चैनल न्यूज एशिया की रिपोर्ट के मुताबिक तीन लोगों के एक समूह ने सात अन्य लोगों को अपने फ्लैट पर चाय पीने, बात करने और पढ़ाई के लिए पांच मई की सुबह बुलाया था जो कोरोना वायरस संक्रमण रोकने के लिये लागू सामाजिक दूरी के नियमों का उल्लंघन है. कोविड-19 नियमों के तहत सामाजिक उद्देश्य के लिये दूसरे घरों के सदस्यों का मिलना-जुलना प्रतिबंधित है और ऐसा करने पर अधिकतम छह महीने की कैद या 10 हजार सिंगापुरी डॉलर जुर्माना अथवा दोनों सजा दी जा सकती है. तीन किरायेदार- अविनाश कौर, नवदीप सिंह और सजनदीप सिंह पर अपने घर में अन्य लोगों को आने की इजाजत देने का आरोप है. अन्य सात लोगों में भुल्लर जस्तीना नाम की महिला और छह पुरुष - अर्पित कुमार, कर्मजीत सिंह, मोहम्मद इमरान पाशा, लोकेश शर्मा, विजय कुमार और वसीम अकरम हैं.

#चीन में कोरोना वायरस संक्रमण के 39 नए मामले
चीन में कोविड-19 के पहले केंद्र वुहान से कोरोना वायरस संक्रमण के 39 नए मामले सामने आए हैं जिनमें से 35 रोगियों में संक्रमण के लक्षण नजर नहीं आ रहे हैं. संक्रमण के दूसरे दौर को रोकने के लिये चीन वुहान शहर के एक करोड़ 12 लाख लोगों की फिलहाल जांच कर रहा है. चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग (एनएचसी) ने शुक्रवार को कहा कि बृहस्पतिवार को सामने आए संक्रमण के 39 मामलों में से 35 में लक्षण नहीं दिख रहे हैं. चार अन्य रोगियों में से दो जिलिन प्रांत से स्थानीय स्तर पर प्रसारित मामले हैं जहां कुछ नए मामले हाल में सामने आए हैं. नए मामले तब आए हैं जब चीन की संसद नेशनल पीपल्स कांग्रेस का हफ्ते भर तक चलने वाला वार्षिक सत्र भी बृहस्पतिवार से शुरू हुआ है. आयोग ने कहा कि बिना लक्षण वाले 365 मामले अब भी चिकित्सीय निगरानी में हैं, जिनमें विदेश से आए 26 लोग भी शामिल हैं. वुहान में बिना लक्षण वाले 284 लोगों को पृथक-वास में रखा गया है.

#ब्रिटेन ने अपने यहां फंसे हुए विदेशी नागरिकों का वीजा 31 जुलाई तक बढ़ाया
ब्रिटेन ने शुक्रवार को कोरोना वायरस महामारी के चलते अपने देश वापस नहीं जा पा रहे भारतीयों समेत उन सभी विदेशी नागरिकों का वीजा 31 जुलाई तक बढ़ाने का ऐलान किया, जिनकी अवधि खत्म हो चुकी है या खत्म होने वाली है. इससे पहले 31 मई तक वीजा बढ़ाने का ऐलान किया गया था, लेकिन अब इसे दो और महीने के लिये बढ़ा दिया गया है. इस फैसले से उन विदेशी नागरिकों को राहत मिलेगी जिनका वीजा 24 जनवरी के बाद खत्म हो गया था और वे यात्रा पाबंदियों के चलते अपने देश नहीं लौट पाए हैं.

ब्रिटेन की गृह मंत्री प्रीति पटेल ने कहा, 'वीजा की अवधि बढ़ाकर, हमने उन्हें मानसिक सुकून प्रदान किया कि अगर वे अपने देश वापस नहीं जा पा रहे हैं तो जुलाई के अंत तक ब्रिटेन में रह सकते हैं. ब्रिटेन के गृह मंत्रालय ने कहा कि यह राहत उन लोगों के लिये है जो 31 जुलाई से पहले अपने घर जाने की स्थिति में नहीं है. इसके अलावा उन लोगों को जो कि ब्रिटेन में अस्थायी वीजा पर रह रहे हैं, उन्हें सुरक्षित वापसी सुनिश्चित होते ही अपने देश रवाना होना होगा.

#भारतवंशी दंपति ने पीपीई किट पर ब्रिटेन सरकार को अदालत में दी चुनौती
ब्रिटेन में कोरोना वायरस महामारी के दौरान राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा (एनएचएस) में काम करने वाले स्वास्थ्यकर्मियों के लिए पीपीई किट के इस्तेमाल संबंधी सरकार के निर्देश को भारतवंशी डॉक्टर दंपति ने अदालत में चुनौती देने का फैसला किया है. डॉ. निशांत जोशी और उनकी पत्नी डॉ मीनल विज ने पिछले महीने कानूनी प्रक्रिया शुरू करते हुए ब्रिटेन के स्वास्थ्य और सामाजिक देखभाल विभाग तथा लोक स्वास्थ्य इंग्लैंड से जवाब मांगा था. सरकार की तरफ से उचित जवाब नहीं मिलने पर उन्होंने बृहस्पतिवार को लंदन में उच्च न्यायालय में मामला ले जाने का फैसला किया.

दंपति ने कहा, 'एक महीने पहले हमने कुछ सामान्य से सवाल पूछे थे और (ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री) मैट हैंकॉक से सही-सही जवाब देने की उम्मीद की थी. उस वक्त तक 100 से ज्यादा स्वास्थ्यकर्मियों और कार्यकर्ताओं की मौत हो चुकी थी.' उन्होंने कहा, 'हमारे सामने शोक संतप्त परिवारों के सवाल आए. कई लोगों ने पीपीई किट के बारे में और व्यवस्थागत नाकामी के बारे में पूछा. वे सदमे में हैं और जवाब के हकदार हैं .' उन निर्देशों को चुनौती दी गयी है जिसके तहत स्वास्थ्यकर्मियों और देखभाल के कार्य में जुटे कर्मियों को पीपीई किट का इस्तेमाल कम करने और कुछ पीपीई किट का फिर से इस्तेमाल करने को कहा गया है.

#डेनमार्क के अध्ययन के मुताबिक देश की 1.8 प्रतिशत आबादी में रहा होगा वायरस
डेनमार्क में कोरोना वायरस के प्रसार का खाका तैयार कर रही डेनिश सरकार की एक एजेंसी ने कहा है कि उसके अध्ययन के शुरुआती परिणामों के मुताबिक देश की 58 लाख की आबादी में से 0.5 से लेकर 1.8 प्रतिशत लोगों में कोरोना वायरस का संक्रमण रहा होगा. स्टेटन्स सीरम इंस्टीट्यूट या एसएसआई ने कहा कि डेनमार्क के पांच शहरों से बीच बीच में से चुने गए 2,600 लोग जिनका एंटीबॉडी परीक्षण किया गया, उन पर किए गए अध्ययन के आंकड़ों का 'बेहद सावधानी से अर्थ निकाला जाना चाहिए.'

एसएसआई अध्ययन करने वाले परियोजना समूह के अगुवा स्टीन इथलबर्ग ने कहा, 'इसके अलावा, इन आंकड़ों को डेनमार्क की संपूर्ण आबादी के प्ररिप्रेक्ष्य में देखा जाना चाहिए या नहीं, यह इस बात से भी प्रभावित हो सकता है कि संक्रमण के विभिन्न स्वरूपों वाले समूह परीक्षण की पेशकश को चुनते हैं या नहीं.' उन्होंने कहा कि ये परिणाम 'अध्ययन का पहला उपलब्ध कराया गया हिस्सा है' और अधिक परिणाम आने वाले हफ्तों में सामने आ सकते हैं. उन्होंने कहा कि सही तस्वीर समझने के लिए 6,000 लोगों की 'जांच करनी होगी ताकि देश भर के हिसाब से वांछित स्पष्टता मिल सके.'

#चीन ने कोविड-19 संकट के कारण तय नहीं किया वार्षिक जीडीपी लक्ष्य
चीन में कोरोना वायरस वैश्विक महामारी के कारण अटका संसद का वार्षिक सत्र शुक्रवार को शुरू हो गया और सरकार ने इस बीमारी से पैदा हुई अनिश्चितताओं, चीन तथा वैश्विक अर्थव्यवस्थाओं में मंदी और अंतरराष्ट्रीय व्यापार में गिरावट का हवाला देते हुए इस साल के लिए जीडीपी (सकल घरेलू उत्पाद) का लक्ष्य तय नहीं किया. कोरोना वायरस महामारी की पृष्ठभूमि में अभूतपूर्व सुरक्षा के बीच ग्रेट हॉल ऑफ पीपुल में करीब 2,900 सदस्यों के साथ नेशनल पीपुल्स कांग्रेस (एनपीसी) सत्र शुक्रवार सुबह शुरू हुआ. इस जानलेवा विषाणु से चीन में 4,634 लोगों की मौत हुई जिनमें से ज्यादातर मौतें वुहान में हुई. चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग (एनएचसी) के मुताबिक बृहस्पतिवार तक चीन में कोविड-19 के मामले 82,971 पर पहुंच गए इनमें से 82 मरीजों का अब भी अस्पतालों में इलाज चल रहा है. चीन के प्रधानमंत्री ली केकियांग ने एनपीसी को सौंपी 23 पन्नों की कार्य रिपोर्ट में कहा, 'मैं यह बताना चाहूंगा कि हमने इस साल आर्थिक वृद्धि के लिए कोई विशिष्ट लक्ष्य तय नहीं किया है.'

#आगामी तीन दिन आधा झुका रहेगा अमेरिकी राष्ट्रीय ध्वज
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि कोरोना वायरस महामारी के कारण देश में 95,000 से भी अधिक लोगों की मौत हो जाने के शोक में अमेरिकी राष्ट्रीय ध्वज आगामी तीन दिन तक आधा झुका रहेगा. ट्रंप ने बृहस्पतिवार को ट्वीट किया, 'मैं कोरोना वायरस के कारण जान गंवा चुके अमेरिकियों की याद में सभी संघीय इमारतों और राष्ट्रीय स्मारकों पर तीन दिन तक ध्वज आधे झुकाए जाने का आदेश दे रहा हूं.' उन्होंने कहा कि ध्वज देश के लिए जान कुर्बान करने वाले जवानों की याद में मनाए जाने वाले स्मृति दिवस तक आधे झुके रहेंगे. उल्लेखनीय है कि डेमोक्रेटिक नेताओं ने अनुरोध किया था कि इस संक्रमण से एक लाख लोगों की मौत होने पर शोक दिवस मनाया जाए. प्रतिनिधि सभा की अध्यक्ष नैंसी पेलोसी और सीनेटर चक शूमर ने ट्रम्प को पत्र लिखकर यह अनुरोध किया था.
यह भी पढ़ें:

साल के शुरू में हुआ था दो बड़े Neutron तारों का टकराव, अब पता चला कैसे

खगोलविदों को मिली दुर्लभ तस्वीरें, पता चला कैसे पैदा होते हैं ग्रह

क्या सूरज की खामोशी लाएगी पृथ्वी पर हिम युग', नासा वैज्ञानिकों ने दिया जवाब

मिल गया पृथ्वी पर दूसरा ब्रह्माण्ड, क्यों कह रहे हैं नासा के वैज्ञानिक ऐसा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 23, 2020, 6:57 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading