कोरोना मरीज ग्रेग हॉस्पिटल में रहे दो महीने, काटनी पड़ी हाथों की ज्यादातर उंगलियां

कोरोना मरीज ग्रेग हॉस्पिटल में रहे दो महीने, काटनी पड़ी हाथों की ज्यादातर उंगलियां
ग्रेग गारफील्ड कोरोना को मात देने के बाद अपने परिजनों के साथ

लॉस एंजिल्स के ग्रेग गारफील्ड (Graig Garfield) कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए. उन्हें दो महीने तक हॉस्पिटल में दाखिल रहना पड़ा. इस शख्स के हाथों के ज्यादातर उंगलियां (Cut Fingers) काटनी पड़ी.

  • Share this:
लॉस एंजिल्स. कोरोना काल (Coronavirus) के इस सात महीने में दुख, दर्द और हैरान करने वाली कथाएं सामने आ रही हैं. ऐसा ही एक किस्सा अमेरिका के लॉस एंजिल्स से सामने आया है. लॉस एंजिल्स के ग्रेग गारफील्ड (Graig Garfield) कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए. वे इतने गंभीर रूप से बीमार हो गए कि उन्हें दो महीने तक हॉस्पिटल में दाखिल रहना पड़ा. इस शख्स के हाथों के ज्यादातर उंगलियां (Cut Fingers) काटनी पड़ी.

54 वर्ष के हैं ग्रेग गारफील्ड

इस वायरस से बीमार होने के बाद 54 वर्षीय ग्रेग 2 महीने तक हॉस्पिटल में भर्ती रहे. अमेरिका के लॉस एंजिल्स के रहने वाले इस शख्स के हाथों की उंगलियां खराब हो गईं और डॉक्टरों को अंतत: ग्रेग के हाथों की ज्यादातर उंगलियां काटनी पड़ीं.



इटली की यात्रा के दौरान संक्रमित हो गए थे ग्रेग
ग्रेग गारफील्ड कोरोना महामारी के शुरुआती दिनों में ही संक्रमित हो गए थे. इटली की एक ट्रिप के दौरान ग्रेग और उनके कुछ दोस्त कोरोना पॉजिटिव हो गए थे. अमेरिका आने के बाद वह बीमार पड़ गए थे. सामान्य तौर पर दो या तीन हफ्तों में कोरोना बीमारी से जूझ रहे लोगों को अस्पताल से छुट्टी मिल जाती है पर ग्रेग की इस मामले में किस्मत अच्छी नहीं रही और वे धीरे-धीरे गंभीर होते गए. किस्मत अच्छी थी वे किसी तरह से बच गए अन्यथा डॉक्टरों की भी उम्मीद कम हो रही थे.

ये भी पढ़ें: दक्षिण चीन सागर पर चीन के दावों पर भड़का अमेरिका, कहा-यहा उसका साम्राज्य नहीं

सलाद खाने से 600 लोग हुए बीमार, ये मरीज एक महीने तक रह सकते हैं परेशान

उत्तर कोरिया में अब कोरोना वायरस की दस्तक, पहला केस मिलने पर सीमा के पास लगाया लॉकडाउन

मूसलाधार बारिश से भारत-नेपाल-भूटान-बांग्लादेश के 40 लाख बच्चे प्रभावित: यूनिसेफ

डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ उबल रहा है अमेरिका, इन शहरों में हुए जोरदार प्रदर्शन

नॉर्वे में तापमान का 41 साल पुराना रिकॉर्ड टूटा, 21.7 डिग्री हुआ तापमान

अमेरिका के एक हॉस्पिटल में कोरोना के पहले मरीज के तौर पर ग्रेग को भर्ती किया गया था. 48 घंटे में ही उनकी हालत बिगड़ गई थी और उन्हें वेंटिलेटर पर रखना पड़ा. डॉक्टर ने उनके बचने का अनुमान महज 1 फीसदी लगाया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading