चीन के बाद कोरोना वायरस के संक्रमण से ईरान में कोहराम, अब तक 15 लोगों की मौत

चीन के बाद ईरान से दुनिया को कोरोना वायरस के संक्रमण का सबसे बड़ा खतरा हो सकता है

चीन के बाद ईरान में कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं

  • Share this:
    चीन के घातक कोरोना-वायरस की चपेट में बड़ी तेजी से दूसरे देश आते जा रहे हैं. चीन के बाद अब ईरान में कोरोना-वायरस से सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं. ईरान में मरने वालों की तादाद 15 पहुंच चुकी है. ईरान में राजधानी तेहरान समेत पांच शहरों में कोरोना वायरस का संक्रमण फैला है. सबसे ज्यादा क्वोम शहर में लोग कोरोना वायरस से संक्रमित बताए गए हैं.

    रविवार को क्वोम शहर में संसदीय चुनाव का मतदान था. मतदान में शामिल होने के लिए लोग घरों से निकले और लोगों में कोरोना वायरस का संक्रमण फैलता चला गया. हालांकि इस बार केवल 42 फीसदी लोगों ने ही मतदान किया. लेकिन ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्लाह ख़मेनई ने मतदान को शानदार बताया. वहीं रूहानी ने कहा कि लोगों में कोरोना वायरस का डर पैदा कर उन्हें मतदान से दूर करने की कोशिश की गई. लेकिन ये कहा जा रहा है कि मतदान ने कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलाने का काम किया.

    इस वक्त ईरान में जिस तरह से कोरोना वायरस के संक्रमण के मामले आए हैं उनके मुकाबले मौत का आंकड़ा सबसे ज्यादा है. चीन के बाद ईरान में कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं. अभी तक ईरान में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल 35 मामले सामने आए हैं जिसमें 12 लोगों की मौत हो गई है. यहां तक कि तेहरान के मेयर भी कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए हैं.

    ईरान के सामने कोरोना वायरस के रूप में सबसे मुश्किल चुनौती है. दरअसल एक तरफ वो अंतर्राष्ट्रीय प्रतिबंधों का सामना कर रहा है तो दूसरी तरफ स्वास्थ सुविधाओं के मामले में ईरान के हालात बेहद कमज़ोर हैं. ऐसे में चीन के बाद पूरी दुनिया में कोरोना वायरस के फैलने के लिए ईरान असुरक्षित जगह हो सकती है. दुनिया में ईरान की वजह से कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज़ों के फैलने का खतरा बढ़ गया है.

    ईरान में क्वोम शहर फिलहाल कोरोना वायरस के संक्रमण का केंद्र है. क्वोम शहर से ही कई लोग अफगानिस्तान, कुवैत,बहरीन, लेबनान, कनाडा, इराक और कुवैत गए हैं. ऐसे में संक्रमण की एक दहशत किसी बड़ी आशंका का खौफ़ पैदा कर रही है. यही वजह है कि इराक और पाकिस्तान ने ईरान से लगी अपनी सीमाओं को फिलहाल बंद कर दिया है.

    वहीं ईरान सरकार ने एक महत्वपूर्ण ऐलान करते हुए कहा है कि वो कोरोना वायरस के मामलों में आंकड़ों को लेकर पारदर्शिता रखेगी. साफ है कि ईरान मौत के आंकड़ों के साथ हेरफेर नहीं करने का भरोसा दिला रहा है जबकि कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर इरान में हाल ही में 50 मौतों का दावा भी किया गया था जिसे ईरान सरकार ने खारिज़ कर दिया था.

    ईरान में कोरोना वायरस के संक्रमण से पहली मौत 19 फरवरी को हुई थी. लेकिन एक सप्ताह के भीतर ही इस वायरस से संक्रमित मरीज़ों की तादाद में बड़ी तेज़ी से इज़ाफ़ा हुआ. ऐसे में ये आशंका जताई जाने लगी है कि दुनिया के लिए चीन के बाद ईरान सबसे बड़ा खतरा बन चुका है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.