लाइव टीवी

सिर्फ कल दुनिया भर में कोरोना के 41332 नए केस मिले, 1875 लोगों की मौत हुई, भारत में 103 नए केस

News18Hindi
Updated: March 24, 2020, 11:37 AM IST
सिर्फ कल दुनिया भर में कोरोना के 41332 नए केस मिले, 1875 लोगों की मौत हुई, भारत में 103 नए केस
दुनिया भर में 3,80,000 से ज्यादा लोग कोरोना संक्रमण के शिकार हुए.

कोरोना संक्रमण से हो रही मौतों में इटली ने चीन को भी काफी पीछे छोड़ दिया है. सिर्फ कल के दिन इटली में इस संक्रमण से 601लोगों की मौत हो गयी जिससे इस देश में कुल मौतों कि संख्या बढ़कर 6077 हो गयी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 24, 2020, 11:37 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दुनिया के 195 से ज्यादा देशों में कोरोना वायरस (Coronavirus) अपनी पहुंच बना चुका है और 381000 से ज्यादा लोग अभी तक इस संक्रमण के शिकार हो चुके हैं. सोमवार का दिन कोरोना संक्रमण के मामले में काफी घातक साबित हुआ और दुनिया भर में इसके 41332 मामले सामने आए. इतना ही नहीं सिर्फ कल के दिन में इस संक्रमण से दुनिया भर में 1875 लोगों की मौत भी हो गयी. बता दें कि कोरोना से संक्रमित 12000 से ज्यादा लोगों की हालत अब भी नाजुक है और वे सभी इंटेंसिव केयर (ICU) में भर्ती हैं.

अमेरिका में सबसे ज्यादा नए केस और इटली में सबसे ज्यादा मौतें
अमेरिका के लिए सोमवार का दिन काफी खराब साबित हुआ और तमाम उपायों के बावजूद यहां 10168 नए केस दर्ज किया गए. 6368 नए केस के साथ स्पेन दूसरे और 4789 नए केस के साथ इटली तीसरे नंबर पर रहा. सोमवार को जर्मनी में भी 4183, फ्रांस में 3838, ईरान में 1411, स्विट्जरलैंड में 1321 और ब्रिटेन में 967 नए मामले सामने आए.

उधर कोरोना संक्रमण से हो रही मौतों में इटली ने चीन को भी काफी पीछे छोड़ दिया है. सिर्फ कल के दिन इटली में इस संक्रमण से 601लोगों की मौत हो गयी जिससे इस देश में कुल मौतों कि संख्या बढ़कर 6077 हो गयी है. सोमवार का दिन स्पेन के लिए भी बुरा रहा और यहां 539 लोगों की इस संक्रमण से मौत हो गयी जबकि कुल मौतों का आंकड़ा बढ़कर 2311 पहुंच गया है. सोमवार को अमेरिका में भी 140, फ्रांस में 186 और ईरान में 127 लोगों की मौत हो गयी. इसके बाद दुनिया भर में इस संक्रमण से होने वाली मौतों का आंकड़ा बढ़कर 16500 से ज्यादा हो गया है.



ट्रंप ने जारी की अपील, कहा- एशियाई मूल के लोगों को परेशान न करें
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की ओर से 'चीनी वायरस' वाली टिप्पणी किए जाने पर विवाद खड़ा होने के बाद उन्होंने एशियाई मूल के अमेरिकियों की सुरक्षा का आह्वान किया है. ट्रंप ने सोमवार को ट्विटर पर लिखा, 'यह बहुत आवश्यक है कि हम अमेरिका और पूरे विश्व में हमारे एशियाई अमेरिकी समुदाय की पूरी तरह रक्षा करें.' उन्होंने कहा, 'वे शानदार लोग हैं और वायरस के फैलने में उनका कोई दोष नहीं है. वे इससे छुटकारा दिलाने में हमारे साथ काम कर रहे हैं. हम साथ मिलकर जीत हासिल करेंगे.'

कोरोना वायरस को 'चीनी वायरस' कहने पर ट्रंप पर नस्लभेद के आरोप लगे थे जिसे लेकर पिछले हफ्ते उन्होंने गुस्सा जाहिर किया था हालांकि सोमवार को उनके लहजे में नरमी दिखी. एशियाई अमेरिकी कार्यकर्ताओं ने वैश्विक महामारी के सामने आने के बाद से भेदभाव की घटनाओं में इजाफा होने की जानकारी दी है. इन घटनाओं में न्यूयॉर्क सबवे में एक महिला को पीटा जाना भी शामिल है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) इस तरह की शब्दावली (चीनी वायरस) के प्रयोग को स्वीकार नहीं करता है. उसका कहना है कि यह किसी समुदाय को कलंकित करता है और दूसरों को भ्रम में डाल सकता है कि वे संक्रमित नहीं हो सकते.

 

ये भी पढ़ें:-

सामने आई कोरोना वायरस की सबसे बड़ी कमजोरी, इन 15 तरीकों से होगा बचाव

सबसे बड़ी बुजुर्ग आबादी वाले जापान का हाल क्यों इटली सरीखा नहीं हुआ

कोरोना के इलाज में ये है ट्रंप की पसंदीदा दवा, दुनियाभर में हो रही है लोकप्रिय

कोरोना वायरस से मरने वालों का नहीं हो पा रहा है अंतिम संस्कार, वेटिंग लिस्ट में हैं लाशें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अमेरिका से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 24, 2020, 11:35 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर