ईरान में कोरोना संक्रमण से 75 और लोग मारे गए, मृतकों की संख्या बढ़कर 429 हुई

ईरान में कोरोना संक्रमण से 75 और लोग मारे गए, मृतकों की संख्या बढ़कर 429 हुई
वुहान से वापस आने वाले लोग अपने लौटने के फैसले पर अब अफसोस जाहिर कर रहे हैं.

कोरोना वायरस से बुरी तरह प्रभावित ईरान ने 1962 के बाद पहली बार आईएमएफ से कर्ज मांगा. ईरान में कोरोना संक्रमण के 1000 से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं जिससे कोरोना पीड़ितों का आंकड़ा 10000 पार गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 12, 2020, 5:19 PM IST
  • Share this:
तेहरान. ईरान (Iran) में कोरोना वायरस (Coronavirus) या Covid-19 के मामले लगातार सामने आ रहे हैं. नई जानकारी के मुताबिक ईरान में कोरोना से संक्रमित 75 और लोगों की मौत हो गई है जिसके बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 429 को गयी है. कोरोना वायरस से बुरी तरह प्रभावित ईरान ने 1962 के बाद पहली बार आईएमएफ (IMF) से कर्ज मांगा. ईरान में कोरोना संक्रमण के 1000 से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं जिससे कोरोना पीड़ितों का आंकड़ा 10000 पार गया है.

स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता कियानौश जहांपोर ने मीडिया को संबोधित करते हुए बताया कि 1000 से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं जो कि गंभीर स्थिति की तरफ इशारा कर रहा है. हमने IMF समेत अपने सभी मित्र राष्ट्रों से मदद की अपील की है. सिर्फ पिछले 24 घंटे में ही 75 और लोगों की मौत हो गयी है. ईरान में इस महामारी की रोकथाम के लिए मास्क, सैनिटाइजर और दवाइयों की भारी कमी है. हालांकि अधिकाधिक प्रयोगशालाओं को उपयोग में लाने के बाद रोगियों की पुष्टि करने की क्षमता में इजाफा हुआ है.

मदद के लिए पहुंचा चीन का दल
अपने देश में सफलतापूर्वक कोरोना के मामलों को काबू में लाने के बाद चीन का एक दल ईरान की मदद के लिए तेहरान पहुंचा है. उधर कोरोना की रोकथाम के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन ने अन्य देशों को चीन से सीखने की नसीहत दी थी. बता दें कि इस दल में पांच विशेषज्ञों को शामिल किया गया है. जिन्हें संयुक्त रूप से चीनी रेड क्रॉस एसोसिएशन, चीनी सी.डी.सी. और शंघाई शहर द्वारा भेजा गया है.
चीन ने कहा-सबसे बुरा दौर गुजर गया है


उधर चीन के नेशनल हेल्थ कमीशन ने गुरूवार को कोरोना वायरस के 'सबसे बुरे' दौर के गुजर जाने की घोषणा कर दी है. हेल्थ कमीशन के प्रमुख मी फेंग ने एक प्रेस कांफ्रेंस में इसकी घोषणा करते हुए कहा कि अब सब कंट्रोल में है और घबराने की ज़रुरत नहीं है. हालांकि वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन के कोरोना वायरस संक्रमण को एक महामारी घोषित कर दिया है.

ये भी पढ़ें :

कोरोना का आइसोलेशन नया नहीं, ये जीव भी बीमार होने पर रहने लगता है अलग

कपड़े पर 9 घंटे और मोबाइल पर 9 दिन तक जिंदा रह सकता है कोरोना वायरस

कोरोना वायरस: एकदूसरे से मिलने पर अभिवादन के तौर-तरीके बदल रहे दुनिया भर के देश

 

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज