कोरोना को 'मामूली फ्लू' बताने वाले ब्राजील के राष्ट्रपति बोलसोनारो भी पॉजिटिव, नहीं पहनते थे मास्क

कोरोना को 'मामूली फ्लू' बताने वाले ब्राजील के राष्ट्रपति बोलसोनारो भी पॉजिटिव, नहीं पहनते थे मास्क
ब्राजील के राष्ट्रपति जैर बोलसोनारो Photo: Reuters

जैर बोलसोनारो (Jair Bolsonaro) तक भी कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) पहुंच गया है और वे मंगलवार को संक्रमित पाए गए हैं. तेज़ बुख़ार और कोरोना संक्रमण के दूसरे लक्षण पाए जाने के बाद सोमवार को चौथी बार उनका कोरोना टेस्ट किया गया था.

  • Share this:
रियो. ब्राजील (Brazil) के राष्ट्रपति जैर बोलसोनारो (Jair Bolsonaro) तक भी कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) पहुंच गया है और वे मंगलवार को संक्रमित पाए गए हैं. तेज़ बुख़ार और कोरोना संक्रमण के दूसरे लक्षण पाए जाने के बाद सोमवार को चौथी बार उनका कोरोना टेस्ट किया गया था. बता दें कि बोलसोनारो ने कोरोना (Covid-19) को 'मामूली फ्लू' बताया था साथ ही वे लगातार मास्क पहनने की अनिवार्यता और सोशल डिस्टेंसिंग के विरोध में रैलियां भी निकाल रहे थे.

पॉजिटिव पाए गए बोलसोनारो ब्राजील में लॉकडाउन लागू करने के सबसे बड़े विरोधी रहे हैं. जानकारों के मुताबिक ब्राजील में संक्रमण के बारे में उनकी फैलाई गैर-तथ्यात्मक बातों के चलते ही स्थिति इतनी ख़राब हो गयी है. बोलसोनारो ने प्रांतीय गवर्नरों से भी अपील की कि वो लॉकडाउन में राहत दें क्योंकि इसका बुरा असर देश की अर्थव्यवस्था पर पड़ेगा. इसी सप्ताह सोमवार को उन्होंने मास्क लगाने से जुड़े नियमों में बदलाव किया था जो कि काफी चौंकाने वाला फैसला था. बोलसोनारो ने ब्राज़ील में सार्वजनिक जगहों पर मास्क पहनने को अनिवार्य कर दिया था जबकि इससे पहले कोरोना से जुड़े स्थानीय नियमों का उल्लंघन करते हुए बिना मास्क के वे कई सार्वजनिक आयोजनों में शरीक हो चुके थे.

कई और नेताओं के भी हुए टेस्ट
रविवार को देश के विदेश मंत्री अर्नेस्टो अराउजो ने सोशल मीडिया पर एक तस्वीर पोस्ट की थी जिसमें वो राष्ट्रपति बोलसोनारो और दूसरे नेताओं के साथ हैं. ब्रीसिलिया में मौजूद अमरीकी दूतावास में ली गई इस तस्वीर में साफ देखा जा सकता है कि किसी भी नेता ने न तो मास्क पहना है न ही सोशल डिस्टेन्सिंग के ही नियमों का पालन किया गया है. हालांकि बोलसोनारो ने अपने कोरोना पॉज़िटिव होने की जानकारी प्रेस कांफ्रेंस करके दी और उनके इस कांफ्रेंस में सोशल डिस्टेंसिंग के प्रावधानों का पालन नहीं किया गया था, जिसको लेकर ब्राज़ीली सोशल मीडिया पर लोग कमेंट भी कर रहे हैं. इसी साल 11 मार्च में बोलसोनारो ने कहा था कि, "जितना मैं अब तक समझ पाया हूं कोरोना वायरस की बजाय कई तरह के दूसरे फ्लू हैं जिसकी वजह से अधिक लोगों की मौत हुई है."



कहा था, मुझे संक्रमण की परवाह नहीं
बता दें कि बीते अप्रैल में उन्होंने कहा था कि 'अगर उन्हें कोरोना संक्रमण हुआ भी तो उन्हें इसकी परवाह नहीं होगी क्योंकि अधिक से अधिक उन्हें वैसा अनुभव होगा जैसा सर्दी जुकाम होने पर होता है.' उनके इसी रवैये के चलते ब्राजील के कई हिस्सों में पूरी तरह लॉकडाउन नहीं हुआ और उनके समर्थक लगातार रैलियां करते रहे और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का भी पालन करते नज़र नहीं आए. अब कोरोना संक्रमण के मामले में ब्राज़ील दुनिया में दूसरे नंबर पर है. जॉन्स हॉप्किन्स यूनिवर्सिटी के डैशबोर्ड के अनुसार यहां कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या अब 1,623,284 हो गई है जबकि 65 हज़ार से अधिक लोगों की मौत इस कारण हुई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading