अमेरिका में 24 घंटों में आए कोरोना के डेढ़ लाख केस, 1600 लोगों की हुई मौत

अमेरिका में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं.
अमेरिका में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं.

वेबसाइट वर्ल्डोमीटर के मुताबिक, अमेरिका में एक बार फिर कोरोना (Coronavirus Cases in America) की रफ्तार तेज होती दिखाई दे रही है. पिछले 24 घंटों में कोरोना से 1600 लोगों की मौत हुई है, जिसके बाद देश में अब तक कोरोना से होने वाली मौत का आंकड़ा दो लाख, 47 हजार, 397 हो चुका है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 12, 2020, 8:35 AM IST
  • Share this:
Coronavirus Case in America: कोरोना का कहर एक बार फिर दुनियाभर में तेजी से फैलने लगा है. पूरी दुनिया में कोरोना का सबसे ज्यादा असर एक बार फिर अमेरिका में देखने को मिल रहा है. अमेरिका में पिछले 24 घंटे में कोरोना के डेढ़ लाख से ज्यादा मामले सामने आए हैं जबकि 1600 लोगों की मौत हुई है. नए मामले सामने आने के बाद देश में कोरोना से संक्रमित होने वाले मरीजों की संख्या 1 करोड़ 70 लाख 8 हजार सात हो गई है.

वेबसाइट वर्ल्डोमीटर के मुताबिक, अमेरिका में एक बार फिर कोरोना की रफ्तार तेज होती दिखाई दे रही है. पिछले 24 घंटों में कोरोना से 1600 लोगों की मौत हुई है, जिसके बाद देश में अब तक कोरोना से होने वाली मौत का आंकड़ा दो लाख, 47 हजार, 397 हो चुका है. अमेरिका में इस वक्त 38 लाख 11 हजार 931 एक्टिव केस हैं जबकि 66 लाख 48 हजार 679 लोग ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं.

अमेरिका में तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए अंदाजा लगाया जा रहा है कि कोरोना से लड़ने के लिए तैयार की गई फाइजर कोरोना वैक्सीन को जल्द ही मंजूरी मिल सकती है. अमेरिका में अगले महीने से देश में कोरोना वैक्सीन लोगों तक पहुंचाने का काम शुरू किया जाएगा.

कोरोना वैक्सीन बनाने वाली कंपनी फाइजर और बायोएनटेक ने बताया है हमारी वैक्सीन कोरोना पर काफी करगर साबित हुई है. हमने जिन मरीजों को इस वैक्सीन का परीक्षण किया है उनमें वैक्सीन 90 प्रतिशत से अधिक प्रभावी साबित हुई है. अमेरिका में संघीय सरकार ने जुलाई में फाइजर के साथ कोरोना वैक्सीन की 60 करोड़ खुराक के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए थे.



इसे भी पढ़ें : अमेरिका में 24 घंटों में आए कोरोना के 2 लाख नए केस, एंटीबॉडी दवा के इमरजेंसी इस्तेमाल की मिली मंजूरी

हम थक सकते हैं वायरस नहीं- WHO
इस बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के प्रमुख टेड्रोस एडहोम घेब्येयियस ने कोरोना वायरस को लेकर लोगों को चेताया है. उन्होंने कहा कि इस महामारी से लड़ते हुए हम कमजोर हो सकते हैं लेकिन कोरोना हमसे नहीं थक रहा है. टेड्रोस ने अमेरिका राष्ट्रपति चुनाव में जो बाइडेन की जीत पर खुशी जताई. उन्होंने कहा कि उम्मीद है कि महामारी से लड़ने में वैश्विक सहयोग मिलेगा. उन्होंने लोगों को विज्ञान का अनुसरण करने और वायरस के प्रति आंख नहीं मूंदने का आग्रह किया. ट्रेडोस खुद कोरोना संक्रमित से संपर्क में आने के बाद क्वारंटाइन रहे हैं. उन्होंने चेतावनी दी कि वायरस कमजोर स्वास्थ्य वाले लोगों का शिकार करता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज