लाइव टीवी

कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या हुई 425, कुल मामले 20 हजार से ज्यादा

News18Hindi
Updated: February 4, 2020, 9:44 AM IST
कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या हुई 425, कुल मामले 20 हजार से ज्यादा
कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़ी

चीन (China) में फैले जानलेवा कोरोना वायरस (Coronavirus) से निपटने के लिए मात्र 10 दिन में बनाए गए विशिष्ट अस्पताल में सोमवार को मरीजों की भर्ती भी शुरू हो गयी. संक्रमण से मरने वालों की संख्या बढ़कर 425 हो गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 4, 2020, 9:44 AM IST
  • Share this:
बीजिंग. चीन में फैले घातक कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण मरने वालों की संख्या रुकने का नाम ही नहीं ले रही. अधिकारियों ने मंगलवार को इस बात की जानकारी दी कि संक्रमण से मरने वालों की संख्या बढ़कर 425 हो गई और इसके 20,438 मामलों की पुष्टि हुई है. चीन (China) में फैले जानलेवा कोरोना वायरस से निपटने के लिए मात्र 10 दिन में बनाए गए विशिष्ट अस्पताल में सोमवार को मरीजों की भर्ती भी शुरू हो गयी.

3500 के बीच था एक संक्रमित व्यक्ति
इस बीच, जापानी अधिकारी अभी यह तय करने में लगे हैं कि उस क्रूज़ पर सवार करीब 3500 लोगों को अलग रखना है या नहीं जिस पर सवार एक व्यक्ति इस वायरस से संक्रमित पाया गया है. अन्य देश लगातार यहां से अपने नागरिकों को वापस ले जा रहे हैं और चीनी नागरिकों या हाल ही में चीन की यात्रा करने वाले लोगों पर प्रतिबंध लगा रहे हैं.

WHO ने कहा, अभी और इजाफा होगा

चीन के वुहान शहर से ही इस वायरस की शुरुआत हुई है और यहां के लोगों के उपचार के लिए बनाए गए 1000 बिस्तरों वाले ह्यूओशेनशान अस्पताल में मरीजों का इलाज शुरू हो गया है. इसके अलावा 1500 बिस्तरों वाला एक अन्य अस्पताल भी जल्द ही काम करना शुरू कर देगा. विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कहा है कि मामलों में इजाफा होगा क्योंकि हजारों संदिग्ध मामलों में जांच के नतीजे आने अभी बाकी हैं.

अर्थव्यवस्था को भारी नुकसान
वायरस के कारण चीन की अर्थव्यवस्था को भी बड़ा झटका लगा है. न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक, कंपनियों को 2019 में 4 साल में सबसे कम मुनाफा हुआ है. जानकारों के मुताबिक अमेरिका से ट्रेड वॉर के चलते चीनी फैक्ट्रियों को करारा झटका लगा है. 30 साल की सबसे कमजोर आर्थिक दौर से गुजर रहे चीन में अब औद्योगिक कंपनियों के मुनाफे में भी बड़ी गिरावट देखने को मिली है. साथ ही, पिछले 30 दिन के दौरान चीन के शेयर बाजार में निवेशकों के 30 लाख करोड़ रुपये (42,000 करोड़ डॉलर) डूब चुके हैं.ये भी पढ़ें: क्या डेटॉल के इस्तेमाल से नहीं होता है कोरोना वायरस? कंपनी ने दी सफाई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 4, 2020, 9:43 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर