Coronavirus Lockdown News: कोरोना की दूसरी लहर से बांग्लादेश भी बेहाल, लगाया सात दिनों का संपूर्ण लॉकडाउन

बांग्लादेश में शुक्रवार को 6830 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए जबकि 50 लोगों की मौत हुई.

बांग्लादेश में शुक्रवार को 6830 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए जबकि 50 लोगों की मौत हुई.

Coronavirus In Bangladesh: भारत के पड़ोसी देश बांग्लादेश ने 7 दिनों के लिए देशव्यापी लॉकडाउन लगा दिया है. बांग्लादेश सरकार ने देशभर में 7 दिनों के लॉकडाउन में सिर्फ आपातकालीन सेवाओं को छूट है.

  • Share this:
नीरज कुमार
ढाका.
 कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते असरे के चलते पड़ोसी देश बांग्लादेश (Coronavirus In Bangladesh) में सोमवार से एक हफ्ते का संपूर्ण लॉकडाउन लगा दिया गया है. कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के कारण बांग्लादेश ने सोमवार, 5 अप्रैल से 7 दिनों के लिए दूसरी बार पूर्ण लॉकडाउन लगाया है. केवल आपातकालीन सेवाओं के लिए छूट दी गई है.

बांग्लादेश में कोरोना मामलों की संख्या लगातार बढ़ रही है और शुक्रवार को 6830 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए, जबकि 50 लोगों की मौत हुई. अब तक कोरोना से मरने वालों की संख्या बांग्लादेश में 9000 से अधिक हो गई है, बांग्लादेश में कोरोना का पहला मामला पिछले साल यानी 2020 में 8 मार्च को सामने आया था, जिसके करीब 2 हफ्ते बाद बांग्लादेश में संपूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की गई थी.

बांग्लादेश में कोरोना के बढ़ते मामलों की वजह से लॉकडाउन लगाया गया है और दूसरी बार संपूर्ण लॉकडाउन का मकसद कोरोना प्रसार को रोकना है. बांग्लादेश में हाल के दिनों में लगातार कोरोना मामलों की संख्या बढ़ी है इसीलिए शेख हसीना सरकार ने देश में दूसरी बार संपूर्ण लॉकडाउन लगाने का फैसला किया है. बांग्लादेश सरकार को उम्मीद है कि लॉकडाउन से कोरोना के खिलाफ सकारात्मक नतीजे को मिलेंगे.
महामारी के कारण गुरुवार को 59 और मरीजों की मौत


बता दें बांग्लादेश में गुरुवार को भी कोरोना वायरस संक्रमण के 6,469 नए मामले सामने आए थे. पिछले साल मार्च में महामारी शुरू होने के बाद से यह किसी एक दिन की सर्वाधिक संख्या थी. स्वास्थ्य सेवा महानिदेशालय (डीजीएचएस) ने एक बयान में बताया था कि महामारी के कारण 59 और मरीजों की मौत हो गयी. कोविड मामलों में वृद्धि को लेकर प्रधानमंत्री शेख हसीना ने संसद में एक बयान दिया और लोगों से अधिकतम सावधानी बरतने का आह्वान किया था.

हमें स्थिति को नियंत्रण में लाना होगा- हसीना
उन्होंने कहा, ‘हमें स्थिति को नियंत्रण में लाना होगा, हम वायरस पर काबू की कोशिश कर रहे हैं... लेकिन इस पर काबू के लिए लोगों की ओर से सहायता जरूरी है.' बांग्लादेश में कार्यालयों में कर्मचारियों की उपस्थिति को 50 प्रतिशत तक कम करने का आदेश दिया गया है. इसके अलावा सभी धार्मिक, सामाजिक, राजनीतिक और अन्य समारोहों पर रोक लगा दी गयी है.

गौर करने वाली बात है कि बांग्लादेश में कोरोना काल में दूसरी बार संपूर्ण लॉकडाउन लगाया है. इससे पहले 2020 के मार्च महीने में बांग्लादेश में लॉकडाउन लगाया गया था. कोरोना की वजह से साल 2021 में पहली बार बांग्लादेश में लॉकडाउन लगाया गया है. 2020 में 26 मार्च को बांग्लादेश में पहली बार कोरोना की वजह से लॉकडाउन लगाया गया था जो 2020 के मई महीने की 30 तारीख तक लागू था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज