दुनिया में कोरोना: रूस में ब्रिटेन से भी ज्यादा हुए संक्रमण के मामले

दुनिया में कोरोना: रूस में ब्रिटेन से भी ज्यादा हुए संक्रमण के मामले
रूस पूरी दुनिया में तीसरा सबसे ज्यादा संक्रमितों वाला देश बन गया है.

रूस (Russia) में कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमितों की संख्या ब्रिटेन से भी ज्यादा हो गई है. पूरी दुनिया में रूस तीसरा सबसे ज्यादा संक्रमितों वाला देश बन गया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. रूस (Russia), ब्राजील (Brazil), भारत (India) जैसे देशों को छोड़ दें तो दुनिया के ज्यादातर देशों में अब कोरोना संक्रमण (Coronavirus) के नए मामलों में कमी देखी जा रही है. सोमवार को दुनिया भर में संक्रमण (Covid-19) के 74,000 से ज्यादा नए केस सामने आए जिसके बाद कुल मामले बढ़कर 42,52,300 से ज्यादा हो गए. बीते 24 घंटे में संक्रमण से करीब 3400 लोगों ने जान गंवा दी जिसके बाद कुल मौतों की संख्या बढ़कर अब 2,87,130 पहुंच गयी है. एक तरफ अमेरिका (US), ब्रिटेन (UK) और इटली (Italy) में मामलों में कमी देखी जा रही है वहीं स्पेन (Spain) में लॉकडाउन हटने के बाद से संक्रमण के नए केसों में थोड़ा उछाल देखा गया है.

#यूके में कोरोना के चलते मरने वालों का आंकड़ा 40 हजार के पार
यूके में कोरोना वायरस की वजह से मौत का आंकड़ा 40 हजार के पार चला गया है. यूके में मौत का ये आधिकारिक आंकड़ा है. नए आधिकारिक आंकड़ों में करीब 10 हजार मौतें केयर होम्स में हुई हैं. द गार्जियन की एक रिपोर्ट के मुताबिक ऑफिस फॉर नेशनल स्टैटिसटिक्स की तरफ से कहा गया है कि मंगलवार तक इंग्लैंड और वेल्स में 35,044 मौतें दर्ज हुई हैं. अगर इस आंकड़े में स्कॉटलैंड और नॉर्दन आयरलैंड के मौत के आंकड़े को मिला दिया जाए तो मौत का कुल आंकड़ा 40 हजार के पार चला जाता है. यूके में कोरोना वायरस की वजह से 40,496 मौतें दर्ज हुई हैं.

#अमेरिका के संक्रामक रोग विशेषज्ञ की लॉकडाउन खोलने पर चेतावनी, बढ़ सकता है मौत का आंकड़ा
अमेरिका के शीर्ष संक्रामक रोग विशेषज्ञ डॉ एंथनी फॉसी ने चेतावनी देते हुए कहा है कि अर्थव्यवस्था को खोलने और लॉकडाउन हटाने की जल्दबाजी के गंभीर नतीजे भुगतने पड़ सकते हैं. डॉ फॉसी ने कहा कि ऐसा कोई भी कदम अमेरिका में बड़ी तादाद में मौत की वजह बन सकता है. अमेरिकी कांग्रेस की एक समिति के समक्ष कोरोना महामारी पर सरकार के प्रयासों को लेकर अपनी गवाही के दौरान डॉ फॉसी ने साफ शब्दों में चेतावनी दी कि अगर राज्यों और शहरों ने लॉकडाउन हटाने और अर्थव्यवस्था को खोलने में जल्दबाजी दिखाई तो इसके गंभीर दुष्परिणाम का सामना करना पड़ सकता है.



#113 साल की उम्र में कोरोना को मात देकर दुनिया की सबसे उम्रदराज़ महिला बनी स्पेन की बुजुर्ग
स्पेन की सबसे बुजुर्ग महिला ने कोरोनावायरस को मात देने का चमत्कार किया है. 113 साल की मारिया ब्रायंस ने कोविड 19 बीमारी से लड़कर न सिर्फ ज़िंदगी की जंग जीती बल्कि वो दुनिया की सबसे उम्रदराज़ महिला भी बन गईं जिसने कोरोनावायरस पर जीत हासिल की. मारिया ब्रायंस अप्रैल महीने में कोरोनावायरस से संक्रमित हो गई थीं. ब्रायंस को जब अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया तो स्टॉफ ने तालियां बजा कर उनको विदाई दी. कोविड 19 को लेकर विशेषज्ञों की ये समान राय है कि उम्रदराज़ लोगों में इसके संक्रमण का जोखिम ज्यादा रहता है. साथ ही उम्रदराज़ लोगों के ठीक होने की संभावना भी बेहद कम होती है.

#रूस में ब्रिटेन से भी ज्यादा हुए संक्रमण के मामले
रूस में कोरोना वायरस के संक्रमण के मामले ब्रिटेन से भी ज्यादा हो गए हैं. रूस अब पूरी दुनिया में तीसरा सबसे ज्यादा संक्रमितों वाला देश बन गया है. पिछले 24 घंटों के दौरान रूस में वायरस संक्रमण के 10,899 मामले सामने आए हैं. रूस में कोरोना के संक्रमितों की संख्या बढ़कर 2 लाख 23 हजार 243 हो गई है. रूस में कोरोना वायरस की वजह से 107 नई मौतें दर्ज हुई हैं. वहां मौत का कुल आंकड़ा 2,116 हो गया है. रूस में जैसे ही टेस्टिंग बढ़ाई गई है, संक्रमण के मामलों में तेजी आई है. संक्रमण के मामले में रूस से ऊपर स्पेन और अमेरिका ही रह गए हैं. स्पेन दूसरे नंबर पर है, जबकि अमेरिका में संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले दर्ज हुए हैं.

#कोरोना से संक्रमित हुए पुतिन के प्रवक्ता देमित्री पेस्कोव , मॉस्को के अस्पताल में हुए भर्ती
कोरोना महामारी से जूझ रहे रूस में संक्रमण तेजी से बढ़ता जा रहा है. अब मॉस्को में सत्ता के गलियारों में भी कोरोनावायरस अपनी दस्तक दे चुका है. क्रेमलिन के प्रवक्ता देमित्री पेस्कोव भी कोरोना पॉज़िटिव पाए गए हैं. RIA न्यूज़ एजेंसी के मुताबिक पेस्कोव कोरोना संक्रमित पाए गए हैं. देमित्री पेस्कोव को मॉस्को के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है. न्यूज़ एजेंसी TASS से बातचीत में देमित्री पेस्कोव ने कोरोना पॉज़िटिव पाए जाने की खबर की पुष्टि करते हुए कहा कि ये सही है कि वो बीमार हैं और अपना इलाज करा रहे हैं. साथ ही उन्होंने ये भी बताया कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से वो आखिरी बार एक महीने पहले मिले थे.

#महिला रेल कर्मचारी पर संक्रमित पैसेंजर ने थूका, कोरोना से हुई मौत
कोरोना वायरस की वजह से मौत का एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है. इसमें एक महिला ट्रेन वर्कर के ऊपर एक पैसेंजर ने थूक दिया था. थूकने वाले पैसेंजर ने कहा था कि वो कोरोना से संक्रमित है. अब कोरोना के चलते उस महिला ट्रेन वर्कर की मौत हो गई है. डेली मेल की एक रिपोर्ट के मुताबिक 47 साल की बेली मुजिंगा लंदन के विक्टोरिया स्टेशन पर काम करती थीं. मार्च महीने में उन्हें और उनकी एक और महिला सहयोगी को एक पैसेंजर ने निशाना बनाया. पैसेंजर ने दोनों के ऊपर थूक दिया था. इसके बाद पैसेंजर ने कहा था कि वो कोरोना से संक्रमित है. इसके कुछ दिनों बाद ही दोनों महिलाएं बीमार पड़ गईं.

#लॉकडाउन लगाने पर गवर्नर को मिल रही जान से मारने की धमकी, हथियारों के साथ होगी रैली
अमेरिका में लॉकडाउन लगाया जाना हर राज्य में एक बड़ा मुद्दा बना हुआ है. कई राज्यों में लॉकडाउन लगाने को लेकर लोगों ने विरोध प्रदर्शन किए हैं. लेकिन मिशिगन का मामला सबसे अलग है. मिशिगन में लॉकडाउन लगाए जाने को लेकर लोग इतने बौखलाए हुए हैं कि कुछ लोगों ने मिशिगन की गवर्नर ग्रेटचेन व्हिटमर को जान से मारने की धमकी तक दे डाली है. फेसबुक पर उनकी हत्या की प्लानिंग की जा रही है. मिशिगन की गवर्नर ग्रेटचेन व्हिटमोर को जान से मारने वाली दर्जनों धमकियां मिली हैं. लॉकडाउन के विरोध में यहां दर्जनों फेसबुक पेज बने हुए हैं. एक इसी तरह के फेसबुक पेज से भी गवर्नर को जान से मारने की धमकी मिली है. इस फेसबुक पेज से करीब 4 लाख सदस्य हैं. इस पेज ने आने इसी हफ्ते हथियारों से लैस एक रैली की प्लानिंग भी कर रखी है.

#कोरोना से उबरे ब्रिटेन के पीएम जॉनसन ने कहा, वैक्सीन बनने की कोई पक्की गारंटी नहीं
दुनिया के तमाम देश कोरोनावायरस की वैक्सीन तैयार करने की कोशिश में जुटे हुए हैं. इज़राइल और इटली जैसे देश वैक्सीन बनाने का दावा भी कर रहे हैं. जबकि इसी बीच ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कोरोना महामारी को लेकर बहुत बड़ा बयान दिया है. पीएम जॉनसन ने ब्रिटेन की जनता को आगाह करते हुए कहा कि कोरोना की वैक्सीन को तैयार होने में एक साल से ज्यादा का वक्त भी लग सकता है और बहुत बुरी स्थिति में ये भी संभव है कि वैक्सीन बन ही न पाए. पीएम जॉनसन ने साफ कर दिया कि वैक्सीन की कोई गारंटी नहीं है.

#चीन को अलग-थलग करने की रणनीति, माइक पॉम्पियो ने भारत समेत 7 देशों के विदेशमंत्रियों से की बात
अमेरिका के विदेशमंत्री माइक पॉम्पियो ने कोरोना वायरस को लेकर 7 देशों के विदेशमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस कर बात की है. इन देशों में भारत, इजरायल और साउथ कोरिया शामिल हैं. करीब 75 मिनट के वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में अमेरिकी विदेशमंत्री माइक पॉम्पियो ने सोमवार शाम को कोरोना वायरस की महामारी, इसकी वजह से अर्थव्यवस्था पर पड़ने वाले बुरे असर और आगे आने वाले वक्त को लेकर चर्चा की. इस वीडियो कॉन्फ्रेंस को एक्सपेरिमेंटल ऑनलाइन डिप्लोमेसी कहा जा रहा है. इसमें विभिन्न देशों के बीच सप्लाई चेन में पैदा हुई अड़चन को लेकर भी बात हुई. सप्लाई को लेकर चीन के साथ आने वाली दिक्कतों पर भी चर्चा हुई.

#संक्रमण के नए मामलों ने उड़ाई चीन की नींद, वुहान में पूरे शहर का होगा कोरोना टेस्ट
चीन के वुहान से निकला कोरोना वायरस दुनिया में कहर बरपा रहा है. वुहान में कोरोना संक्रमण के मामले एकदम गायब हो गए थे. लेकिन एक बार फिर वुहान में कोरोनावायरस सिर उठा रहा है. कोरोना वायरस की वापसी के डर से चीन अब तक का सबसे बड़ा टेस्टिंग अभियान चलाने जा रहा है. कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण की वजह से चीन आने वाले 10 दिनों में पूरे वुहान में 1 करोड़ से ज्यादा लोगों का कोरोना वायरस का टेस्ट करेगा. सीएनएन के मुताबिक वुहान में कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों ने चीन की नींद उड़ा दी है. 76 दिनों के कड़े लॉकडाउन के बावजूद चीन में कोरोना क्लस्टर फिर से बढ़ने लगे हैं. वुहान में पिछले वीकेंड पर कोरोना संक्रमण के 6 नए मामले आए. जबकि इनमें से एक भी मामला दूसरे देशों से आए चीनी नागरिकों का नहीं है. ऐसे में एक बार फिर वुहान में लोकल स्तर पर संक्रमण फैलने की आशंका गहरा गई है. जिस वजह से स्थानीय प्रशासन ने बड़े पैमाने पर कोरोना टेस्ट का ऐलान किया है.

#कोरोना से ठीक हुए करीब सभी मरीजों में मिली एंटीबॉडी, 3 हफ्तों में विकसित हुई प्रतिरोधक क्षमता
कोरोना वायरस को लेकर हाल ही में की गई एक स्टडी में कुछ बेहद सकारात्मक नतीजे सामने आए हैं. नई स्टडी के मुताबिक कोरोना वायरस के संक्रमण से ठीक हुए तकरीबन सभी मरीजों में एंटीबॉडी डेवलप हुआ. चीन में हुए रिसर्च में पता चला है करीब 95 फीसदी मरीजों में संक्रमण के तीसरे हफ्ते में इम्यून सेल्स (रोग प्रतिरोधक कोशिकाएं) बननी शुरू हो गई थी. चीन के चोंगकिंग मेडिकल यूनिवर्सिटी में इस रिसर्च को किया गया है. अमेरिका में और कुछ दूसरे देशों में बड़े पैमाने पर एंटीबॉडी टेस्टिंग हो रही है. एंटीबॉडी टेस्ट में वैसे लोगों की पहचान की जाती है, जिन्हें पहले कोरोना का संक्रमण हो चुका है ताकि ऐसे लोगों को दोबारा संक्रमित होने से बचाया जा सके.

#कोरोना की 'सेकंड वेव' के डर से स्पेन का बड़ा फैसला, विदेशियों को 14 दिन का मिलेगा क्वारंटाइन
कोरोना वायरस के कहर से यूरोप में इटली के बाद स्पेन में सबसे ज्यादा कहर बरपा है. कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए स्पेन ने अब एक कड़ा नियम बनाया है. स्पेन में दूसरे देशों से आने वाले सभी नागरिकों को अब 14 दिनों तक क्वारंटाइन में रहना होगा. ये नियम शुक्रवार से लागू हो जाएगा. स्पेन में कोरोनावायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सरकार ने कड़ा कदम उठाया है. अब दुनिया के किसी भी देश से आने वाले नागरिकों को पहले 14 दिनों तक क्वारंटाइन में रहना होगा. डेली मेल के मुताबिक स्पेन में बाहर से आने वाले नागरिकों को अपने बताए गए पते पर 14 दिन तक सेल्फ-आइसोलेशन में रहना होगा. स्पेन के स्वास्थ्य मंत्रालय ने इसका ऐलान किया. हालांकि दूसरे देशों से आए स्पेन के नागरिकों के लिए 14 दिनों का क्वारंटाइन पहले से ही लागू है लेकिन अब नए आदेश के तहत किसी भी देश के नागरिक को स्पेन आने पर 14 दिनों तक क्वारेंटाइन में रहना होगा.

#रूस के कोविड-19 अस्पताल में लगी आग 5 लोगों की मौत
रूस के सेंट पीटर्सबर्ग शहर में स्थित एक कोविड-19 अस्पताल में आग लगने की वजह से कम से कम पांच लोगों की मौत हो गई है. स्थानीय प्रशासन के अनुसार क़रीब 150 लोगों को अब तक अस्पताल से सुरक्षित निकाला जा चुका है. रूस की समाचार एजेंसियों के अनुसार वेंटिलेटर से हुए शॉर्ट सर्किट की वजह से ये आग लगी है. एक ही दिन पहले मॉस्को के बाहरी क्षेत्र में स्थित एक नर्सिंग होम में आग लगने से नौ लोगों की मौत हो गई. क्रास्नोगोर्स्क के अधिकारियों ने कहा कि बुजुर्गों के इस निजी नर्सिंग होम में रविवार को आग लग गई. उन्होंने कहा कि हादसे में नौ मरीजों की मौत हो गई जबकि नौ अन्य घायल हो गए.

#दक्षिण कोरिया में 27 नए केस मिले
दक्षिण कोरिया में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 27 नए मामले सामने आए हैं. सियोल में सामने आए दर्जनों मामले क्लब जाने वालों से जुड़े हैं. स्वास्थ्य कर्मी शहर में क्लब जाने वाले हजारों लोगों की जांच करने में जुटे हैं. दक्षिण कोरिया के रोग नियंत्रण एवं रोकथाम केंद्र ने मंगलवार को बताया कि देश में संक्रमित लोगों की संख्या 10,936 है जबकि 258 लोगों की मौत इससे हो चुकी है. क्लब जाने वालों में संक्रमण के मामले ने देश को फिर से चौंका दिया है क्योंकि यहां सामाजिक दूरी के नियमों में छूट दे दी गई है और स्कूलों को भी खोले जाने का कार्यक्रम था लेकिन अब इस समय सीमा को बढ़ाकर 20 मई कर दिया गया है.

#न्यूज़ीलैंड में संक्रमण का कोई नया मामला नहीं
न्यूज़ीलैंड में सोमवार को कोरोना संक्रमण का एक भी नया मामला नहीं आया है. वहां संक्रमण के 1497 मामले ही अभी तक दर्ज किए गए हैं और इनमें भी 15 फीसदी ठीक हो चुके है. न्यूज़ीलैंड में अभी तक कोरोना संक्रमण की वजह से 21 लोगों की मौत हुई है और इस आंकड़ें में कोई वृद्धि नहीं हुई है. वहां दो लोग अस्पताल में हैं और कोई भी मरीज़ आईसीयू में नहीं है. प्रधानमंत्री जैकिंडा आरडर्न ने लॉकडाउन में दी गई राहत को और बढ़ाने का फ़ैसला किया है. वहां रीटेल शॉप, सिनेमा घर, खेल के मैदान और जिम खोले जा रहे हैं. हालांकि सोशल डिस्टेंसिंग के नियम पहले की तरह लागू रहेंगे. 18 मई से स्कूल सामान्य रूप से शुरू कर दिए हैं जबकि बार 21 मई से खोले जाने की योजना है.

#चीन में कोरोना वायरस के दूसरे दौर की आशंका के बीच 16 नये मामले
चीन के वुहान में कोविड-19 के नये समूह उभरने के एक दिन बाद देश में कोरोना वायरस के 16 नये मामले सामने आए हैं. इनमें 15 मामले ऐसे हैं जिनमें मरीजों में लक्षण नजर नहीं आए. चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग (एनएचसी) ने मंगलवार को बताया कि आंतरिक मंगोलिया स्वायत्त क्षेत्र में विदेश से संक्रमण लेकर आने वाला एक मामला सामने आया था जबकि स्थानीय स्तर पर संक्रमण का कोई मामला नहीं था. सरकारी समाचार-पत्र 'ग्लोबल टाइम्स' ने मंगलवार को खबर दी कि दो प्रांतों में कोविड-19 के संक्रमण समूहों के फिर से उभरने के बाद चीनी विशेषज्ञ महामारी के दूसरे दौर की आशंका को लेकर चिंतित लोगों को आश्वस्त करने में जुटे हुए हैं. विशेषज्ञों ने ऐसे छिटपुट मामलों को बड़े संक्रामक रोग के लिए सामान्य बताया है. संक्रमण के नये मामले बढ़ने के बावजूद चीनी चिकित्सा विशेषज्ञों ने कहा कि हुबेई प्रांत के वुहान, जिलिन प्रांत में शुलान में संक्रमणों का नया समूह छिट-पुट है और इसका यह मतलब नहीं है कि दूसरे दौर का खतरा मंडरा रहा है.

#व्हाइट हाउस में मास्क पहनना हुआ ज़रूरी
व्हाइट हाउस में दो सहायकों के कोरोना संक्रमण से पॉजिटिव पाए जाने के बाद सभी कर्मचारियों को मास्क पहनने के लिए कहा गया है. व्हाइट हाउस ने कहा कि सिर्फ अपनी डेस्क पर बैठे रहने के अलावा बाकी समय सभी कर्मचारियों को मास्क पहनना ज़रूरी है और दूसरे सहकर्मियों से पर्याप्त दूरी बनाए रखना भी आवश्यक है. ये आदेश तब जारी किए गए हैं जब अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उपराष्ट्रपति माइक पेंस के एक-एक सहयोगी बीमार पड़ गए. हालांकि जब राष्ट्रपति ट्रंप खुद मीडिया ब्रीफिंग के लिए बिना मास्क के पहुंचे तो सवाल उठने लगे. इस पर ट्रंप ने कहा कि उन्हें यह आदेश मानने की जरूरत नहीं है क्योंकि वो 'सबसे काफ़ी दूर' रहे हैं. उन्होंने कहा, ''व्हाइट हाउस में रोज़ाना सैकड़ों लोग आते हैं. मुझे लगता है संक्रमण रोकने के लिए हम अच्छा काम कर रहे हैं.''

#अमेरिका
अमेरिका में सोमवार को संक्रमण के करीब 18,000 नए केस सामने आए जिसके बाद कुल मामले बढ़कर 13,85,800 से ज्यादा हो गए हैं. यहां बीते 24 घंटे में 1000 से ज्यादा लोगों की स्नाक्र्मन से मौत भी हो गयी जिससे कुल मौतों का आंकड़ा बढ़कर 81,700 से भी ज्यादा हो गया है.

#रूस
रूस में सातवें दिन लगातार 10000 से ज्यादा करीब 11,656 संक्रमण के नए केस सामने आए हैं जिसके बाद देश में संक्रमितों की सख्या बढ़कर 2 लाख से भी ज्यादा हो गयी है. बीते 24 घंटे में यहां संक्रमण से 94 लोगों ने जान गंवा दी जिसके बाद कुल मौतों का आंकड़ा 2000 से भी ज्यादा हो गया.

#पाकिस्तान में 13 मई तक घरेलू उड़ानें निलंबित
पाकिस्तान ने कोविड-19 महामारी को फैलने से रोकने के लिए घरेलू उड़ान सेवा 13 मई तक के लिए निलंबित कर दी है. देश में अब तक कोविड-19 से 667 लोगों की मौत हो चुकी है और तीस हजार से अधिक लोग संक्रमण के शिकार हो चुके हैं. पाकिस्तान नागर विमानन प्राधिकरण (पीसीएए) ने उड़ानों पर प्रतिबंध बुधवार तक बढ़ा दिया है. इससे पहले यह प्रतिबंध 10 मई तक था. पीसीएए ने कल देर रात ट्वीट किया, 'पाकिस्तान सरकार के फैसले के अनुसार घरेलू उड़ानों के परिचालन के निलंबन की अवधि बुधवार, 13 मई 2020 तक बढ़ा दी गई है. उड़ानों के निलंबन संबंधी बाकी प्रावधान पहले की तरह लागू रहेंगे.' राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा मंत्रालय के अनुसार पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 1,476 मामले सामने आए हैं. मंत्रालय ने बताया कि इसी दौरान महामारी से 28 लोगों की मौत हो गई जिसके बाद पाकिस्तान में कोविड-19 से मरने वालों की संख्या बढ़कर 667 पर पहुंच गई.

#सिंगापुर में कोरोना वायरस के 486 नये मामले सामने आये
सिंगापुर में कोरोना वायरस संक्रमण के 486 नये मामले सामने आने के बाद मामलों की कुल संख्या बढ़कर 23,822 हो गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को यह जानकारी दी. मंत्रालय ने बताया कि जो नये मामले सामने आये है उनमें सिंगापुर के केवल दो नागरिक और स्थायी निवासी (विदेशी) शामिल हैं जबकि शेष विदेशी कर्मचारी हैं. इन मामलों को मिलाकर देश में मामलों की कुल संख्या 23,822 हो गई है. संक्रमित लोगों में ज्यादातर ‘डोरमेट्री’ में रहने वाले विदेशी नागरिक हैं. मंत्रालय ने बताया कि रविवार तक इस महामारी से 2,715 मरीज पूरी तरह से स्वस्थ हो चुके हैं. अब तक कोविड-19 से 20 लोगों की मौत हुई है और इस वायरस से संक्रमित पाये गये छह अन्य की मौत अन्य कारणों से हुई है.

#वुहान में संक्रमण के नए मामले, स्थानीय अधिकारी निलंबित
चीन में कोरोना वायरस संक्रमण का केन्द्र रहे वुहान शहर में 30 दिन से ज्यादा समय के बाद कोविड-19 के नए मामले सामने आने पर सत्ताधारी कम्युनिस्ट पार्टी ने एक स्थानीय अधिकारी को खराब प्रबंधन के आरोप में बर्खास्त कर दिया गया है. सरकारी समाचार समिति शिन्हुआ ने अपनी एक खबर में बताया कि सत्तारूढ़ चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के चांगक्विंग स्ट्रीट कार्यसमिति के सचिव झांग यूजिन को वुहान के सनमिन आवासीय समुदाय में संक्रमण के मामले सामने आने के बाद पद से हटा दिया गया है. संक्रमण के ये सभी मामले हुबेई प्रांत की राजधानी वुहान के सनमिन आवासीय समुदाय में पाए गए हैं. यह इलाका चांगक्विंग के अधिकार क्षेत्र में आता है. खबर में कहा गया है कि झांग को आवासीय परिसर का सही प्रकार से प्रबंधन नहीं कर पाने की वजह से पद से हटाया गया है. इस स्थान में पहले संक्रमण के 20 मामले सामने आए थे. वुहान में संक्रमण के पांच नए मामले रविवार को और एक मामला शनिवार को सामने आया. यहां 35 दिन से संक्रमण का कोई नया मामला सामने नहीं आया था.

#ब्रिटेन में सार्वजनिक परिवहन में लोगों को मास्क लगाने की सलाह
कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिये लगाए गए लॉकडाउन को लेकर एक नए दस्तावेज में ब्रिटिश सरकार द्वारा जारी नए दिशानिर्देश में पाबंदियों में सोमवार से “मामूली” रियायत का जिक्र है और लोगों को यह सलाह भी दी गई है कि सार्वजनिक परिवहन में यात्रा के दौरान अपना चेहरा मास्क से ढकें. स्कॉटलैंड प्रशासन ने जहां पहले ही चेहरे पर मास्क लगाने की अनुशंसा की है यह पहला मौका है जब ब्रिटिश सरकार ने इसे अपने तय दिशानिर्देशों का हिस्सा बनाया है जो प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन द्वारा रविवार रात को इस खतरनाक वायरस से निपटने के लिये घोषित “सशर्त योजना” का हिस्सा है. करीब 50 पन्नों के इस दिशानिर्देश में कहा गया है, “क्योंकि अब और लोग काम पर लौट रहे हैं ऐसे में घर के बाहर लोगों की आवाजाही ज्यादा होगी.” इस दस्तावेज में कोविड-19 से जुड़ी पाबंदियों को हटाए जाने की रूपरेखा है.

#पूर्वी अफ्रीका में ‘कोरोना वायरस हेयरस्टाइल’ स्पाइक्स बनी लोगों की पसंद
पूर्वी अफ्रीका में इन दिनों ‘कोरोना वायरस हेयरस्टाइल’ काफी मशहूर हो रही है जिसमें लोग अपने बालों की कोरोना वायरस के आकार की चोटियां बना रहे हैं. कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए लगे प्रतिबंधों के कारण आर्थिक समस्याओं के बीच यह हेयरस्टाइल लोगों को काफी किफायती लग रहा है. साथ ही लोग इससे यह बताने की कोशिश कर रहे हैं कि वायरस का खतरा वास्तव में गंभीर है. पिछले कुछ सालों में यह हेयरस्टाइल भारत, ब्राजील और चीन से आए सिंथेटिक बालों वाली स्टाइल की मांग के कारण फैशन में नहीं थी लेकिन अब फिर से इसकी मांग बढ़ गई है. विदेशी हेयरस्टाइल वाले बालों की तस्वीरें अफ्रीका के सैलूनों में छायी हुई हैं. केन्या में कोरोना वायरस संक्रमण के पुष्ट मामलों की संख्या सोमवार को 700 के करीब पहुंच गई. जांच सामग्री की भारी कमी के कारण वास्तविक संख्या का पता चल पाना मुश्किल है.

#भारत से 58 उड़ानों से 13,500 ब्रिटिश नागरिक ब्रिटेन पहुंचे
कोरोना वायरस लॉकडाउन के चलते भारत में फंसे करीब 13,500 ब्रिटिश नागरिकों को स्वदेश लाया गया है. विदेश एवं राष्ट्रमंडल कार्यालय (एफसीओ) ने सोमवार को यह जानकारी दी. कोरोना वायरस के फैलने के बाद से 27 विभिन्न देशों एवं क्षेत्रों से ब्रिटिश सरकार की 142 विशेष चार्टर उड़ानों से अबतक 30,000 से अधिक ब्रिटिश यात्री स्वेदश लौट चुके हैं. शनिवार शाम को अमृतसर से विशेष विमान से 30,000 वां यात्री स्वदेश लौटा. ब्रिटेन के विदेश मंत्री डोमनिक राब ने कहा- हमने 27 देशों से 30,000 ब्रिटिश यात्रियों को व़ापस लाया हैं. हम दुनियाभर से फंसे हुए ब्रिटिश नागरिकों को सुरक्षित घर लाने के लिए दिन-रात लगे हुए हैं.

#कोविड-19 से कुवैत में भारतीय डॉक्टर की मौत
कुवैत में कोरोना वायरस संक्रमण से भारत के एक दंत चिकित्सक की मौत हो गई. वह देश के ऐसे दूसरे स्वास्थ्य कर्मी हैं जिनकी मौत कोविड-19 से हुई है. समाचार वेबसाइट टाइम्स कुवैत के अनुसार 54 वर्षीय डॉक्टर वासुदेव राव की मौत शनिवार को जाबेर अस्पताल में इलाज के दौरान हो गई. वह पिछले 15 साल से कुवैत में रह रहे थे और कुवैत की एक तेल कंपनी में दंत चिकित्सक के रूप में सेवा दे रहे थे. राव कुवैत में भारतीय दंत चिकित्सक पेशेवरों के संगठन 'इंडियन डेंटिस्ट अलायंस' के सदस्य भी थे. गल्फ न्यूज की खबर के मुताबिक शुक्रवार को मिस्र के ईएनटी विशेषज्ञ तारेक हुसैन मोकेमीर की मौत संक्रमण की वजह से हो गई। वह 62 साल के थे.

#पुरुषों के रक्त में कोरोना वायरस से प्रभावित होने वाले अणुओं की संख्या ज्यादा
एक नए अध्ययन के मुताबिक महिलाओं के मुकाबले पुरुषों के रक्त में ऐसे अणुओं की संख्या ज्यादा होती है जो आसानी से कोरोना वायरस के वाहक बन जाते हैं. इस अध्ययन के जरिए अब यह पता लगाना आसान होगा कि आखिरकार महिलाओं के मुकाबले पुरुष कोरोना वायरस से ज्यादा संख्या में क्यों संक्रमित हो रहे हैं और उनमें संक्रमण से मृत्यु दर क्यों ज्यादा है. यूरोपीय हार्ट जर्नल में प्रकाशित इस अध्ययन से पता चला है कि जो मरीज दिल का दौरा पड़ने के कारण एसीई और कुछ अन्य दवाएं ले रहे हैं, उनके रक्त में भी कोरोना वायरस के लिए वाहक एसीई2 एंजाइम की मात्रा कम है. नीदरलैंड के ग्रोनिंजेन विश्वविद्यालय से जुड़े इस अध्ययन के सह-लेखक एड्रियान वूर्स का कहना है, ‘‘हमारा निष्कर्ष कोविड-19 मरीजों की उक्त दवाएं बंद करने की सलाह नहीं देता है, जैसा कि पहले के कई अध्ययनों में कहा गया है.’’ इससे पूर्व आए अध्ययनों में यह कहा गया था कि उक्त दवाएं लेने से व्यक्ति के रक्त के प्लाजमा में एसीई2 की मात्रा बढ़ जाती है, ऐसे में हृदय रोग से पीड़ित लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने का खतरा बढ़ जाता है. हमारे अध्ययन के मुताबकि, ऐसा नहीं है. हालांकि हमने सिर्फ प्लाजमा में एसीई2 की सांद्रता पर ही अध्ययन किया है और हृदय उत्तकों और अन्य उत्तकों में इस एंजाइम की मात्रा को अध्ययन में शामिल नहीं किया है.

 

 

यह भी पढ़ें:

शोधकर्ताओं ने विकसित किया कृत्रिम Chloroplast, अब इंसान भी कर सकेंगे ये काम

जानिए क्या है डार्क मैटर और क्यों अपने नाम की तरह है ये रहस्यमय

जानिए सूर्य पर गए बिना वैज्ञानिकों कैसे जाना कि क्या है वहां

अरब सागर के जीवों की मुसीबत का हिमालय से है गहरा नाता, जानिए क्या है मामला
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज