Home /News /world /

दुनिया में कोरोना: सिंगापुर में 19 जून से खुलेंगे रेस्टोरेंट और दुकानें, विश्व में 1 लाख 22 हज़ार नए केस मिले

दुनिया में कोरोना: सिंगापुर में 19 जून से खुलेंगे रेस्टोरेंट और दुकानें, विश्व में 1 लाख 22 हज़ार नए केस मिले

एक अगस्त से देश भर में अनलॉक-3 लागू हो सकता है.

एक अगस्त से देश भर में अनलॉक-3 लागू हो सकता है.

रविवार को दुनिया भर में संक्रमण (Covid-19) के 1 लाख 22 हज़ार से ज्यादा नए केस सामने आए जिसके बाद कुल मामले अब 80 लाख के करीब पहुंच गए हैं. बीते 24 घंटे में दुनिया भर में संक्रमण (Coronavirus) ने 3200 से ज्यादा लोगों की जान ले लि और कुल मौतों का आंकड़ा बढ़कर 4,35,000 से भी ज्यादा हो गया है.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्ली. कोरोना संक्रमण (Coronvirus) ने अमेरिका (US), ब्राजील (Brazil) और भारत (India) में अभी भी भारी तबाही मचाई हुई है. रविवार को दुनिया भर में संक्रमण (Covid-19) के 1 लाख 22 हज़ार से ज्यादा नए केस सामने आए जिसके बाद कुल मामले अब 80 लाख के करीब पहुंच गए हैं. बीते 24 घंटे में दुनिया भर में संक्रमण ने 3200 से ज्यादा लोगों की जान ले लि और कुल मौतों का आंकड़ा बढ़कर 4,35,000 से भी ज्यादा हो गया है. रूस, पेरू, चिली, पाकिस्तान, सऊदी अरब, मैक्सिको, बांग्लादेश और साउथ अफ्रीका भी नए हॉटस्पॉट बनकर सामने आए हैं.

    #सिंगापुर में 19 जून से खुलेंगे रेस्टोरेंट और दुकानें

    सिंगापुर में 19 जून से रेस्टोरेंट और दुकानें खोल दी जाएंगी. इस बात की जानकारी स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को दी. साथ ही आगे और भी अन्य चीजों में ढील दी जा सकती है.

    #पाकिस्तान: एक दिन में 6,825 नए मामले आए सामने

    पाकिस्तान में 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस के 6,825 नए मामले सामने आए हैं. इन आंकड़ों के साथ पाकिस्तान में कोरोना पॉजिटिव की संख्या बढ़कर 1,39,230 हो गई है. पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में रविवार को 771 कोरोना के नए मामले सामने आए हैं. इस्लामाबद में कोविड—19 के मरीजों की संख्या बढ़कर 7,934 हो चुकी है.

    #ईरान में 24 घंटे के भीतर 107 लोगों की जान गई

    ईरान में दो महीने में पहली बार कोरोना वायरस से 100 से ज्यादा लोगों की जान चली गई. स्वास्थ्य मंत्री के प्रवक्ता सीमा सादात लारी ने बताया कि पिछले 24 घंटों में 107 लोगों की कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से मौतें हुई हैं. अब तक ईरान में 8,837 लोगों की कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते जान चली गई है.

    #कोविड-19 इजरायल में 83 नए मामले सामने आए

    इजरायल में कोरोना वायरस के 83 नए मामले सामने आए हैं. कुल संक्रमितों की संख्या 19 हजार 55 हो गई. स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक अस्पताल में भर्ती 133 मरीजों में से 33 की हालत गंभीर है. इसी दौरान 18 मरीज स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं. ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 15 हजार 375 हो गई हैं. यहां 3 हजार 380 एक्टिव केस हैं.

    #10 शहरों के चीन की राजधानी बीजिंग जाने पर रोक

    चीन के 10 शहरों ने अपने नागरिकों से कहा है कि वो अगले आदेश तक बीजिंग की यात्रा न करें. हुआजियांग के बड़े कार मार्केट को भी बंद करने पर विचार किया जा रहा है. हुआजियांग बीजिंग के करीब है और यहां हर दिन हजारों लोग जाते हैं. इसे हाई रिस्क लेवल पर रखा गया है.

    #चीन में कोरोना वायरस संक्रमण के 49 नए मामले
    चीन में कोरोना वायरस संक्रमण के 49 नए मामले सामने आने के बाद राजधानी बीजिंग में इससे निपटने के लिए फिर से एहतियाती कदम उठाए गए हैं. नए मामलों में से 36 मामले सोमवार को बीजिंग में सामने आए. ये मामले उस थोक बाजार में सामने आए हैं जहां से शहर में मांस और सब्जियों की आपूर्ति की जाती है. राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग (एननएचसी) के अनुसार संक्रमण के 10 मामले विदेश से लौटे लोगों से जुड़े हैं और तीन मामले हेबई प्रांत से हैं.

    एनएचसी के अनुसार अभी 177 कोविड-19 मरीजों का इलाज चल है और 115 लोगों को पृथक-वास में रखा गया है. चीन में अभी तक 4634 लोगों की कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से जान गई है और 83,181 पुष्ट मामले सामने आए हैं. इस बीच, बीजिंग में शिंफदी बाजार को बंद कर दिया गया है और वहां काम करने वाले सभी लोगों को जांच कराने और वहां गए हर व्यक्ति को दो सप्ताह तक पृथक रहने का आदेश दिया गया है.

    #घाना के स्वास्थ्य मंत्री कोविड-19 से संक्रमित
    घाना के राष्ट्रपति ने देश के स्वास्थ्य मंत्री क्वाकू अगयेमांग-मानू के कोविड-19 से संक्रमित होने की घोषणा की है. सरकारी प्रसारक पर रविवार रात राष्ट्रपति नाना अकूफो एड्डो ने कहा कि पश्चिमी अफ्रीका में कोविड-19 से निपटने की लड़ाई का नेतृत्व करते हुए स्वास्थ्य मंत्री कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए. अफ्रीका में घाना में कोरोना वायरस के सबसे अधिक पुष्ट मामले हैं, जिसका कारण वहां होने वाली अधिक जांच भी है. स्वास्थ्य अधिकारियों के अनुसार घाना में 11,400 से अधिक मामले सामने आए हैं और 51 लोगों की कोरोना वायरस से जान जा चुकी है.

    #फ्रांस में आज से खुलेगा लॉकडाउन
    फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने रविवार को देश को लॉकडाउन से निकाल कर पटरी पर फिर से लाने की अपनी योजना पेश की है. कोरोना महामारी के शुरू होने के बाद से देश के नाम अपने चौथे संबोधन में उन्होंने कहा कि तीन महीने लंबे चले लॉकडाउन के बाद अब देश की अर्थव्यवस्था को फिर से पटरी पर लाने का वक्त आ गया है. उन्होंने कहा कि सोमवार से फ्रांस यूरोपीय संघ के शेन्ज़ेन ज़ोन में शामिल पड़ोसी देशों के लिए अपनी सीमाएं खोल देगा. पेरिस में बार और रेस्त्रां को खुलने की इजाज़त होगी और वो रेस्त्रां के भीतर उपभोक्ताओं का स्वागत कर सकेंगे. जून 22 तारीख से अनिवार्य रूप से स्कूल खोले जाएंगे और इसके लिए स्कूलों उचित तैयारी करने की ज़रूरत है.

    #ब्राज़ील में मौतों का आंकड़ा 43 हज़ार के पार हुआ
    ब्राज़ील में कोरोना से हो रही मौतों का आंकड़ा तेज़ी से बढ़ रहा है. रविवार तक यहां कोरोना के कारण कुल 42,720 लोगों की मौत हुई थी जो सोमवार को बढ़ कर 43,330 हो गया है. जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के डैशबोर्ड के अनुसार दुनिया में सबसे अधिक प्रभावित देशों की सूची में ब्राज़ील अमरीका के बाद दूसरे नंबर पर है. यहां कोरोना संक्रमितों की संख्या भी बढ़ कर 867,624 हो गई है.

    #ट्रंप की रैली को स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने 'खतरनाक कदम' बताया
    कोरोना वायरस के कारण प्रचार अभियान से कुछ महीने दूर रहने के बाद अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने आगामी शनिवार को अपने समर्थकों के साथ रैली करने की योजना बनाई है. कोविड-19 के कारण देश में ज्यादातर गतिविधियां बंद हो गई थीं, लेकिन ट्रंप ने अब रैली करने की योजना बनाई है और वह ओक्लाहोमा के टुल्सा जाएंगे जहां कोविड-19 के मामलों की संख्या अपेक्षाकृत कम है. स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने हालांकि भीड़ के बीच संक्रमण फैलने के खतरे का हवाला देते हुए इस फैसले पर सवाल उठाया है और कहा है कि जब लोग अपने घरों को लौटेंगे तो संक्रमण फैल सकता है.

    हार्वर्ड ग्लोबल हेल्थ इंस्टिट्यूट के निदेशक डॉ. आशीष झा ने ट्रंप की आगामी रैली को इसमें भाग लेने वाले लोगों और उन लोगों के लिए खतरनाक कदम बताया जो उन्हें प्यार करते हैं. रोग नियंत्रण एवं रोकथाम केन्द्र (सीडीसी) ने इस तरह के कार्यक्रमों को कोरोना वायरस संक्रमण के लिए अधिक जोखिम भरा बताया है. केन्द्र ने कहा, 'रैलियों में छह फुट की दूरी पर रहना मुश्किल होता है और रैली में भाग लेने वाले लोग स्थानीय क्षेत्र से बाहर से आते हैं. सीडीसी उन स्थानों पर मास्क पहनने की सिफारिश करता है जहां लोगों के चिल्लाने या नारे लगाने की संभावना रहती है.'

    #सिनोवैक ने कहा- टीके के सकारात्मक परिणाम सामने आये
    टीका बनाने वाली चीनी कंपनी 'सिनोवैक बायोटेक' ने कहा कि कोविड-19 के उसके टीके 'कोरोनावैक' के लिए पहले और दूसरे चरण के क्लीनिकल परीक्षण के प्रारंभिक नतीजे सकारात्मक आये हैं. बीजिंग स्थित इस कंपनी ने एक बयान में इस टीके के लिए चरण एक और दो के क्लीनिकल परीक्षण के 'सकारात्मक प्रारंभिक' परिणामों की घोषणा करते हुए कहा कि यह रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा सकता है. इस टीके के परीक्षणों के लिए 18 से 59 आयु वर्ग के कुल 743 स्वस्थ स्वयंसेवियों (वालंटियर) ने नामांकन कराया था. बयान में कहा गया है कि इनमें से 143 लोग पहले चरण और 600 लोग दूसरे चरण में शामिल थे. इसमें कहा गया है कि परीक्षण में शामिल लोगों को दो इंजेक्शन दिये गये और 14 दिन तक उनमें इसके कोई दुष्प्रभाव नहीं देखे गये. कंपनी को उम्मीद है कि जल्द ही चरण दो क्लीनिकल अध्ययन रिपोर्ट और चरण तीन क्लीनिकल अध्ययन प्रोटोकॉल चीन के राष्ट्रीय चिकित्सा उत्पाद प्रशासन (एमएमपीए) को सौंपा जाएगा.

    #पाकिस्तान में कोविड-19 के कुल रोगियों की संख्या 1,39,230 हुई
    पाकिस्तान में एक दिन में कोरोना वायरस के सर्वाधिक मामले दर्ज किये गये जिनकी संख्या 6,825 है जिसके बाद देश में रोगियों की संख्या 1,39,230 हो गयी है. वहीं पिछले 24 घंटे में 81 लोगों की मौत संक्रमण के कारण हो गयी है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने रविवार को कहा कि देश में मौत के मामले बढ़कर 2,632 पहुंच गये हैं. उसने कहा कि पिछले 24 घंटे में 6,825 लोगों को संक्रमण की पुष्टि हुई है जो अब तक का एक दिन में संक्रमण का सर्वाधिक आंकड़ा है. कुल मामलों की संख्या 1,39,230 हो गयी है. मंत्रालय ने कहा कि अब तक 51,735 लोग कोविड-19 से स्वस्थ हो चुके हैं लेकिन दूसरी तरफ सबसे बुरी तरह प्रभावित दो राज्यों- पंजाब और सिंध में रोगियों की संख्या 50-50 हजार के पार चली गयी है. मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार पंजाब में 52,601 रोगी, सिंध में 51,518, खैबर पख्तूनख्वा में 17,450, बलूचिस्तान में 8,028, इस्लामाबाद में 7,934, गिलगित बाल्टिस्तान में 1,095 और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में संकमण के 604 मामले सामने आए हैं.

    #कोविड-19: UN में 31 जुलाई तक घर से काम करने की व्यवस्था लागू रहेगी
    संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने कहा है कि कोरोना वायरस वैश्विक महामारी के कारण लागू प्रतिबंधों और सामाजिक दूरी के नियमों के पालन के मद्देनजर वैश्विक संगठन के न्यूयॉर्क स्थित मुख्यालय में मौजूदा घर से काम करने की व्यवस्था 31 जुलाई तक लागू रहेगी. उन्होंने कहा कि राजनयिकों, कर्मियों और पत्रकारों के लिए संयुक्त राष्ट्र परिसरों को चार चरणों में खोला जाएगा. गुतारेस ने शनिवार को संयुक्त राष्ट्र कर्मियों को लिखे एक पत्र में कहा कि वरिष्ठ प्रबंधन से विचार-विमर्श करने और 'कोरोना वायरस संकट में चिकित्सकीय सेवाओं को ध्यान में रखते हुए, मैंने मुख्यालय परिसर में मौजूदा घर से काम करने की व्यवस्था 31 जुलाई, 2020 तक बनाए रखने का फैसला किया है.' उन्होंने कहा, 'हम इन प्रबंधों की समीक्षा करते रहेंगे तथा इसके और विस्तार या इसमें कोई ढील देने के बारे में पहले से सूचित करेंगे.'

    #कोविड-19 से स्वस्थ्य लोग भी हो सकते हैं मधुमेह के शिकार
    इस महामारी के 17 विशेषज्ञों के एक अंतरराष्ट्रीय समूह ने दावा किया है कि कोविड-19 बीमारी स्वस्थ्य लोगों को मधुमेह से ग्रस्त कर सकती है और पहले से मधुमेह के रोगी में परेशानियां और जटिलताएं बढ़ा सकती हैं. ब्रिटेन के किंग्स कॉलेज लंदन की स्टेफनी ए. एमिल सहित सभी वैज्ञानिकों का कहना है कि अभी तक किए गए नैदानिक विश्लेषणों के अनुसार, कोविड-19 और मधुमेह के बीच दोहरा या द्विपक्षीय संबंध है.

    न्यू इंग्लैंड जर्नल ऑफ मेडिसिन में प्रकाशित अनुसंधान में उन्होंने बताया है कि एक ओर मधुमेह से ग्रस्त व्यक्ति के कोरोना वायरस से संक्रमित होने और संक्रमण से मृत्यु का खतरा ज्यादा है. उनका कहना है कि कोविड-19 से मरने वाले लोगों में से 20 से 30 प्रतिशत मधुमेह से ग्रस्त थे. अनुसंधानकर्ताओं का कहना है कि दूसरी ओर कोरोना वायरस से संक्रमित हुए व्यक्ति को मधुमेह हो सकता है तथा उसकी पाचन क्रिया में गड़बड़ियां हो सकती हैं और वो जानलेवा भी हो सकती हैं. उनका हालांकि यह भी कहना है कि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि कोरोना वायरस (सार्स सीओवी 2) का मधुमेह पर क्या असर होता है.

    #भारत ने कोविड-19 पर गलत सूचना से निपटने पर संरा की पहल की अगुवाई की
    संयुक्त राष्ट्र में भारत और 12 अन्य देशों ने कोरोना वायरस पर गलत सूचना से निपटने के लिए तथ्य आधारित सामग्री का प्रचार करने के मकसद से एक पहल की अगुवाई की है. कोविड-19 वैश्विक महामारी से संबंधित 'भ्रामक सूचना' से निपटने के लिए 130 से अधिक देश इस पहल का समर्थन कर रहे हैं. ऑस्ट्रेलिया, चिली, फ्रांस, जॉर्जिया, भारत, इंडोनेशिया, लात्विया, लेबनान, मॉरिशस, मैक्सिको, नॉर्वे, सेनेगल और दक्षिण अफ्रीका की इस पहल पर कुल 132 सदस्य देशों ने 'भ्रामक सूचना' या तोड़ मरोड़कर दी गई सूचना से निपटने का समर्थन किया है।

    संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने कहा कि कोविड-19 वैश्विक महामारी से निपटने के अलावा विश्व घृणा फैलाने वाले भाषणों एवं साजिशों, हानिकाकर स्वास्थ्य सलाहों और भ्रामक सूचना का 'खतरनाक विस्फोट' भी देख रहा है. संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन ने कहा कि वह संयुक्त राष्ट्र संचार प्रतिक्रिया पहल ‘वेरिफाइड’ का समर्थन करता है और कोविड-19 के दौर में गलत सूचना से निपटने के लिए वैश्विक कार्रवाई का आह्वान करता है.





    यह भी पढ़ें:

    कैसे तय होती है पर्वतों की ऊंचाइयां, नई वजह पता लगने पर शोधकर्ता हुए हैरान

    रूस किस तरह खड़ा कर रहा है रोबोटिक ड्रोन का ग्लोबल नेटवर्क

    ISS में देखी वैज्ञानिकों ने पदार्थ की पांचवी अवस्था, पृथ्वी पर थी यह समस्या

    जानिए कौन सा बड़ा खतरा मंडरा रहा है पाकिस्तान पर, मचेगी बड़ी तबाहीundefined

    Tags: Brazil, Corona Virus, India, Pakistan, United States of America

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर