लाइव टीवी

स्विट्जरलैंड में फंसे भारतीयों की मदद को आगे आया भारतीय दूतावास

Shailendra Wangu | News18Hindi
Updated: March 26, 2020, 5:25 PM IST
स्विट्जरलैंड में फंसे भारतीयों की मदद को आगे आया भारतीय दूतावास
स्विट्जरलैंड में फंसे भारतीयों की न्यूज18 की टीम ने की मदद

Lockdown in India:कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण भारत ने सभी अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों को रद्द कर दिया है जिस कारण कई भारतीय नागरिक विदेशों में फंस गए है. "नेटवर्क18" ने आगे बढ़ कर कोशिश की और हमारी कोशिश रंग भी ले आई, जानिए कैसे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 26, 2020, 5:25 PM IST
  • Share this:
ज्यूरिख. स्विट्जरलैंड (Switzerland) में करीब 15 भारतीय फंसे हैं और वह देश लौटना चाहते हैं. न्यूज़18 ने वहां पर फंसे एक भारतीय दिलदार सिंह की गुहार को विदेश मंत्रालय तक पहुंचाया. दिलदार सिंह ने अपने वीडियो में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) से गुहार लगाई थी कि उन्हें जल्द स्विट्जरलैंड से निकाला जाए. क्योंकि वह खाने-पीने, दवाइयों और पैसे की कमी से जूझ रहे हैं. दिलदार सिंह स्विट्जरलैंड घूमने गए थे, लेकिन फ्लाइट पर पाबंदियों की वजह से वहां फंस गए.

स्विट्जरलैंड में भी Covid-19 के 8789 मामले हैं. न्यूज़18 के ट्वीट पर स्विट्जरलैंड में भारतीय दूतावास तुरंत एक्शन में आया और उन्होंने दिलदार सिंह और उनकी पत्नी से मुलाकात कर पूरी सहायता देने का आश्वासन दिया.



भारतीय दूतावास ने अपने बयान में कहा कि वह स्विट्जरलैंड में मौजूद सभी छात्रों, पर्यटक और भारतीय नागरिकों के संपर्क में हैं. दूतावास ने एक हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है ताकि मुश्किल में फंसे भारतीय उनसे संपर्क कर सकें. दूतावास ने कहा कि वो फंसे भारतीयों के ठहरने और खाने पीने का इंतेज़ाम करेगा.

कई दिक्कतों का करना पढ़ रहा सामना
वीडियो में एक सिख व्यक्ति ने बताया कि न ही उनके पास दवा बची है, और न उनके पास पैसे बचे हैं. उन्होंने यह बताते हुए कि वे वहां बहुत दुखी हैं, यह कहते हुए उन्होंने खुद को वहां से निकालने की गुजारिश की. उन्होंने बताया कि उनके बच्चे भारत में दिल्ली में हैं और वे फोन पर बात कर परेशान हो रहे हैं.

ये भी पढ़ें : 

कोरोना के खिलाफ जंग: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की बैठक का बदल गया नजारा

Corona Lockdown: सामान की जरूरत है तो इन स्टोर पर करें आनलाइन ऑर्डर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 26, 2020, 1:25 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर