लाइव टीवी

कोरोना वायरस पर चीन के राष्ट्रपति का बड़ा बयान, सबसे बड़ी हेल्थ इमरजेंसी बताया


Updated: February 23, 2020, 7:54 PM IST
कोरोना वायरस पर चीन के राष्ट्रपति का बड़ा बयान, सबसे बड़ी हेल्थ इमरजेंसी बताया
कम्‍यूनिटी हैल्‍थ सेंटर के दौरे पर गए चीन के राष्‍ट्रपति शी जिनपिंग. फोटो.एपी

कोरोना वायरस (corona virus) चीन के लिए बड़ा खतरा बन चुका है. चीन (China) से फैले कोरोना वायरस ने दुनियाभर में अबतक 78,000 से अधिक लोगों को अपनी चपेट में ले लिया है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने इस बीमारी का नाम 'कोविड-19' रखा है.

  • Share this:
बीजिंग. कोरोना वायरस (corona virus) चीन के लिए बड़ा खतरा बन चुका है. चीन (China) से फैले कोरोना वायरस ने दुनियाभर में अबतक 78,000 से अधिक लोगों को अपनी चपेट में ले लिया है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने इस बीमारी का नाम 'कोविड-19' रखा है. अकेले चीन में इस बीमारी के कारण 2442 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. अब इस पर चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (Xi Jinping) का बड़ा बयान आया है. AFP के मुताबिक जिनपिंग ने इसे कम्यूनिस्ट चीन (Communist China) के इतिहास में 'सबसे बड़ी हेल्थ इमरजेंसी' बताया है.

दुनियाभर में कोरोना वायरस संक्रमण के 78 हजार से अधिक मामले
हर देश के स्वास्थ्य विभाग द्वारा रविवार को जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक, वायरस से संक्रमण और मौत के मामले इस प्रकार हैं.
चीन : 76,936 मामले, 2,442 लोगों की मौत।



हांगकांग : 69 मामले, दो मौतें
मकाऊ : 10 मामले


जापान : 769 मामले, तीन लोगों की मौत ।
दक्षिण कोरिया : 556 मामले, 5 की मौत
सिंगापुर : 89 मामले
इटली : 79 मामले, दो मौतें
अमेरिका : 35 मामले, चीन में एक अमेरिकी नागरिक की मौत
थाइलैंड : 35 मामले
ईरान : 28 मामले, 6 की मौत
ताइवान : 26 मामले, एक मौत
आस्ट्रेलिया : 23 मामले
मलेशिया : 22 मामले
वियतनाम : 16 मामले
जर्मनी : 16 मामले
फ्रांस : 12 मामले, एक की मौत
संयुक्त अरब अमीरात : 11 मामले
फिलीपींस : 3 मामले, एक मौत
भारत : 3 मामले

रूस और स्पेन में संक्रमण के दो-दो मामलों के अलावा लेबनान, इजरायल, बेल्जियम, नेपाल, श्रीलंका, स्वीडन, कंबोडिया, फिनलैंड और मिस्र में एक-एक मामला.

क्रूज पोत पर चालक दल के 4 भारतीयों में कोविड-19 की पुष्टि
जापान तट के पास खड़े क्रूज पोत पर चालक दल के चार भारतीय सदस्य ‘कोविड-19’ की जांच में पॉजीटिव पाए गए हैं. भारतीय दूतावास ने रविवार को कहा कि सभी परिणाम आने के बाद जिन लोगों में संक्रमण की पुष्टि नहीं हुई है उन्हें घर लाने में मदद की जाएगी. दूतावास ने बताया कि इसी के साथ पोत पर सवार संक्रमित भारतीयों की कुल संख्या 12 हो गई है. कोरोना वायरस के संक्रमण से होने वाली बीमारी को विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने औपचारिक नाम ‘कोविड-19’ दिया है.

जहाज को पृथक रखने की अवधि पिछले सप्ताह खत्म होने के बाद जिन यात्रियों में घातक बीमारी के कोई लक्षण नहीं थे, उन्होंने जहाज से उतरना शुरू कर दिया था. मुख्य कैबिनेट सचिव योशिहिदे सुगा ने कहा कि अनेक लोगों के जहाज से उतरने के बावजूद पोत पर 1,000 से अधिक यात्री और चालक दल के सदस्य अब भी मौजूद हैं. शनिवार को करीब 100 और लोगों को जहाज से उतरने की अनुमति दी गई जो जहाज पर संक्रमित लोगों के करीबी संपर्क में थे.

भारतीय दूतावास ने ट्वीट किया, “दुर्भाग्य से, स्थानीय समयानुसार 12 बजे प्राप्त हुए परिणामों में चालक दल के चार भारतीय सदस्य जांच में पॉजीटिव पाए गए हैं.”इससे पहले आठ भारतीयों में ‘कोविड-19’ की पुष्टि हुई थी. दूतावास ने कहा, ‘संक्रमित सभी 12 भारतीयों पर उपचार का अच्छा असर हो रहा है.’भारतीय दूतावास ने कहा कि जापानी अधिकारियों ने पुष्टि की है कि पोत पर सवार सभी यात्रियों के नमूने एकत्र किए गए और उन्हें जांच के लिए भेजा गया है.

कोरोना वायरस: ईरान में 15 नए मामलों में से तीन और की मौत
ईरान ने रविवार को कोरोना वायरस से तीन और मौतों की जानकारी दी. पिछले 24 घंटों में सामने आए 15 नए मामलों में ये लोग शामिल हैं. इसी के साथ देश में मृतक संख्या आठ पर जबकि संक्रमितों की संख्या 43 पर पहुंच गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता कियानोश जहांपोर ने कहा कि तेहरान में कोविड-19 के चार नए मामले सामने आए जबकि पवित्र शहर कौम में सात, गिलान में दो और मरकाजी व टोनेकाबोन में एक-एक मामला सामने आया.

यह भी पढ़ें...

PM ने ट्रंप के स्वागत में किया ट्वीट, कहा- भारत आपकी अगवानी के लिए उत्साहित

भारत सरकार को अपना फर्जी आधार कार्ड सौंपने को क्यों तैयार हैं ये रोहिंग्या

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चीन से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 23, 2020, 7:53 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading