अपना शहर चुनें

States

कोरोना: 21 दिन से दुबई एयरपोर्ट पर फंसे हैं 19 भारतीय, वीजा भी हो गए हैं रद्द

संयुक्त अरब अमीरात में फंसे भारतीयों की वतन वापसी की तैयारी हो चुकी है
संयुक्त अरब अमीरात में फंसे भारतीयों की वतन वापसी की तैयारी हो चुकी है

दुबई (Dubai) अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर पिछले 3 हफ़्तों से 19 भारतीय फंसे हुए हैं. इन सभी का कोरोना टेस्ट (Coronavirus) कराया जा चुका है और ये सभी नेगेटिव भी हैं. हालांकि इन्हें वापस लेने के संदर्भ में भारत की तरफ से अभी तक कोई सकारात्मक प्रतिक्रिया नहीं आई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 14, 2020, 8:59 AM IST
  • Share this:
दुबई. कोरोना महामारी ((Coronavirus) के मद्देनज़र भारत में देशव्यापी लॉकडाउन लागू है और सभी तरह की अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर भी प्रतिबंध लगाया हुआ है. इसी दौरान बीते 21 दिनों से 19 भारतीय दुबई  (Dubai) एयरपोर्ट पर फंसे हुए हैं. फ्लाइट्स बंद होने के चलते वे न तो भारत (India) आ पा रहे हैं और UAE में सभी तरह के वीजा रद्द होने के बाद एयरपोर्ट से बहार भी नहीं निकल सकते हैं. इनमें से कुछ लोग वो भी हैं जो सफ़र के बीच में थे और दुबई से भारत आने के दौरान वहीं फंसे रह गए.

गल्फ न्यूज़ में छपी एक खबर के मुताबिक दुबई अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर पिछले 3 हफ़्तों से 19 भारतीय फंसे हुए हैं. इन सभी का कोरोना टेस्ट कराया जा चुका है और ये सभी नेगेटिव भी हैं. हालांकि इन्हें वापस लेने के संदर्भ में भारत की तरफ से अभी तक कोई सकारात्मक प्रतिक्रिया नहीं आई है. ये लोग कई दिन तक तो एयरपोर्ट की बेंच पर ही सो रहे थे लेकिन कोरोना नेगेटिव पाए जाने के बाद इन्हें एयरपोर्ट के होटल में शिफ्ट कर दिया गया है.

काफी भारतीय फंसे हैं!
दुबई एयरपोर्ट अथोरिटी के मुताबिक इन 19 लोगों के अलावा भी कई देशों के नागरिक फंसे हुए हैं. इन 19 भारतीयों को तो 25 मार्च को होटल में जगह दी गई थी और अभी ये वहीं रह रहे हैं. 22 मार्च सुबह चार बजे वाली अहमदाबाद की उड़ान छूट जाने के बाद फंसे एक यूएई बैंक के आईटी कर्मचारी अरुण सिंह (37) ने कहा, 'जब से हमें यहां (होटल में) रखा गया है, तब से मैं खा रहा हूं और सो रहा हूं और बस यही दोहरा रहा हूं. मैं यहां आराम में हूं, लेकिन घर वापस जाने को बेचैन हूं.' अन्य फंसे भारतीयों के विपरीत, सिंह के पास यूएई निवास वीजा है, लेकिन वह वीजा निलंबन की वजह से हवाईअड्डे को नहीं छोड़ सकते.
वहीं, 18 मार्च से फंसे दीपक गुप्ता ने कहा कि वह नई दिल्ली में अपनी गर्भवती पत्नी को लेकर चिंतित हैं. गुरुग्राम की एक बहु राष्ट्रीय कंपनी में उच्च पदस्थ कर्मचारी गुप्ता ने कहा कि ऐसे समय में पत्नी को मेरी जरूरत है और जल्द ही हमें हवाईअड्डे पर फंसे हुए एक महीना पूरा हो जाएगा. उन्होंने कहा कि मुझे अब निराशा हो रही है. अन्य लोगों की तरह गुप्ता भी नई दिल्ली की उड़ान के लिए यूरोप से दुबई उतरे थे.



UAE ने दी है चेतावनी
UAE ने सोमवार को एक चेतावनी जारी कर कहा है कि उन देशों पर कई कड़े प्रतिबंध लगाए जा सकते हैं जो कोरोना संक्रमण के तहत UAE में फंसे अपने नागरिकों को वापस नहीं बुला रहे हैं. ऐसे देशों के साथ UAE अपने सहयोग और श्रम संबंधों में बड़े बदलाव लाने की तैयारी में है, यहां के नागरिकों को वर्क वीजा देने पर भी प्रतिबंध लगाया जा सकता है. UAE में फिलहाल सबसे ज्यादा भारतीय प्रवासी रहते हैं. बता दें कि यूएई में करीब 33 लाख भारतीय प्रवासी रहते हैं जो इस देश की आबादी का लगभग 30 प्रतिशत है. इस देश में भारतीय राज्यों में से सर्वाधिक लोग केरल के हैं, उसके बाद तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश के लोग यहां रहते हैं.

 

यह भी पढ़ें:

देश की वो कंपनी जो तैयार कर रही है कोरोना की दवा, सरकार ने दिया है पैसा

क्यों बार-बार ये बात उठ रही है कि कोरोना के पीछे चीन की कोई साजिश है

ब्रिटेन में 'अपस्‍कर्टिंग कानून' बनने के पहले साल में 4 दोषियों को हुई जेल

कोरोना वायरस के हैं तीन रूप, जानिए किसने कहां मचाई तबाही
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज