अपना शहर चुनें

States

दूसरी बीवी से मिलने के लिए शख्स ने पुलिस से मांगा परमिट, जवाब मिला- एक से काम चलाइए...

सऊदी अरब में भी कोरोना के चलते लॉकडाउन लागू है.
सऊदी अरब में भी कोरोना के चलते लॉकडाउन लागू है.

दुबई (Dubai) पुलिस चीफ एक रेडियो कार्यक्रम में मौजूद थे जहां वे कोरोना वायरस (Coronavirus) और लॉकडाउन संबंधित सूचनाएं दे रहे थे. इस कार्यक्रम में कॉलर्स के सवाल पूछने की भी सुविधा थी. इस दौरान एक शख्स ने सवाल किया कि क्या उसे अपनी दूसरी बीवी से मिलने के लिए कर्फ्यू पास (परमिट) मिल सकता है?

  • Share this:
दुबई. सऊदी अरब (Saudi Arabia) में अभी तक कोरोना संक्रमण (Coronavirus) के 2700 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं जबकि 41 लोगों की इससे मौत भी हो गयी है. देश में सख्ती से लॉकडाउन लागू किया गया है और संक्रमित इलाकों में स्टरलाइजेशन प्रोग्राम (विसंक्रमण कार्यक्रम) लागू किया गया है. ऐसे में दुबई (Dubai) पुलिस के पास लॉकडाउन से जुड़े कुछ ऐसे सवाल आ रहे हैं जिन्हें सुनकर किसी के भी चेहरे पर मुस्कराहट आ जाए.

गल्फ न्यूज़ के मुताबिक दुबई पुलिस ने मंगलवार को बताया कि बीते दिन उन्हें एक फोन कॉल आया जिसमें शख्स ने अपनी दूसरी पत्नी के घर जाने के लिए कर्फ्यू पास की मांग की. असल में दुबई पुलिस चीफ एक रेडियो कार्यक्रम में मौजूद थे जहां वे कोरोना वायरस और लॉकडाउन संबंधित सूचनाएं दे रहे थे. इस कार्यक्रम में कॉलर्स के सवाल पूछने की भी सुविधा थी. इस दौरान एक शख्स ने सवाल किया कि क्या उसे अपनी दूसरी बीवी से मिलने के लिए कर्फ्यू पास (परमिट) मिल सकता है?

सवाल सुनकर हंसने लगे दुबई पुलिस चीफ
उस शख्स का ये सवाल सुनकर रेडियो पर लाइव मौजूद दुबई ट्रैफिक पुलिस के चीफ ब्रिगेडियर सैफ मुहैर अल माजरोइ भी हंसने लगे. उन्होंने आगे कहा कि ये तो दूसरी बीवी से न मिलने का एक अच्छा बहाना है कि आपके पास उनसे मिलने के लिए पास नहीं है. इसके बाद उन्होंने कहा कि फिलहाल ऐसे मामलों में परमिट नहीं दिया जा रहा है. कुछ दिन आप एक ही बीवी के साथ रहिए, ऐसे ही काम चला लीजिए.
रेडियो कार्यक्रम में सैफ मुहैर ने बताया कि मुझे लॉकडाउन के बाद से इस तरह के सैकड़ों फोन कॉल आ चुके हैं. ये परमिट सिर्फ उन लोगों के लिए है जो ज़रूरी करार दी गई नौकरियों या फिर मेडिकल इमरजेंसी में बहार निकल रहे हैं. अगर हम लोगों को सामान खरीदने या फिर किसी से मिलने-जुलने के लिए पास देने लगेंगे तो लॉकडाउन का कोई मतलब ही नहीं रह जाएगा. हम संक्रमण वाले इलाकों को क्लीन कर रहे हैं और इन जगहों पर किसी को भी जाने की अनुमति नहीं है.



ये भी देखें:-

दस्ताने पहनने के बावजूद कैसे तेज़ी से फैल सकते हैं जर्म्स?

Coronavirus: 10 जिलों में हैं देश के कुल मरीजों के 30 फीसदी संक्रमित

400 साल पहले महामारी के समय ली प्रतिज्ञा को अब तक निभा रहे गांववाले

Ozone Layer में बन रहा है एक और Hole, कहां बन रहा है यह और कितना है खतरनाक
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज