कोरोना: स्पेन में 26 अप्रैल तक इमरजेंसी जारी रखने का प्रस्ताव, लॉकडाउन में दी जाएगी छूट

कोरोना: स्पेन में 26 अप्रैल तक इमरजेंसी जारी रखने का प्रस्ताव, लॉकडाउन में दी जाएगी छूट
फ्रांस में 8 सप्ताह के बाद लॉकडाउन से राहत मिली है Photo/Michel Euler)

कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण से बुरी तरह जूझ रहे स्पेन (Spain) के प्रधानमंत्री पेड्रो सांचेज ने 26 अप्रैल तक इमरजेंसी (emergency) बढ़ाने का प्रस्ताव दिया है.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
मैड्रिड: स्पेन (Spain) में कोरोना वायरस (Coronavirus) की महामारी चरम पर है. इस बीच स्पेन के प्रधानमंत्री ने संसद से इमरजेंसी बढ़ाने की इजाजत मांगी है. कोरोना वायरस के चरम पर होने के बावजूद स्पेन धीरे-धीरे लॉकडाउन में थोड़ी छूट देने वाला है. लेकिन इस बीच स्पेन के प्रधानमंत्री पेड्रो सांचेज ने संसद से कहा है कि उन्हें 26 अप्रैल तक इमरजेंसी बढ़ाने की अनुमति दी जाए.

कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से स्पेन की संसद खाली थी. स्पेन के बहुत सारे सांसद अपने घर से काम कर रहे हैं. तकरीबन खाली संसद से प्रधानमंत्री पेड्रो सांचेज ने कहा कि हम महामारी के चरम पर पहुंच चुके हैं और अब लॉकडाउन में धीरे-धीरे छूट दी जाएगी. उन्होंने कहा कि ये सब सावधानी से करना होगा. हमें धीरे-धीरे नॉर्मल लाइफ की तरफ बढ़ना होगा. मौजूदा संकट को देखते हुए कुछ भी तुरंत करना ठीक नहीं होगा.

धीरे-धीरे नॉर्मल लाइफ की तरफ बढ़ने की कोशिश करेगा स्पेन
प्रधानमंत्री पेड्रो सांचेज ने कहा कि चढ़ाई मुश्किल होती है, उसी तरह से ढलान भी. हमलोग 1918 में फैले फ्लू के बाद पूरी धरती के सबसे बड़े स्वास्थ्य संकट से जूझ रहे हैं. उन्होंने कहा कि नॉर्मल एक्टिविटी कई फेज में वापस लौटेगी. हम आखिरी चीज एक कदम वापस लौटने जैसा कुछ करेंगे क्योंकि ये पिछड़ने से ज्यादा अच्छा है. इस बात को भी ध्यान में रखना होगा कि वायरस का संक्रमण वापस लौट सकता है.



स्पेन की सरकार के मुखिया ने कहा कि यूरोप के लिए किसी दूसरे की तरफ देखना मुनासिब नहीं है. उन्होंने सभी सांसदों से कोरोना वायरस से लड़ने में साथ आने को कहा. उन्होंने कहा कि अगर हम वायरस के खिलाफ साथ नहीं आए तो यूरोपियन यूनियन खतरे में पड़ जाएगा.



स्पेन कोरोना से बुरी तरह से प्रभावित दुनिया का दूसरा देश
स्पेन के प्रधानमंत्री ने विपक्षी सांसदों से कहा कि सरकार एक प्लान पर काम कर रही है, ताकि देश को वापस पटरी पर लाया जाए. धीरे-धीरे नॉर्मल लाइफ बहाल हो. लेकिन हमें अभी ये भी नहीं जानते कि हम किस तरह के नॉर्मल लाइफ की ओर लौटने वाले हैं.

स्पेन पूरी दुनिया में कोरोना वायरस से बुरी तरह प्रभावित दूसरा देश है. अमेरिका सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ है. स्पेन में वायरस संक्रमण के डेढ़ लाख मामले सामने आए हैं. यहां संक्रमण की वजह से 14,792 मौतें दर्ज हुई हैं.

ये भी पढ़ें:

कोरोना वायरस से संक्रमित हैं सऊदी अरब की रॉयल फैमिली के 150 सदस्य

कोरोना: पाक की फटेहाली, राष्ट्रपति के मास्क पहनने पर हुआ विवाद, देनी पड़ी सफाई

मोटे लोगों को कोरोना वायरस से ज्यादा खतरा, एक्सपर्ट डॉक्टर ने किया अलर्ट

दुनिया में कोरोना Live: अमेरिकी कोरोना मॉडल ने बताया, ब्रिटेन में संक्रमण से हो सकती हैं 66000 मौतें

भारत में क्यों बढ़ रहा डॉक्टरों और नर्सों पर कोरोना का ख़तरा
First published: April 9, 2020, 8:15 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading