COVID-19: पाकिस्तान के कई प्रांतों में ईद के दौरान पूर्ण लॉकडाउन का ऐलान, अब तक 18 हजार से ज्यादा मौतें

कोरोना वायरस की वजह से लगे लॉकडाउन के दौरान पाकिस्तान के कराची में मदनी मस्जिद तबलीगी केंद्र के पास से मोटरसाइकिल पर गुजरता एक व्यक्ति. (Reuters/31 March 2020)

कोरोना वायरस की वजह से लगे लॉकडाउन के दौरान पाकिस्तान के कराची में मदनी मस्जिद तबलीगी केंद्र के पास से मोटरसाइकिल पर गुजरता एक व्यक्ति. (Reuters/31 March 2020)

Pakistan Coronavirus Lockdown: पाकिस्तान में अब तक 18,537 लोगों की कोरोना वायरस के कारण मौत हो चुकी है, जबकि संक्रमण के 845,833 मामले आ चुके हैं.

  • Share this:

लाहौर. पंजाब, सिंध, खैबर पख्तूनख्वा और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर के प्रशासन ने पाकिस्तान में ईद-उल-फित्र के दौरान कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए आठ से 15 मई के बीच पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की है. ‘एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ ने बृहस्पतिवार को खबर दी है कि सरकार की ओर से कोविड-19 के प्रसार को थामने के लिए कदम उठाने के बावजूद देश में संक्रमण के मामलों में उछाल देखा जा रहा है.


पंजाब की स्वास्थ्य मंत्री यासमीन राशिद ने कहा, 'आठ दिन के लॉकडाउन के दौरान दुकानें, शॉपिंग मॉल और बाजार बंद रहेंगे.' उन्होंने कहा कि ईद के दौरान लोगों की आवाजाही को नियंत्रित करने के लिए पुलिस, रेंजर्स और सैन्य कर्मियों को तैनात किया जाएगा.


यूनीसेफ ने भारत में कोरोना के हालात को बताया ‘भयानक’, कहा- यह पूरी दुनिया के लिए चेतावनी की घंटी


राशिद ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान, दवाई, कोरोना वायरस टीकाकरण केंद्र, पेट्रोल पंप, किराने की छोटी दुकानें, डेयरी, सब्जी, फलों और गोश्त की दुकानें खुली रहेंगी. खैबर पख्तूनख्वा, सिंध और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर के प्रशासनों ने भी इसी तरह के नोटिस जारी किए हैं.



योजना मंत्री और एनसीओसी के प्रमुख असद उमर ने कहा था कि विस्तारित टीकाकरण अभियान के साथ सख्त एहतियाती उपायों का सकारात्मक प्रभाव पड़ा है. खबर कहती है कि महामारी की तीसरी लहर मार्च में आई थी. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान में अब तक 18,537 लोगों की कोरोना वायरस के कारण मौत हो चुकी है, जबकि संक्रमण के 845,833 मामले आ चुके हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज