लाइव टीवी

इटली में 6 हजार यात्रियों से भरे जहाज में मची अफरा-तफरी, मिले कोरोना वायरस के 2 संदिग्ध

News18Hindi
Updated: January 31, 2020, 1:34 PM IST
इटली में 6 हजार यात्रियों से भरे जहाज में मची अफरा-तफरी, मिले कोरोना वायरस के 2 संदिग्ध
कोरोनावायरस के कारण 6 हजार यात्री फंसे (फोटो-प्रतीकात्मक)

इटली (Italy) में गुरुवार को 6 हजार से अधिक पर्यटकों को ले जा रहे एक जहाज पर कोरोना वायरस (Coronavirus) के दो संदिग्ध मामले सामने आने पर उसे रोक दिया गया है. यह कब आगे बढ़ेगा इसकी अभी कोई जानकारी नहीं है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 31, 2020, 1:34 PM IST
  • Share this:
सिवितावेकिया (इटली). कोरोना वायरस (Coronavirus) का डर लोगों के दिलों दिमाग में छाया हुआ है. इसके कहर ने दुनिया के कई देशों को अपनी चपेट में ले रखा है. वायरस के डर के कारण करीब 6 हजार लोग इटली (Italy) में फंस गए हैं. दरअसल हुआ यूं कि इटली में गुरुवार को छह हजार से अधिक पर्यटकों को ले जा रहे एक जहाज पर कोरोना वायरस के दो संदिग्ध मामले सामने आने पर उसे रोक दिया गया है. यह कब आगे बढ़ेगा इसकी अभी कोई जानकारी नहीं है.

बताया जा रहा है कि क्रूज शिप में मौजूद चीन के एक कपल की अचानक तबीयत खराब हो गई, उन्होंने बताया कि वे दोनों सर्दी-जुकाम से पीड़ित हैं. उसके बाद दोनों की जांच के लिए क्रूज शिप को इटली में रोक दिया गया.

डॉक्टरों की टीम ने लिए नमूने
स्थानीय स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि सिवितावेकिया में कोस्टा क्रोसिएरे नाम के जहाज पर बुखार से पीड़ित एक महिला को देखने के लिए तीन डॉक्टर और एक नर्स को भेजा गया. जिसके बाद चीनी जोड़े के नमूनों को जांच के लिए भेज दिया गया. कोस्टा क्रोसिएरे जहाज में करीब छह हजार लोग सवार थे. मकाउ की एक 54 वर्षीय महिला को अलग जगह रखा गया है.



वुहान से भारतीयों को किया जाएगा एयरलिफ्ट
चीन में संक्रमण से मरने वालों की संख्या 213 तक पहुंच गई है. जिसको देखते हुए भारत सरकार ने वुहान से भारतीय छात्रों को एयरलिफ्ट कर स्वदेश लाने के एयर इंडिया का प्लेन रवाना कर दिया है. सरकार की योजना है कि दो प्लेन के जरिए वुहान में फंसे भारतीयों को निकाला जाएगा. भारत लाने के बाद इन्हें करीब 28 दिनों तक आइसोलेशन (संक्रमण फैलने से रोकने के लिए उन्हें एकांत और सुरक्षित जगह) में रखा जाएगा.

आमतौर पर संक्रमण फैलने से रोकने के लिए प्रभावित लोगों को 14 दिन तक अलग रखा जाता है. लेकिन कोरोना वायरस के संक्रमण के मामलों में ज्यादा गंभीरता बरती जा रही है. इसलिए अलग रखने की अवधि दोगुनी कर दी गई है.

ये भी पढ़ें: कोरोना वायरस: चीन के शहर वुहान से ऐसे एयरलिफ्ट किए जाएंगे भारतीय

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 31, 2020, 1:16 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर