अफगानिस्तान, कुवैत और बहरीन तक पहुंचा कोरोना वायरस, ईरान में अब तक 12 लोगों की मौत

अफगानिस्तान, कुवैत और बहरीन तक पहुंचा कोरोना वायरस, ईरान में अब तक 12 लोगों की मौत
चाइना डेली के मुताबिक शंघाई में कोरोना से संक्रमित मरीजों की रिकवरी तेज हुई है.

कुवैत (Kuwait) और बहरीन (Bahrain) के स्वास्थ्य मंत्रालयों ने कोरोना वायरस (Coronavirus) के अपने यहां पहले मामलों की सोमवार को घोषणा की और कहा कि ये सभी मामले ईरान से आए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 24, 2020, 2:52 PM IST
  • Share this:
दुबई. कोरोना वायरस (Coronavirus) का कहर चीन के साथ दुनिया के कई देशों में फैलता जा रहा है. कुवैत और बहरीन के स्वास्थ्य मंत्रालयों ने कोरोना वायरस के अपने यहां पहले मामलों की सोमवार को घोषणा की और कहा कि ये सभी मामले ईरान से आए हैं. कुवैत (Kuwait) ने कोरोना वायरस से संक्रमण के तीन मामलों और बहरीन ने एक मामले की खबर दी है. दोनों देशों ने बताया कि संक्रमण की चपेट में आए ये लोग ईरान से घर लौटे हैं. ईरान (Iran) में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 4 से 12 हो गई.

चीन में महामारी बन चुके कोरोना वायरस का कहर ईरान में भी बढ़ता जा रहा है. संसद के बंद कमरे में हुए सत्र के बाद अर्द्ध-सरकारी समाचार एजेंसी ‘आईएसएनए’ ने अपनी एक खबर में ईरानी नेता असदुल्लाह अब्बासी के हवाले से कहा, 'स्वास्थ्य मंत्री ने घोषणा की कि देश में इससे 12 लोगों की जान गई है और 47 लोगों के इससे संक्रमित होने की पुष्टि हो चुकी है.'

अफगानिस्तान में भी आया मामला सामने
उधर अफगानिस्तान में कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आया है. देश के गृह मंत्री ने सोमवार को यह जानकारी दी. एक दिन पहले ही अफगानिस्तान ने घोषणा की थी कि वह ईरान के लिए हवाई और जमीनी यात्रा को निलंबित कर रहा है. स्वास्थ्य मंत्री फिरोजुद्दीन फिरोज ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, 'मैं हेरात में कोरोना वायरस के पहले पुष्ट मामले की घोषणा करता हूं.' उन्होंने नागरिकों से कहा कि वे ईरान से लगने वाले पश्चिमी प्रांत की यात्रा से बचें.
कोरोना वायरस चीन के लिए बड़ा खतरा बन चुका है. चीन से फैले कोरोना वायरस ने दुनियाभर में अबतक 79356 से अधिक लोगों को अपनी चपेट में ले लिया है. विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इस बीमारी का नाम 'कोविड-19' रखा है. अकेले चीन में इस बीमारी से संक्रमित 77,150 मामले की पुष्टि की है. कोरोना वायरस से अब तक 2619 लोगों की मौत हो चुकी है. चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने इसे कम्यूनिस्ट चीन के इतिहास में 'सबसे बड़ी हेल्थ इमरजेंसी' बताया है.



ये भी पढ़ें: कोरोना वायरस: भारत ने चीन को दिखाए सख्त तेवर
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज