US में जल्द खुलेंगे स्कूल, ट्रंप ने ब्राजील से आने वाले विदेशियों की एंट्री बैन की

US में जल्द खुलेंगे स्कूल, ट्रंप ने ब्राजील से आने वाले विदेशियों की एंट्री बैन की
ट्रंप दो हफ्ते से ले रहे हैं मलेरिया की दवा, व्हाइट हाउस ने दी जानकारी

ट्रंप (Donald Trump) ने ट्वीट कर कहा है कि अमेरिका में स्कूलों को जल्द से जल्द खोल देना चाहिए. राष्ट्रपति ने स्कूल खोलने की वजह के लिए लोगों को फॉक्स न्यूज़ का एक शो देखने की सलाह दी है जिसमें लॉकडाउन को 'स्टुपिड' बताया गया है.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
वाशिंगटन. अमेरिकी (US) राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने घोषणा की है कि अमेरिका में जल्द ही स्कूल फिर से खोल दिए जाएंगे. ट्रंप ने ट्वीट कर कहा है कि अमेरिका में स्कूलों को जल्द से जल्द खोल देना चाहिए. राष्ट्रपति ने स्कूल खोलने की वजह के लिए लोगों को फॉक्स न्यूज़ का एक शो देखने की सलाह दी है जिसमें लॉकडाउन को 'स्टुपिड' बताया गया है. उधर ट्रंप प्रशासन ने उन विदेशियों के अमेरिका आने पर पाबंदी लगा दी है जो पिछले 14 दिनों में ब्राज़ील (Brazil) गए थे.

ट्रंप ने फॉक्स न्यूज़ के जिस शो का हवाला दिया है उसमें स्कूल खोलने की वकालत की गयी है इसके अलावा लॉक डाउन के नियमों को बेकार का भी बताया गया है. इस कार्यक्रम में ट्रंप के 'ओपन अमेरिका अगेन' प्लान के पहले चरण के जरिए कोरोना की लड़ाई आगे बढ़ाने की वकालत की गयी है. साथ ही लॉकडाउन ख़त्म कर, अर्थव्यवस्था को चालू कर 4 करोड़ बेरोजगार अमेरिकियों को नौकरी देने का प्लान भी सुझाया गया है.

 



ब्राजील से आने वालों की एंट्री बैन
ब्राजील के कोरोना संक्रमण का हॉटस्पॉट बनने के बाद ट्रंप प्रशासन ने उन विदेशियों की देश में एंट्री बैन कर दी है जो पिछले 14 दिनों में ब्राज़ील गए थे. व्हाइट हाउस की एक प्रवक्ता ने कहा कि इस पाबंदी का उद्देश्य है कि बाहर से कोई नया केस देश में नहीं आए. व्हाइट हाउस की प्रेस सेक्रेटरी केली मैकेनी ने कहा, ''पाबंदी के फ़ैसले से हमें इस बात को सुनिश्चित करने में मदद मिलेगी कि जो विदेशी नागरिक ब्राज़ील में हैं वो हमारे मुल्क के लिए संक्रमण के अतिरिक्त स्रोत ना बनें.''



अमेरिकी लौट सकते हैं, विदेशी नहीं
इस पाबन्दी के मुताबिक जो भी ग़ैर-अमरीकी पिछले दो हफ़्ते के भीतर ब्राज़ील गए हैं उन्हें फ़िलहाल अमेरिका आने की अनुमति नहीं है. इस पाबंदी से दोनों देशों का कारोबार नहीं प्रभावित होगा. यह पाबंदी 28 मई से प्रभावी हो जाएगी. अमेरिका कई अन्य देशों पर भी आने वाले दिनों में ऐसी पाबंदियां लागू कर सकता है. इससे पहले अमेरिका ने चीन, ईरान, यूरोप के शेंगन इलाक़े, ब्रिटेन और आयरलैंड की यात्रा पर गए ग़ैर-अमरीकी नागरिकों के अमरीका आने पर पाबंदी लगाई थी. कनाडा और अमेरिका के बीच में पहले से ही ग़ैर-ज़रूरी यात्राओं पर पाबंदी को लेकर सहमति है.

बता दें कि ब्राज़ील में संक्रमितों की संख्या तीन लाख, 60 हज़ार हो गई है और अब तक 22 हज़ार से ज़्यादा लोगों की जान जा चुकी है. ब्राज़ील ने हाल ही में कोरोना वायरस के संक्रमण के मामले में रूस को पीछे छोड़ दिया था और अमरीका के बाद दूसरे नंबर पर आ गया था. दूसरी तरफ़ अमरीका में संक्रमितों की संख्या 16 लाख से ज़्यादा हो गई है और मरने वालों की तादाद एक लाख के क़रीब पहुंच गई है.

 

ये भी पढ़ें: 

कौन है भारतीय मूल का ये शख्स, जो तय कर रहा है ब्रिटेन में लाखों लोगों की किस्मत

कोरोना से रिकवरी के बाद भी खतरा कम नहीं, मरीजों हो रही थायरॉइड बीमारी

बीजिंग का वो खूनी चौक, जहां चीन ने 10 हजार से ज्यादा प्रदर्शनकारियों को गोलियों से भून दिया

कैंपों में बंद उइगर मुसलमानों पर चीनी बर्बरता, जीते-जी निकाले जा रहे किडनी और फेफड़े
First published: May 25, 2020, 9:12 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading