कोरोना वायरस: WHO ने सीरम इंस्टीट्यूट को याद दिलाया 'कोवैक्स' के लिए किया वादा

कोरोना वायरस रोधी टीका कोविशील्ड. (airnewsalerts twitter/16 may 2021)

कोरोना वायरस रोधी टीका कोविशील्ड. (airnewsalerts twitter/16 may 2021)

Coronavirus Vaccine WHO COVAX Initiative: संयुक्त राष्ट्र की बच्चों की एजेंसी यूनिसेफ ने भी कहा है कि भारत में कोरोना वायरस के मामलों में विनाशकारी वृद्धि के चलते कौवैक्स के तहत टीके की आपूर्ति प्रभावित हुई है.

  • Share this:

न्यूयॉर्क. विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के प्रमुख टेड्रोस अदनोम घेब्रेयियस ने कहा है कि भारत में विनाशकारी कोविड-19 का प्रकोप कम होने के बाद सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया को वैक्सीन की आपूर्ति के लिए कोवैक्स प्रतिबद्धताओं को पूरा करना होगा. कोवैक्स दुनिया भर में कोरोना वायरस वैक्सीन की आपूर्ति के लिए एक वैश्विक पहल है.

डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक ने एक दैनिक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि दुनिया भर में कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी के चलते वैश्विक वैक्सीन आपूर्ति प्रभावित हुई है और कौवैक्स के पास पहले ही जून के अंत तक 19 करोड़ खुराक की कमी है.

दुखद! दुनिया में साथ आए और साथ ही चले गए, कोविड ने मेरठ के दो जुड़वा भाइयों की ली जान

कोवैक्स यानी वैश्विक कोविड वैक्सीन समता योजना, के तहत अब तक 124 देशों को 6.5 करोड़ वैक्सीन दी गईं, लेकिन यह उन देशों और विनिर्माताओं पर निर्भर है, जिन्हें अपनी प्रतिबद्धताएं पूरी करनी हैं.
घेब्रेयियस ने कहा, ‘एक बार जब भारत में विनाशकारी प्रकोप कम हो जाएगा, तो जरूरी है कि सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया वापस पटरी पर लौटे और कोवैक्स के लिए अपनी आपूर्ति प्रतिबद्धताओं को पूरा करे.’


संयुक्त राष्ट्र की बच्चों की एजेंसी यूनिसेफ ने भी कहा है कि भारत में कोरोना वायरस के मामलों में विनाशकारी वृद्धि के चलते कौवैक्स के तहत टीके की आपूर्ति प्रभावित हुई है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज