• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • पाकिस्तान की जेल से रिहा होगा पत्रकार डेनियल पर्ल का हत्यारा उमर सईद शेख, कोर्ट ने दिया आदेश

पाकिस्तान की जेल से रिहा होगा पत्रकार डेनियल पर्ल का हत्यारा उमर सईद शेख, कोर्ट ने दिया आदेश

सिंध प्रांत सरकार ने उमर शेख सईद और उसके तीन साथियों को नहीं रिहा करने का फैसला लिया है. फोटो:. AP

सिंध प्रांत सरकार ने उमर शेख सईद और उसके तीन साथियों को नहीं रिहा करने का फैसला लिया है. फोटो:. AP

पाकिस्‍तान की एक अदालत (Court) ने वॉल स्‍ट्रीट जनरल के पत्रकार डेनियल पर्ल (Daniel Pearl) की हत्‍या में दोषी करार द‍िए गए आतंकी उमर सईद शेख को र‍िहा करने का आदेश द‍िया है.

  • Share this:
    इस्लामाबाद. पाकिस्तान की एक कोर्ट ने गुरुवार को पाकिस्तान (Pakistan) की जेल में बंद आतंकी उमर सईद शेख (Omar Saeed Sheikh) को रिहा करने के आदेश दिए हैं. उमर सईद शेख उन भारत द्वारा रिहा किए गए उन तीन आतंकियों में है जिसे 1999 में कंधार में भारतीय विमान में अपहृत यात्रियो के बदले में जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर के साथ छोड़ा गया था. उमर सईद को 2002 में पाकिस्तान में अमेरिकी पत्रकार डेनियल पर्ल की हत्या के मामले में सजा सुनाई गई थी. पाकिस्तान की सिंध हाई कोर्ट ने अमेरिकी पत्रकार हत्याकांड में उमर सईद शेख की भूमिका को खारिज कर दिया है. हाईकोर्ट ने शेख के साथ ही पर्ल हत्याकांड में जेल में बंद फहद नसीम, शेख आदिल और सलमान साकिब को भी रिहा करने के आदेश दिए हैं.

    शेख समेत इन चारों आरोपियों ने अप्रैल 2020 में 18 साल की सजा के बाद हाईकोर्ट में अपील की थी. जिस पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने शेख आदिल, नसीम और साकिब को हत्याकांड में भूमिका से बरी कर दिया था जबकि उमर सईद शेख की मौत की सजा को बदलकर 7 साल कर दिया था. उस समय तक ये सभी 18 साल सजा काट चुके थे इसलिए इस 7 साल को इसी में गिना गया. इसके साथ ही उस पर 20 लाख पाकिस्तानी रुपये जुर्माना भी लगाया गया था. उस समय इनकी रिहाई के कोर्ट के फैसले की काफी आलोचना हुई थी.

    केंद्र सरकार ने बढ़ाई थी हिरासत
    कोर्ट से आदेश के बाद पाकिस्तान सरकार ने एक आदेश जारी कर इन उमर शेख समेत इन चारों को 90 दिन की हिरासत में रखने का आदेश जारी किया. ये अवधि पूरी होने पर पाकिस्तान की केंद्रीय सरकार ने 90 दिन हिरासत में रखने का एक और आदेश जारी कर दिया जिसके बाद ये मामला फिर से कोर्ट में पहुंचा था. कोर्ट ने चारों को तत्काल रिहा करने का आदेश देते हुए कहा कि इन लोगों ने बिना किसी अपराध के जेल में 18 साल बिताए हैं. रिहाई के आदेश देते हुए कोर्ट ने कहा है कि इन चारों के नाम नो फ्लाई लिस्ट में रखे जाने चाहिए जिससे ये देश से बाहर न जा सकें. कोर्ट के फैसले पर अब पाकिस्तान सरकार का क्या रुख होगा इसका पता नहीं चल सका है. हालांकि पहले पाकिस्तान सरकार ने इनकी रिहाई का विरोध किया था.

    ये भी पढ़ें: पाकिस्तानी विदेश मंत्री बोले- वर्तमान हालात में भारत के साथ बातचीत की कोई संभावना नहीं

    सिर कलम कर हुई थी डेनियल पर्ल की हत्या
    38 वर्षीय डेनियल पर्ल 2002 में वाल स्ट्रीट जर्नल के दक्षिण एशिया ब्यूरो चीफ थे और उस दौरान पाकिस्तान में आतंकियों के एक नेटवर्क के खुलासे पर स्टोरी कर रहे थे इसी दौरान उनका अपहरण कर लिया गया था. बाद में अपहरणकर्ताओं ने सिर कलम कर उनकी हत्या कर दी थी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज