कोरोना: US में भारतीय मूल के डॉक्टर्स को कहा जा रहा है 'हीरो', कई ने जान गंवाई

कोरोना: US में भारतीय मूल के डॉक्टर्स को कहा जा रहा है 'हीरो', कई ने जान गंवाई
डॉक्टर माधवी की तरह कई भारतीय मोल के डॉक्टर्स कोरोना संक्रमण से जान गंवा चुके हैं.

कोरोना (Coronavirus) से बुरी तरह प्रभावित अमेरिका (US) और ब्रिटेन (Britain) में कई भारतीय (Indian) मूल के डॉक्टर्स और अन्य मेडिकल स्टाफ हैं जो कोरोना (Covid19) के मरीजों का इलाज करने में दिन-रात जुटे हुए हैं.

  • Share this:
वाशिंगटन. दुनिया भर में कोरोना संक्रमण (Coronavirus) के खिलाफ जारी जंग में फ्रंटलाइन पर डॉक्टर्स, नर्स और अन्य मेडिकल स्टाफ मोर्चा संभाले हुए हैं. कोरोना से बुरी तरह प्रभावित अमेरिका (US) और ब्रिटेन (Britain) में कई भारतीय (Indian) मूल के डॉक्टर्स और अन्य मेडिकल स्टाफ हैं जो कोरोना (Covid19) के मरीजों का इलाज करने में दिन-रात जुटे हुए हैं. भारतीय मूल के कई डॉक्टर अमेरिका और ब्रिटेन में भी इस लड़ाई में अपनी जान गंवा चुके हैं.

कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज का उपचार करने के दौरान खुद भी संक्रमण की चपेट में आई डॉ. माधवी अया अपने जीवन के अंतिम समय में अपने पति और अपनी बेटी से आखिरी बार मिलने की अधूरी तमन्ना के साथ ही इस दुनिया को अलविदा कह गईं. 61 वर्षीय डॉक्टर माधवी साल 1994 में अपने पति के साथ अमेरिका आई थीं. मार्च में एक कोरोना वायरस संक्रमित व्यक्ति का इलाज करने के दौरान वह कोविड-19 से संक्रमित हो गई थीं. उनका न्यूयॉर्क के एक अस्पताल में पिछले सप्ताह निधन हो गया. वह अपने जीवन के अंतिम समय में केवल मोबाइल के जरिए ही अपने परिवार से संपर्क कर सकती थीं.

लोगों के इलाज के लिए जीवन किया समर्पित
अमेरिका में डॉ. माधवी जैसे न जाने कितने भारतीय-अमेरिकी डॉक्टर्स हैं जो कोरोना वायरस के मरीजों का उपचार करते हुए स्वयं संक्रमित हो गए और इनमें से कई डॉक्टर्स की जान चली गई है तथा कई गंभीर रूप से बीमार हैं. स्थानीय समाचार पत्र 'सन-सेंटिनल' के मुताबिक, 'अया के मोबाइल के जरिए भेजे गए संदेश और उनके अंतिम दिनों के बारे में उनके परिवार के बयान दर्शाते हैं कि वह ऐसी महिला थीं जिन्होंने अपना जीवन चिकित्सा के लिए समर्पित कर दिया और कोविड-19 के मरीज के रूप में उनका निधन हुआ.'
भारतीय अमेरिका समुदाय के नेताओं ने कहा कि सदी के इस बड़े संकट के दौरान बड़ी संख्या में भारतीय-अमेरिकी डॉक्टर्स संक्रमित हुए हैं और इनमें से कई डॉक्टर्स की इस वायरस के कारण मौत हो गई है. संक्रमित हुए अधिकतर भारतीय-अमेरिकी डॉक्टर न्यूयॉर्क और न्यूजर्सी से बताए जा रहे हैं.



डॉक्टर रजत गुप्ता ने भी गंवाई जान
डॉक्टर रजत गुप्ता (बदला हुआ नाम) इस महीने की शुरुआत में न्यू जर्सी के एक अस्पातल के आपात कक्ष में कोरोना वायरस से एक मरीज की जांच कर रहे थे. तभी मरीज को उल्टी आ गई और उसने डॉक्टर गुप्ता के चेहरे पर उल्टी कर दी. इसके बाद वे भी बीमार पड़ गए और कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए. पुरजोर कोशिशों के बावजूद चिकित्सक उनकी जान नहीं बचा सके.

भारतीय मूल के अमेरिकी चिकित्सकों के संघ (एएपीआई) के सचिव रवि कोहली ने कहा, 'संक्रमित चिकित्सकों की सटीक संख्या जानना मुश्किल है. कम से कम 10 चिकित्सक गंभीर रूप से बीमार हैं. किडनी संबंधी रोगों की भारतीय अमेरिकी विशेषज्ञ प्रिया खन्ना (43) का इस सप्ताह की शुरुआत में न्यूजर्सी के एक अस्पताल में निधन हो गया. उनके पिता सत्येंद्र खन्ना (78) भी सर्जन हैं और वह भी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं. ऐसा बताया जा रहा है कि उनकी हालत गंभीर है और वह आईसीयू में हैं.

'हीरो हैं भारतीय मूल के डॉक्टर्स'
एएपीआई के उपाध्यक्ष डॉक्टर अनुपमा गोतीमुकुला ने कहा, 'भारतीय अमेरिकी चिकित्सक असल नायक है. उपचार करने के दौरान कई चिकित्सक संक्रमित हो गए, कुछ की मौत हो गई, कुछ आईसीयू में हैं और कुछ घर पर स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं.' समुदाय के लोग एएपीआई अध्यक्ष डॉक्टर अजय लोढा के लिए प्रार्थना कर रहे हैं, जो संक्रमित पाए गए हैं और न्यूयॉर्क के अस्पताल में आईसीयू में हैं.

बताया जा रहा है एएपीआई के पूर्व अध्यक्ष डॉक्टर गौतम समदर की पत्नी डॉ. अंजना समदर भी जीवन के लिए संघर्ष कर रही हैं और एक अन्य जाने माने भारतीय-अमेरिकी चिकित्सक डॉ सुनील मेहरा की हालत भी गंभीर है. इस वायरस से अमेरिका में 41,000 से अधिक लोगों की जान ले ली है और 7,63,000 से अधिक लोग संक्रमित हैं. भारतीय अमेरिकी सांसद राजा कृष्णमूर्ति ने कोरोना वायरस से निपटने में मदद कर रहे चिकित्सकों का आभार व्यक्त किया है.

 

ये भी पढ़ें:

इक्वाडोर दूतावास के एकांतवास में कैसे परवान चढ़ा जूलियन असांजे का प्यार, पढ़ें पूरी लव स्टोरी

इस युवा डीएम ने देश के पहले कोरोना हॉटस्‍पॉट को यूं किया ठीक

Coronavirus: भारतीय वैज्ञानिकों ने शुरू किया इस वैक्‍सीन का क्‍लीनिकल ट्रायल

जानें कैसे करें कोरोना से बचाव के लिए इस्‍तेमाल मास्‍क-ग्‍लव्‍स का निस्‍तारण
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज