Covid-19 दवाओं की जांच को गति दे सकता है ये उपकरण, जानें इसकी खासियत

Covid-19 दवाओं की जांच को गति दे सकता है ये उपकरण, जानें इसकी खासियत
कॉन्सेप्ट इमेज.

अनुसंधानकर्ताओं (Researchers) ने कहा कि उन्हें मानवीय कोशिकाओं में प्रोटीन के एक वर्ग, आयन चैनल की गतिविधि की निगरानी में सफलतापूर्वक इस्तेमाल किया गया है.

  • Share this:
लंदन. एक चिप (Chip) पर लगी मनुष्य की कोशिका की झिल्ली इस बात की लगातार निगरानी कर सकती है कि दवाएं एवं संक्रामक एजेंट हमारी कोशिकाओं को किस प्रकार प्रभावित करते हैं. वैज्ञानिकों ने सोमवार को कहा कि इस उपकरण का प्रयोग कोविड-19 (Covid-19) के लिए संभावित दवाओं की जांच करने में किया जा सकता है. ब्रिटेन की कैंब्रिज यूनिवर्सिटी और अमेरिका की कोरनेल यूनिवर्सिटी और स्टेनफोर्ड यूनिवर्सिटी के अनुसंधानकर्ताओं के मुताबिक यह उपकरण किसी भी प्रकार की कोशिका- जीवाणु, मानवीय या यहां तक कि पौधों की सख्त कोशिका भित्ति की भी नकल कर सकता है. इन उपकरणों को कोशिका झिल्ली के अभिविन्यास एवं कार्यक्षमता को संरक्षित रखते हुए चिप पर तैयार किया गया है.

अनुसंधानकर्ताओं ने कहा कि उन्हें मानवीय कोशिकाओं में प्रोटीन के एक वर्ग, आयन चैनल की गतिविधि की निगरानी में सफलतापूर्वक इस्तेमाल किया गया है. यह प्रोटीन 60 प्रतिशत से अधिक स्वीकृत दवाओं का लक्ष्य होता है. उन्होंने कहा कि कोशिका झिल्लियां जैविक संकेतन में केंद्रीय भूमिका निभाती हैं. वे कोशिका और बाहरी दुनिया के बीच द्वारपालक बन कर वायरस से होने वाले संक्रमण से लेकर दर्द में राहत दिलाने तक हर चीज को नियंत्रित करती हैं. अनुसंधानकर्ताओं की टीम ने एक ऐसा सेंसर तैयार करने का लक्ष्य रखा जो कोशिका झिल्लिी के सभी अहम पहलुओं जैसे उसका ढांचा, तरलता और आयन गतिविधि पर नियंत्रण आदि को संरक्षित रखे और वह भी कोशिका को जिंदा रखने के लिए बहुत अधिक समय लेने वाले कदमों के बिना.

ये भी पढ़ें: अमेरिका: इंसान के दिमाग को खाने वाले अमीबा का मामला आया सामने, डॉक्टरों ने किया सावधान



झिल्ली में बदलाव को नापता है यह उपकरण
यह उपकरण एक इलेक्ट्रॉनिक चिप का इस्तेमाल कर कोशिका से निकाली गई झिल्ली में किसी तरह के बदलाव को मापता है. इससे वैज्ञानिकों को सुरक्षित एवं आसान ढंग से यह समझने में मदद मिलेगी कि कोशिकाएं बाहरी दुनिया से कैसे प्रभावित होती हैं. साथ ही नई दवाओं और एंटीबॉडी की भी पहचान की जा सकती है. यह अध्ययन 'लांगमुइर' और 'एसीएस नैनो' पत्रिका में प्रकाशित हुआ है.

दुनिया में 1 लाख 80 हजार नए केस
उल्लेखनीय है कि दुनिया में कोरोना का कहर बरकरार है. रविवार को दुनिया भर में संक्रमण के 1 लाख 80 हजार नए केस सामने आए जिसके बाद कुल मामले बढ़कर अब 1 करोड़ 15 लाख से भी ज्यादा हो गए हैं. बीते 24 घंटों में 3600 से ज्यादा लोगों ने संक्रमण से अपनी जान भी गंवा दी और कुल मौतों की संख्या बढ़कर 5 लाख 36 हजार से भी ज्यादा हो गयी है. रविवार को अमेरिका में 44 हज़ार, ब्राजील में 26 हजार और भारत में 24 हजार नए मामले सामने आए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज