अपना शहर चुनें

States

बाइडन का संकल्प! कार्यकाल के पहले 100 दिन में 10 करोड़ लोगों को मिलेगी वैक्सीन

बाइडन का वादा! कार्यकाल के पहले 100 दिनों में 10 करोड़ लोगों को मिलेगी कोरोना वैक्सीन (फोटो- AP)
बाइडन का वादा! कार्यकाल के पहले 100 दिनों में 10 करोड़ लोगों को मिलेगी कोरोना वैक्सीन (फोटो- AP)

Coronavirus Vaccine Update: अमेरिका के प्रेजिडेंट इलेक्ट जो बाइडन ने वादा किया है कि 20 जनवरी को राष्ट्रपति पद की शपथ लेने के बाद पहले 100 दिनों के भीतर वे 10 करोड़ लोगों कोरोना वायरस की वैक्सीन उपलब्ध करा देंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 9, 2020, 2:42 PM IST
  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) ने कहा है कि अपने कार्यकाल के पहले 100 दिन में वह सभी के लिए मास्क पहनना अनिवार्य करेंगे, सुनिश्चित करेंगे कि 10 करोड़ लोगों का टीकाकरण (Coronavirus Vaccine) हो जाए और अधिकांश स्कूलों को फिर से खोलेंगे. उन्होंने अमेरिकी जनता को भरोसा दिलाया कि उनके विशेषज्ञों का दल बेहतर स्वास्थ्य सेवा मुहैया करवाएगा और अर्थव्यवस्था में नई जान फूंकेगा.

अमेरिका में कोरोना वायरस से अब तक करीब 1.5 करोड़ लोग संक्रमित हो चुके हैं जिनमें से 2,86,000 संक्रमितों की मौत हो चुकी है. दुनिया भर में कोविड-19 के 6.82 करोड़ मामले हैं और इस महामारी के कारण 15 लाख से अधिक लोगों की जान जा चुकी है. अपने राष्ट्रीय स्वास्थ्य दल की घोषणा करते हुए बाइडन ने ट्रंप प्रशासन से कहा कि फाइजर और मॉडर्ना के साथ हुई बातचीत के बाद अब वह उनकी खुराकें खरीदने के लिए कदम उठाए तथा अमेरिका एवं दुनियाभर के लिए टीके का उत्पादन बढ़ाने की खातिर तेजी से काम करे.

कोरोना को ख़त्म करना है प्राथमिकता
बाइडन ने मंगलवार को कहा, 'यह किया जा सकता है. अगर ऐसा होता है तो मेरा दल मेरे कार्यकाल के पहले 100 दिन में कम से कम 10 करोड़ लोगों का टीकाकरण कर सकेगा. इसके अलावा बच्चों को फिर से स्कूल भेजना राष्ट्रीय प्राथमिकता होनी चाहिए.' उन्होंने कहा, 'अगर कांग्रेस उतना धन मुहैया कराए जिसकी हमें छात्रों, शिक्षकों और कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए जरूरत है, यदि राज्य और शहर सार्वजनिक स्वास्थ्य के लिए ठोस उपाय करें जिनका कि हम सभी पालन करें तो मेरा दल यह सुनिश्चित करने का प्रयास करेगा कि अधिकांश स्कूल मेरे कार्यकाल के पहले 100 दिन में खुल जाएं.' बाइडन ने कहा कि उनके कार्यकाल के पहले 100 दिन में तीन महत्वपूर्ण लक्ष्य हैं- मास्क अनिवार्य करना, टीकाकरण और स्कूलों को फिर से खोलना.
डॉ. विवेक मूर्ति अमेरिका के सर्जन जनरल: नव निर्वाचित राष्ट्रपति ने जेवियर बेसेरा को स्वास्थ्य एवं मानवीय सेवा मंत्री, भारतवंशी डॉ. विवेक मूर्ति को अपना सर्जन जनरल, डॉ. एंथनी फाउसी को कोविड-19 पर राष्ट्रपति का प्रमुख चिकित्सा सलाहकार, डॉ. रोचेल वालेंस्की को रोग नियंत्रण एवं रोकथाम केंद्र का निदेशक तथा डॉ. मार्सेला नुनेज स्मिथ को कोविड-19 इक्विटी टास्क फोर्स की अध्यक्ष के रूप में चुना है. महामारी से निपटने के लिए अपनी टीम का परिचय करवाते हुए बाइडन ने डेलावेयर में मंगलवार को कहा कि आंरभ में नई सरकार की शीर्ष तीन प्राथमिकताएं होंगी. उन्होंने अमेरिकी जनता से अगले 100 दिन तक मास्क पहनने की अपील की ताकि कोरोना वायरस को फैलने से रोका जा सके. उन्होंने कहा कि संघीय कार्यालयों एवं सार्वजनिक परिवहन सेवाओं में इसे अनिवार्य किया गया है.



इसके बाद बाइडन ने इसी अवधि में दस करोड़ अमेरिकी लोगों के बीच टीका वितरित करने का वादा भी किया. नवनिर्वाचित राष्ट्रपति ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि उनके कार्यकाल के पहले 100 दिन के भीतर वायरस को इतना तो काबू में लाया जा सकेगा कि 'अधिकांश स्कूलों को' फिर से खोला जा सके. बाइडन ने कहा, 'बच्चों को फिर से स्कूल भेजना राष्ट्रीय प्राथमिकता होनी चाहिए.'

ट्रंप ने कोविड-19 टीके वाले शासकीय आदेश पर हस्ताक्षर किए
राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक शासकीय आदेश पर दस्तखत किए हैं जिसके तहत दूसरे देशों की मदद करने से पहले अमेरिकी लोगों तक कोविड-19 टीके की पहुंच सुनिश्चित करने को प्राथमिकता दी जाएगी. ट्रंप ने कहा कि अगर जरूरी हुआ तो वह सबसे पहले अमेरिकी नागरिकों को कोविड-19 का टीका सुनिश्चित करने के लिए रक्षा उत्पादन कानून भी लागू करेंगे. रक्षा उत्पादन कानून के जरिए राष्ट्रपति निजी कंपनियों को उत्पादन बढ़ाने का निर्देश दे सकेंगे. कंपनियों को संघीय सरकार की प्राथमिकताओं के हिसाब से टीके का निर्माण करना होगा. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए सबसे पहले अमेरिकी कंपनियों ने सुरक्षित और कारगर टीका तैयार किया.



ट्रंप ने व्हाइट हाउस में मंगलवार को शासकीय आदेश पर हस्ताक्षर करते हुए कहा, 'साथ मिलकर हम जल्द ही महामारी को खत्म कर देंगे तथा देश-दुनिया में लाखों लोगों की जान बचाएंगे. हमने इसके लिए तैयारी शुरू कर दी है.' ट्रंप प्रशासन ने कोविड-19 के सुरक्षित और प्रभावी टीके के उत्पादन और वितरण के संबंध में ‘ऑपरेशन वार्प स्पीड’ की शुरुआत की थी. ट्रंप ने संवाददाताओं से कहा कि उनके प्रशासन ने कोरोना वायरस टीके के विकास के लिए 14 अरब डॉलर राशि की मदद की है. उन्होंने कहा कि सरकार की मदद के बाद दवा कंपनियों फाइजर और मॉडर्ना को टीका विकसित करने में मदद मिली. फाइजर ने ‘ऑपरेशन वार्प स्पीड’ से अलग अपना टीका तैयार किया है लेकिन इसके निर्माण और वितरण के लिए उसने अमेरिकी सरकार के साथ तालमेल किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज