पुलिस की पिस्तौल छीन भागा अपराधी, पुलिस ने इतने इंतजाम के बाद 5 दिन में पकड़ा

पुलिस की पिस्तौल छीन भागा अपराधी, पुलिस ने इतने इंतजाम के बाद 5 दिन में पकड़ा
जर्मन पुलिस ने 31 वर्षीय अपराधी को पांच दिन जंगल की खाकर छानकर पकड़ा (प्रतीकात्मक तस्वीर)

जर्मन पुलिस (German Police) ने रैम्बो नाम के एक संदिग्ध बंदूकधारी को ब्लैक फ़ॉरेस्ट में पांच दिन की खोजबीन के बाद गिरफ्तार (Rambo Arrested) किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 18, 2020, 11:53 AM IST
  • Share this:
बर्लिन. जर्मन पुलिस (German Police) ने रैम्बो नाम के एक संदिग्ध बंदूकधारी को ब्लैक फ़ॉरेस्ट में पांच दिन की खोजबीन के बाद गिरफ्तार (Rambo Arrested) किया है. 31 वर्षीय आरोपी यवेस रौश ने बताया कि वह चार पुलिस अधिकारियों को धमकी देने और उनकी पिस्तौल छीन लेने के बाद रविवार को दक्षिण-पश्चिम जर्मनी में ओपेनॉ के पास जंगल में भाग गया था. रौश को खोजने के लिए एक यूनिट, हेलिकॉप्टर (Helicopter), थर्मल डिटेक्टर और खोजी कुत्तों को तैनात किया गया था. इस ऑपरेशन की सबसे महत्वपूर्ण बात यह रही कि पुलिस ने इस ऑपरेशन में 2,530 से अधिक अधिकारियों को शामल किया.

अपराधी रौश के पास से मिले ये हथियार

उप क्षेत्रीय पुलिस प्रमुख जर्गन रीगर ने संवाददाताओं को बताया कि संदिग्ध रौश जंगल में एक एक झाड़ी में छिपा हुआ मिला जिसके सामने चार हैंडगन और गोद में एक कुल्हाड़ी पड़ी मिली थी. एक पुलिस अधिकारी और रौश इस ऑपरेशन में घायल हो गए थे लेकिन किसी को भी अस्पताल में भर्ती करने की इलाज की जरूरत नहीं पड़ी. यह वाकया एक डाक कर्मी की पुलिस को दी गई सूचना से शुरू हुआ.



रौश को उसकी मां भी वुडमैन पुकारती थी
मेयर उवे गेसर ने कहा कि हमारे शहर के लिए यह एक अच्छी खबर है क्योंकि इससे अपराधियों को एक सबक मिलेगा. पुलिस ने मिस्टर रौश को जंगल के किनारे एक झोपड़ी के बाहर देखा था. पहली नजर में ही वह हमले के लिए पूरी तरह से तैयार दिखा क्योंकि उसने पुलिस अधिकारियों को देखते ही पिस्तौल निकाल कर उन पर हमला कर दिया था. पुलिस का कहना है कि वह लंबे समय से ओपानाऊ के इस इलाके में रह रहा था और इलाके के जंगल को बहुत अच्छी तरह से जानता था. उसकी माँ भी उसे वुड मैन कहा करती थी और उसने पुलिस को यह बताया कि रौश जंगल में ही रहना चाहता था.

ये भी पढ़ें: ब्लड टेस्ट के 98.6% नतीजे सही मिले, 20 मिनट में कोरोना संक्रमण का लगाता है पता

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की चाहत, मास्क पहनने से मिले जनता को आजादी

रौश का एक लंबा आपराधिक रिकॉर्ड रहा है. दस साल पहले उसे एक क्रॉसबो के साथ एक महिला को गोली मारने के लिए तीन साल से अधिक की सजा सुनाई गई थी. पिछले साल उन्हें विस्फोटक के कब्जे की जांच के दौरान चाइल्ड पोर्नोग्राफी के कब्जे में पाया गया था. उसने पिछले साल एक स्थानीय सराय के ऊपर एक फ़्लैट किराए पर लिया था जहां उसने एक शूटिंग रेंज बना रखी थी और वह वहाँ गोली चलाने का अभ्यास किया करता था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज