4 महीने से ब्रेन डेड थी महिला, बच्ची के जन्म के तीन दिन बाद छोड़ी दुनिया

मामला चेक रिपब्लिक (Czech Repulbic) का है. 15 अगस्त को महिला ने ब्रेन डेड रहते हुए एक बच्ची को जन्म दिया. डॉक्टरों के मुताबिक, डिलीवरी सीजेरियन सेक्शन के जरिए हुई.

News18Hindi
Updated: September 3, 2019, 3:41 PM IST
4 महीने से ब्रेन डेड थी महिला, बच्ची के जन्म के तीन दिन बाद छोड़ी दुनिया
ब्रेन डेड महिला की सफल डिलिवरी कराकर बर्नो यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल ने एक रिकॉर्ड बनाया है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)
News18Hindi
Updated: September 3, 2019, 3:41 PM IST
चेक- चेक रिपब्लिक में करीब 4 महीने से ब्रेन डेड (Brain Dead) महिला ने एक बच्ची को जन्म दिया. 27 साल की प्रेग्नेंट महिला को इस साल अप्रैल में बर्नो यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था. उनके कई अंग खराब हो जाने के बाद दिमाग भी काम नहीं कर रहा था, जिसके बाद डॉक्टरों ने महिला को ब्रेन डेड घोषित कर दिया था. इसके 117 दिन बाद डॉक्टरों ने उस महिला की सफल डिलीवरी कराई. हालांकि, बच्ची को जन्म देने के तीन दिन बाद महिला की मौत हो गई.

इस ब्रेन डेड महिला ने 15 अगस्त को एक बच्ची को जन्म दिया. डॉक्टरों के मुताबिक, डिलीवरी सीजेरियन सेक्शन के जरिए हुई. बच्ची पूरी तरह से स्वस्थ है. उसका वजन 2.13 किलोग्राम और लंबाई 42 सेंटीमीटर (16.5 इंच) है. ब्रेन डेड महिला की सफल डिलीवरी कराकर बर्नो यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल ने एक रिकॉर्ड बनाया है.

डॉक्टरों ने बताया कि जब महिला को हॉस्पिटल लाया गया था, वह 27 हफ्ते की प्रेग्नेंट थी. लिहाजा डॉक्टरों ने प्रेग्नेंसी को जारी रखने के लिए महिला को आर्टिफिशियल सपोर्ट सिस्टम पर रखा. यहां तक कि रोजाना महिला के पैरों की मूवमेंट कराई जाती थी, ताकि बच्ची के ग्रोथ का पता लगाया जा सके.

SURGERY
प्रेग्नेंसी के 34वें हफ्ते में डिलीवरी हुई.


प्रेग्नेंसी के 34वें हफ्ते में डिलीवरी हुई. बच्ची को जन्म देने के बाद परिवार के लोगों की सहमति के बाद महिला से लाइफ सपोर्ट सिस्टम हटा लिया गया. डिलीवरी के तीन दिन बाद 19 अगस्त को महिला ने इस दुनिया को छोड़ दिया.

ब्रेन डेड अजय ने 4 लोगों को दी नई जिंदगी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 3, 2019, 9:02 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...