चेक रिपब्लिक में कोरोना वैक्सीन लेने के बाद 6 लोगों की संदिग्ध मौत! जांच में जुटी एजेंसी

चेक रिपब्लिक की राजधानी प्राग में एक वैक्सीनेशन सेंटर पर कोरोना रोधी टीका लेते लोग. (Reuters/9 April 2021)

चेक रिपब्लिक की राजधानी प्राग में एक वैक्सीनेशन सेंटर पर कोरोना रोधी टीका लेते लोग. (Reuters/9 April 2021)

Czech Republic Coronavirus News: एसयूकेएल ने पिछले हफ्ते वैक्सीनेशन के बाद उससे संबंधित 3933 मामले रजिस्टर किए, इनमें से 311 केस ऐसे हैं जो कि एक सप्ताह से ज्यादा पुराने हैं. वहीं मौत के 6 मामले आए हैं,

  • Share this:

प्राग. चेक गणराज्य में पिछले सप्ताह कोरोना वायरस रोधी टीका लेने के बाद छह लोगों की मौत का संदिग्ध मामला सामने आया है. स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ ड्रग कंट्रोल (एसयूकेएल) ने गुरुवार को यह जानकारी दी. एजेंसी ने अपने बयान में कहा, 'एसयूकेएल ने पिछले हफ्ते वैक्सीनेशन के बाद उससे संबंधित 3933 मामले रजिस्टर किए, इनमें से 311 केस ऐसे हैं जो कि एक सप्ताह से ज्यादा पुराने हैं. वहीं मौत के 6 मामले आए हैं, जो कि संभवतया कोरोना रोधी टीका से जुड़ा हो सकता है. यूरोपियन मेडिसिन एजेंसी (ईएमए) और एसयूकेएल दोनों ही सभी मामलों की जांच कर रहे हैं.'


लगातार दूसरे दिन राहुल गांधी का सरकार पर वार, कहा- दवाओं के साथ पीएम भी गायब


देश में कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए फिलहाल लोगों को फाइजर/बायो एन टेक, मॉडर्ना, एस्ट्राजेनेका और जॉनसन एंड जॉनसन के कोरोना रोधी टीके लगाए जा रहे हैं. हालांकि अधिकतर लोगों को वैक्सीनेशन के दौरान फाइजर कंपनी द्वारा विकसित कोरोना वैक्सीन के डोज दिए गए हैं.



स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, अब तक 30.9 लाख लोगों को कोरोना वायरस रोधी वैक्सीन की पहली खुराक दी जा चुकी है, जबकि 10 लाख से अधिक की आबादी का टीकाकरण पूरा हो चुका है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज