Home /News /world /

ओमिक्रॉन के कारण बढ़ेंगी मौतें और अस्पतालों में लगेगी भीड़! यूरोपीय एजेंसी ने चेताया

ओमिक्रॉन के कारण बढ़ेंगी मौतें और अस्पतालों में लगेगी भीड़! यूरोपीय एजेंसी ने चेताया

यूरोपीय हेल्थ एजेंसी ने ओमिक्रॉन को लेकर बढ़ते खतरे पर चेतावनी दी है. (तस्वीर-AP)

यूरोपीय हेल्थ एजेंसी ने ओमिक्रॉन को लेकर बढ़ते खतरे पर चेतावनी दी है. (तस्वीर-AP)

Omicron Update: यूरोपियन सेंटर फॉर डिजीज प्रोटेक्शन एंड कंट्रोल (ECDC) का कहना है कि आगामी हफ्तों में यूरोप में ओमिक्रॉन वैरिएंट का प्रसार बढ़ सकता है. एजेंसी ने वैक्सीनेशन की धीमी रफ्तार पर चिंता जाहिर करते हुए कहा है कि ओमिक्रॉन के तेज प्रसार के पीछे एक मुख्य वजह यह भी बन सकता है. ECDC की डायरेक्टर एंड्रिया एमॉन ने कहा है-वर्तमान स्थिति को ओमिक्रॉन वैरिएंट के उभार ने और ज्यादा चिंताजनक बना दिया है.

अधिक पढ़ें ...

    ब्रसेल्स. यूरोपीय हेल्थ एजेंसी (European Health Agency) ने चेतावनी दी है कि कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) के कारण मौत (Death) और हॉस्पिटलाइजेशन (Hospitalization) बढ़ सकते हैं. यूरोपियन सेंटर फॉर डिजीज प्रोटेक्शन एंड कंट्रोल (ECDC) का कहना है कि आगामी हफ्तों में यूरोप में ओमिक्रॉन वैरिएंट का प्रसार बढ़ सकता है. एजेंसी ने वैक्सीनेशन की धीमी रफ्तार पर चिंता जाहिर करते हुए कहा है कि ओमिक्रॉन के तेज प्रसार के पीछे एक मुख्य वजह यह भी बन सकता है. ECDC की डायरेक्टर एंड्रिया एमॉन ने कहा है-वर्तमान स्थिति को ओमिक्रॉन वैरिएंट के उभार ने और ज्यादा चिंताजनक बना दिया है.

    दरअसल इस वक्त 19 यूरोपीय देशों में ओमिक्रॉन के कुल 274 मामले सामने आए हैं. बीते नवंबर महीने से महाद्वीप में कोरोना के मामले बढ़ना (Rising Covid-19) शुरू हो गए हैं. इससे भी गंभीर बात ये है कि कोरोना की वजह से मौतों का आंकड़ा (Rising Deaths) भी बढ़ा है. फ्रांस में साप्ताहिक मौतों का आंकड़ा 61 फीसदी तक बढ़ गया. वहीं यूनाइटेड किंगडम में 3 प्रतिशत तो स्विट्जरलैंड और स्लोवाकिया में 35 प्रतिशत का इजाफा हुआ है. पुर्तगाल में 49 प्रतिशत की वृद्धि हुई है.

    ओमिक्रॉन के नए वर्जन ने बढ़ाई चिंता
    अब ECDC की चिंता ये है कि ओमिक्रॉन वैरिएंट के प्रभाव के कारण मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हो सकता है. चिंता सिर्फ ओमिक्रॉन तक ही सीमित नहीं है. ऑस्ट्रेलिया, कनाडा और यूनाइटेड किंगडम में वैज्ञानिकों को ओमिक्रॉन का एक ऐसा वर्जन भी मिला है जो सामान्य RT-PCR टेस्ट को चकमा दे सकने में सक्षम है.

    ये भी पढ़ें: चीन के रोवर को चांद पर दिखी रहस्यमयी झोपड़ी, फोटो देखकर वैज्ञानिक रह गए हैरान

    विश्व स्वास्थ्य संगठन का मौजूदा वैक्सीन पर भरोसा
    हालांकि सुखद बात ये है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन की तरफ मौजूदा कोरोना वैक्सीन्स पर भरोसा दिखाया गया है. संगठन का कहना है कि इसकी कम आशंका है कि ओमिक्रॉन वैरिएंट मौजूदा वैक्सीन से मिलने वाली सुरक्षा को चकमा दे दे. WHO के इमरजेंसी डायरेक्टर माइकल रायन ने कहा है- अभी तक वैक्सीन सभी वैरिएंट पर कारगर रही हैं और ओमिक्रॉन के मामले में भी ऐसा ही होना चाहिए.

    फाइजर का दावा
    इस बीच फाइजर (Pfizer) ने कहा है कि उसके कोविड-19 रोधी टीके की एक बूस्टर खुराक नए ओमिक्रॉन स्वरूप से रक्षा कर सकती है, भले ही शुरुआती दो खुराक का प्रभाव काफी कम नजर आए. फाइजर और उसके सहयोगी बायोएनटेक ने कहा कि प्रयोगशाला परीक्षणों में दिखा कि ओमिक्रॉन के खिलाफ एक बूस्टर खुराक ने एंटीबॉडी के स्तर को 25 गुना बढ़ा दिया है. फाइजर ने एक प्रेस विज्ञप्ति में शुरुआती प्रयोगशाला आंकड़ों की घोषणा की और बताया कि इसकी अभी तक वैज्ञानिक समीक्षा नहीं हुई है.

    Tags: COVID 19, Omicron variant

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर