दुनिया में कोरोना : अमेरिका में कोविड-19 से प्रतिदिन होने वाली मौत में आई कमी

दुनिया में कोरोना : अमेरिका में कोविड-19 से प्रतिदिन होने वाली मौत में आई कमी
कोरोना संक्रमण से दुनिया भर में बीते 24 घंटे में 5200 लोग मारे गए

जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय (John Hopkins University) के आकंड़ों के 'एपी द्वारा किए आकलन के अनुसार देशभर में कोविड-19 से प्रतिदिन होने वाली मौत की संख्या गिरकर करीब 680 रह गई है जो कि दो सप्ताह पहले 960 थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 19, 2020, 10:27 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. ब्राजील (Brazil), अमेरिका (US) और भारत (India) में कोरोना संक्रमण (Coronavirus) की स्थिति भयावह बनी हुई है, उधर नए केस के मामले में भारत के तीसरे नंबर पर पहुंचने के बाद पाकिस्तान (Pakistan) भी चौथे नंबर पर पहुंच गया है. गुरूवार को दुनिया भर में संक्रमण के 1 लाख 40 हज़ार से ज्यादा नए केस मिले जिसके बाद कुल मामले बढ़कर 85 लाख से भी ज्यादा हो गए हैं. बीते 24 घंटे में करीब 5200 लोगों की इससे मौत हो गयी और कुल मौतों की संख्या 4 लाख 50 हज़ार से ज्यादा हो गयी है.

#कोविड-19 यूके में डायबिटीज से पीड़ित भारतीयों को खतरा ज्यादा

ब्रिटेन में सामने आए एक शोध के अनुसार दूसरे बीमारी की तुलना में वे लोग जिन्हें पहले से डायबिटीज है, अगर उन्हें कोरोना वायरस का संक्रमण हो गया तो उनकी मरने की संभावनाओं में बढ़ोतरी हो जाएगी. इस अध्ययन में एडिनबर्ग यूनिवर्सिटी के विशेषज्ञों ने ब्रिटेन के 260 अस्पतालों में 35 हजार भारतीयों और दूसरे देशों के अल्पसंख्यक समुदायों के लोगों को शामिल किया था. इस अध्ययन में यह कहा गया है कि ब्रिटेन के मूल निवासी गोरों की तुलना में भारतीयों की स्थिति ज्यादा गंभीर होगी.



रूस में कोरोना वायरस की पहली वैक्सीन का ह्यूमन ट्रायल सकारात्मक
रूस के एक अस्पताल में कोरोना वायरस 'कोविड-19' संक्रमण से निपटने के लिए विकसित की गई पहली वैक्सीन का 18 वॉलंटियर पर परीक्षण किया गया, जिनमें से किसी में भी कोई दुष्प्रभाव देखने को नहीं मिला. रूसी रक्षा मंत्रालय ने 18 जून को जारी एक बयान में कहा है कि इस तरह की पहली वैक्सीन का 18 स्वयंसेवकों पर परीक्षण किया गया है और अभी तक इनमें से किसी में भी कोई दिक्कत नहीं है.

#अमेरिका में प्रतिदिन होने वाली मौत में आई कमी

जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय के आकंड़ों के 'एपी द्वारा किए आकलन के अनुसार देशभर में कोविड-19 से प्रतिदिन होने वाली मौत की संख्या गिरकर करीब 680 रह गई है जो कि दो सप्ताह पहले 960 थी. ऐसा माना जा रहा है कि संक्रमण को रोकने और लोगों को बचाने के लिए अस्पतालों एवं नर्सिंग होम में प्रभावी उपचार और बेहतर प्रयासों सहित कई कारणों से यह गिरावट आई है. आकलन में पाया गया कि प्रतिदिन सामने आने वाले नए मामले की संख्या बढ़ी है, जो दो सप्ताह पहले 21,400 थी और अब 23,200 हो गई है.

#नेपाल में कोरोना संक्रमण के मामलों में हो रही बढ़ोतरी

नेपाल में बीते 24 घंटे में कोविड-19 के 671 नए मामले दर्ज किए गए हैं, जबकि दो लोगों की मौत हुई हैं. कोरोना वायरस संक्रमण और मृत्यु दर दोनों में तेजी से बढ़ रहा है. समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता जागेश्वर गौतम के हवाले से बताया कि पिछले 24 घंटों में 671 नए मामलों के साथ देश में संक्रमण की कुल संख्या बढ़कर 7,848 हो गई है. यह लगातार दूसरा दिन है जब नेपाल में मामलों में वृद्धि दर्ज की गई है. वहीं पहली बार एक ही दिन में मामलों की संख्या 600 को पार कर गई है. नेपाल में बुधवार को 586 नए मामले सामने आए थे.

#कोरोना एक्सपर्ट डॉक्टर फॉसी बोले- अमेरिका में लॉकडाउन की ज़रुरत नहीं
अमेरिका के शीर्ष स्वास्थ्य विशेषज्ञ डॉ. एंथनी फॉसी ने कहा है कि देश में अब बड़े स्तर के लॉकडाउन की ज़रूरत नहीं है. उन्होंने समाचार एजेंसी एएफ़पी से कहा, "मुझे नहीं लगता हम फिर से लॉकडाउन लागू करने के बारे में बात करने वाले हैं. हम इस पर चर्चा करेंगे कि कैसे उन इलाकों में संक्रमण पर काबू पाया जाए जहां यह अधिक फैला है." अमेरिका में संक्रमण के सबसे अधिक मामले न्यूयॉर्क में सामने आए. हालांकि अब यहां संक्रमण पर काबू पा लिया गया है लेकिन दूसरे हिस्सों में मामले अब भी बढ़ रहे हैं. डॉ. फॉसी ने कहा कि देश में अर्थव्यवस्था को फिर से पटरी पर लाने के लिए स्थानीय स्तर पर लोगों को प्रयास करने होंगे. उन्होंने कहा कि जहाँ संक्रमण के मामले नहीं है वहाँ स्कूल खोले जा सकते हैं.

#पहले दो महीनों में 85 हज़ार और अगले दो महीनों में 60 लाख केस आए
डब्ल्यूएचओ के निदेशक ट्रेडोस गेब्रेसिएस ने कहा है कि दुनिया में कोरोना की रफ्तार बहुत तेज बढ़ी है. पहले के दो महीनों में 85 हजार और बाद के दो महीनों में 60 लाख मामले आए हैं. उन्होंने कहा कि ब्रिटेन की ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी ने स्टेरॉयड दवा डेक्सामेथासोन का कोरोना मरीजों पर सफल परीक्षण किया है. इससे एक तिहाई मृत्युदर को कम किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि अमेरिका, अफ्रीका और दक्षिण एशिया में अब तक चार लाख 35 हजार से ज्यादा की जान जा चुकी है.

#अमेरिका ने चीन पर फिर उठाए सवाल
चीन की राजधानी बीजिंग में कोरोना वायरस के संक्रमण की रिपोर्टिंग को लेकर अमेरिका ने सवाल खड़ा किया है. अमेरिका ने पूरे मामले को लेकर तटस्थ आकलन करने की बात कही है. चीन ने बीजिंग में कोविड-19 की दूसरी लहर के डर को देखते हुए लॉकडाउन लगा दिया है. बीजिंग में पिछले हफ़्ते एक मार्केट में संक्रमण के कई मामले मिलने के बाद से अब तक कुल 158 संक्रमितों की पहचान हुई है. अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो ने पूरे मामले में पारदर्शिता की मांग की है. माइक पॉम्पियो ने कहा, ''मैं उम्मीद करता हूं कि वुहान की तुलना में बीजिंग में संक्रमण की रिपोर्टिंग ज़्यादा ईमानदारी से होगी.''

WHO ने कहा- जल्द मिले वैक्सीन
WHO को उम्मीद है कि इस साल जल्द ही लाखों की संख्या में कोरोना वायरस की वैक्सीन बनेगी. WHO की प्रधान वैज्ञानिक सौम्या स्वामीनाथन ने कहा है, ''मैं आशान्वित हूं. लेकिन वैक्सीन बनने की प्रक्रिया काफ़ी जटिल होती है. काफ़ी अनिश्चितता भरा सफ़र होता है. अच्छी बात यह है कि हमारे पास कई वैक्सीन और प्लेटफॉर्म हैं. अगर पहली नाकाम होती है या दूसरी नाकम होती है तब भी उम्मीद ख़त्म नहीं होगी.''

#ब्राजील
ब्राज़ील में कोरोना वायरस की चपेट में आकर मरने वालों की कुल सख्या 50 हज़ार के क़रीब पहुंच गई है और अब तक लगभग 10 लाख लोग संक्रमित हो चुके हैं. मिस्र में कोरोन वायरस से अब तक 50 हज़ार से ज़्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं.

#मिस्र में फैला संक्रमण
गुरुवार को मिस्र में कोरोना के 1,218 नए मामले सामने आए. मिस्र के स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि यहां संक्रमितों की कुल संख्या 50,437 हो गई है और मरने वालों की कुल तादाद 1,938 है. मिस्र मार्च से ही स्कूल, रेस्तरां और अंतरराष्ट्रीय हवाई सेवा बंद है.

#ईरान में अब तक दस हज़ार की मौत
ईरान के स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार यहां कोरोना से मरने वालों की कुल संख्या 10 हज़ार के क़रीब पहुंच गई है. ईरान में क़रीब दो लाख लोग संक्रमित हो चुके हैं.

#पाकिस्तान में कोरोना वायरस से एक और मंत्री की मौत
पाकिस्तान में बृहस्पतिवार को प्रांतीय सरकार के एक मंत्री की कोविड-19 से मौत हो गई. वह पिछले सप्ताह कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे. 'एक्सप्रेस ट्रिब्यून' ने गिलगित के शहर अस्पताल के एक डॉक्टर के हवाले से बताया कि गिलगित-बाल्तिस्तान के कृषि मंत्री जांबाज खान (64) बीते चार दिन से वेंटिलेटर पर थे. डॉक्टर ने कहा कि उन्हें हृदय संबंधी बीमारी और मधुमेह भी था.

दिआमेर जिले के वरिष्ठ नेता मलिक मिस्कीन का भी यही डॉक्टर इलाज कर रहे हैं. पांच बार विधायक रहे खान गिलगित-बाल्तिस्तान में पाकिस्तान मुस्लिम लीग के संस्थापक सदस्य थे. पाकिस्तान में अब तक दो प्रांतीय मंत्रियों सहित पांच विधायक कोरोना वायरस के चलते जान गंवा चुके हैं. इसके अलावा पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी तथा यूसुफ रजा गिलानी समेत कई शीर्ष नेता इससे संक्रमित पाए गए हैं.
#यूरोप के कुछ देशों में स्थानीय स्तर पर कोविड-19 संक्रमण के मामले बढ़े
लॉकडाउन में ढील दिए जाने के बाद यूरोप में बृहस्पतिवार को स्थानीय स्तर पर कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़ गए. जर्मनी में मांस पैक करने वाली एक फैक्टरी में संक्रमण के सैकड़ों मामले आए तो यूनान ने एक गांव में सात दिन के लिए पूर्ण लॉकडाउन कर दिया है. चीन के बीजिंग में नए मामले कम हुए हैं और हांगकांग में डिज्नीलैंड को फिर से खोल दिया गया.

पश्चिमी जर्मनी में ग्वेटरस्लोह में स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि रहेदा वीदेनब्रूक में मांस पैक करने वाली फैक्टरी से जुड़े संक्रमण के मामले बढ़कर 657 हो गए हैं. जर्मनी में कोविड-19 के 188,474 मामले आए और 8844 लोगों की मौत हुई. यूनान के अधिकारियों ने उत्तरपूर्वी प्रांत जांति में करीब 3,000 की आबादी वाले इचिनोस गांव में लॉकडाउन लागू कर दिया. यहां पर संक्रमण और मौत के नए मामलों के बाद प्रशासन ने यह कदम उठाया.

 

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज