राफेल में 25 मिनट उड़ान भरने के बाद बोले राजनाथ सिंह- ये भारत की आक्रामकता नहीं, आत्मरक्षा का हिस्सा

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने राफेल विमान (Rafale Jet) में अपनी उड़ान को बहुत कंफर्टेबल और आसान बताया है. उन्होंने कहा कि यह विमान भारतीय सेना की लड़ाकू क्षमता को बहुत ज्यादा बढ़ाएगा. उन्होंने राफेल में अपनी उड़ान को यादगार और जीवन में कभी न भूलने वाला लम्हा बताया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 9, 2019, 1:41 PM IST
  • Share this:
मेरिनियाक (फ्रांस). विजयादशमी पर भारत को फ्रांस से पहला राफेल लड़ाकू विमान (Rafale Fighter Jet) मिल गया. रक्षामंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने मंगलवार को मेरिनियाक स्थित दसॉ प्लांट से RB 001 राफेल रिसीव की. विमान की विधिवत शस्त्र पूजा के बाद रक्षामंत्री ने इसपर उड़ान भरी. राफेल में करीब 25 मिनट उड़ान भरने के बाद राजनाथ सिंह ने कहा, 'भारत किसी अन्य देश को धमकाने के लिए हथियार नहीं खरीदता है. राफेल आक्रामकता नहीं, बल्कि आत्मरक्षा का हिस्सा है. रक्षामंत्री ने कहा कि 36 लड़ाकू विमानों में से 18 विमान फरवरी 2021 तक सौंप दिए जाएंगे, जबकि शेष विमान अप्रैल-मई 2022 तक सौंपे जाने की उम्मीद है.

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने राफेल विमान (Rafale Jet) में अपनी उड़ान को बहुत कंफर्टेबल और आसान बताया है. उन्होंने कहा कि यह विमान भारतीय सेना की लड़ाकू क्षमता को बहुत ज्यादा बढ़ाएगा. उन्होंने राफेल में अपनी उड़ान को यादगार और जीवन में कभी न भूलने वाला लम्हा बताया है.



राजनाथ सिंह ने कहा, 'मैंने कभी कल्पना नहीं की थी कि मैं सुपरसोनिक स्पीड से उड़ान भरूंगा. यह एक बहुत आरामदेह और सुगम उड़ान रही. इस दौरान मैं इस लड़ाकू विमान की कई क्षमताओं, इसकी हवा से हवा में मार करने की क्षमता और इसकी जमीन पर लक्ष्य भेदने की क्षमता को देख सका.'




राफेल डील का श्रेय पीएम मोदी को
रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने राफेल की खरीद का श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दिया. उन्होंने ट्वीट किया, 'हम किसी अन्य देश को धमकाने के लिए हथियार या अन्य रक्षा साजो सामान नहीं खरीदते हैं. हम अपनी क्षमताओं को बढ़ाने और सुरक्षा व्यवस्था को मजबूत करने के लिए हथियारों की खरीद करते हैं. राफेल विमान खरीद का श्रेय अवश्य ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जाता है. उनके निर्णय लेने की क्षमता से हमारे राष्ट्र की सुरक्षा को काफी फायदा पहुंचा है.'

RAJNATH
36 लड़ाकू विमानों में से 18 विमान फरवरी 2021 तक सौंप दिए जाएंगे.


विमान में बैठने से पहली की शस्त्र पूजा
राजनाथ सिंह ने विमान में बैठने से पहले विधिवत शस्त्र पूजा की. इस दौरान उन्होंने राफेल पर लाल टीके से ऊं लिखा. फिर इसके व्हील के नीचे दो नींबू भी रखें, जो शुभ माना जाता है. शस्त्र पूजा के बाद रक्षामंत्री ने कहा, 'मैं हर साल लखनऊ में शस्त्र पूजन करता हूं. आज मैंने फ्रांस में यहां शस्त्र के रूप में राफेल की पूजा की.’



वाइस चीफ ऑफ एयर स्टाफ ने की उड़ान की निगरानी
वाइस चीफ ऑफ एयर स्टाफ, एयर मार्शल हरजीत सिंह अरोड़ा ने रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के राफेल विमान में उड़ान भरने की निगरानी की. अरोड़ा ने कहा कि वायुसेना के लिए खरीदा गया राफेल विमान पंजाब के अंबाला में और पश्चिम बंगाल के हसीमरा में भारत की हवाई क्षमता को बढ़ाएगा. इनमें से चार विमानों की पहली खेप अगले साल मई में भारत पहुंचेगी. तब तक ये विमान ट्रेनिंग उद्देश्यों के लिए फ्रांस में ही रहेंगे. अरोड़ा ने कहा, ‘यह भारतीय वायु रक्षा के लिए अब तक का सबसे शक्तिशाली सैन्य साजोसामान है.’

rafale jet3
भारत को मिलने वाले राफेल जेट में लो बैंड के जैमर्स लगाए गए हैं.


राफेल विमान क्या है?
राफेल एक फ्रांसीसी कंपनी डस एविएशन निर्मित दो इंजन वाला मध्यम मल्टी-रोल कॉम्बैट एयरक्राफ्ट (एमएमआरसीए) है. राफेल लड़ाकू विमानों को 'ओमनिरोल' विमानों के रूप में रखा गया है, जो कि युद्ध में अहम रोल निभाने में सक्षम हैं. ये बखूबी ये सारे काम कर सकती है- वायु वर्चस्व, हवाई हमला, जमीनी समर्थन, भारी हमला और परमाणु प्रतिरोध.

भारत को मिलने वाले राफेल में हैं ये बदलाव
भारत को मिलने वाले राफेल लड़ाकू विमानों में कुछ खास बदलाव किए गए हैं:-

>>भारत के लिए राफेल विमानों में इजरायल के हेलमेट माउंटेड डिस्प्ले लगवाए गए हैं.

>>इनमें रेडार वॉर्निंग रिसीवर्स भी लगे हैं.

>>फ्लाइट का डेटा मेंटन करने के लिए राफेल में डेटा रिकॉर्डिंग सिस्टम भी लगाए गए हैं, जिससे 10 घंटे का डेटा रिकॉर्ड हो सकता है.

>>इसके अलावा, भारत को मिलने वाले राफेल जेट में लो बैंड के जैमर्स लगाए गए हैं.

>>वहीं, इसके ट्रैकिंग सिस्टम और इंफ्रा रेड सर्च को भी मोडिफाई किया गया है. (PTI इनपुट के साथ)

ये भी पढ़ें: किस तरह फाइटर विमानों का 'राजा' है राफेल , जानें उसकी पूरी खासियतें

कैसे भारतीय रडार ने पाकिस्तानी F-16 को पकड़ा?
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading