लाइव टीवी

दिल्ली हिंसा पर ट्रंप के बयान को बर्नी सैंडर्स ने बताया 'नेतृत्व की नाकामी'

News18Hindi
Updated: February 27, 2020, 1:45 PM IST
दिल्ली हिंसा पर ट्रंप के बयान को बर्नी सैंडर्स ने बताया 'नेतृत्व की नाकामी'
दिल्ली हिंसा पर अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा था, यह भारत का मामला है

दिल्ली हिंसा पर अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप (Donald Trump) के बयान के बाद राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार बर्नी सैंडर्स (Bernie Sanders) ने ट्रंप पर मानवाधिकारों के मुद्दे पर नाकाम रहने का आरोप लगाया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 27, 2020, 1:45 PM IST
  • Share this:
वाशिंगटन. भारत की राजधानी दिल्ली में भड़की हिंसा को लेकर अमेरिकी सांसदों की तीखी प्रतिक्रिया के एक दिन बाद वरिष्ठ विपक्षी नेता बर्नी सैंडर्स (Bernie Sanders) ने इस मामले में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) पर निशाना साधा है. डेमोक्रेटिक पार्टी (Democratic Party)  की ओर से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी के दावेदार सैंडर्स ने कहा कि ट्रंप की भारत यात्रा के दौरान नई दिल्ली में हिंसा के संबंध में उनका बयान 'नेतृत्व की नाकामी' है.

ट्रंप ने कहा था, भारत का मामला है
भारत की यात्रा के दौरान हिंसा की घटनाओं के बारे में पूछे जाने पर अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा था, 'जहां तक व्यक्तिगत हमलों का सवाल है तो मैंने इसके बारे में सुना लेकिन उनके (मोदी) साथ चर्चा नहीं की. यह भारत का मामला है.'

इस मुद्दे पर प्रतिक्रिया करते हुए सैंडर्स ने बुधवार को ट्वीट किया, '20 करोड़ से अधिक मुसलमान भारत को अपना घर कहते हैं. व्यापक पैमाने पर मुस्लिम विरोधी भीड़ की हिंसा में कम से कम 27 लोग मारे गए और कई अन्य घायल हो गए. ट्रंप ने यह कहकर जवाब दिया कि 'यह भारत का मामला है.' यह मानवाधिकारों पर नेतृत्व की नाकामी है.'






सैंडर्स संशोधित नागरिकता कानून (CAA) को लेकर हिंसा के खिलाफ बोलने वाली सीनेटर एलिजाबेथ वॉरेन के बाद डेमोक्रेटिक पद के दूसरे प्रत्याशी हैं. राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के अलावा अन्य प्रभावशाली सीनेटरों ने भी बुधवार को दिल्ली हिंसा पर चिंता जताई. डेमोक्रेटिक पार्टी के सांसद मार्क वार्नर और जीओपी के जॉन कोर्निन ने बयान में कहा, 'हम नई दिल्ली में हालिया हिंसा से चिंतित हैं. हम अपने महत्वपूर्ण दीर्घकालिक संबंधों को आगे बढ़ाने के लिए चिंता के अहम मुद्दों पर मुक्त संवाद का समर्थन करते रहेंगे.'

इससे पहले अंतरराष्ट्रीय धार्मिक स्वतंत्रता पर अमेरिकी आयोग ने भारत सरकार से अपने नागरिकों की सुरक्षा के लिए तत्काल कार्रवाई करने का अनुरोध किया. (भाषा इनपुट के साथ)

ये भी पढ़ें: दिल्ली में भड़की हिंसा पर संयुक्त राष्ट्र प्रमुख की भी है करीबी नज़र

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 27, 2020, 11:35 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर