ट्रंप ने कहा- अमेरिका ने भारत समेत 10 देशों के मुकाबले सबसे ज्यादा कोविड-19 की जांच की

ट्रंप ने कहा- अमेरिका ने भारत समेत 10 देशों के मुकाबले सबसे ज्यादा कोविड-19 की जांच की
व्हाइट हाउस ने छह टि्वटर हैंडलों को किया अनफॉलो

ट्रंप (Trump) ने कहा भारत समेत 10 अन्य देशों में कोविड-19 (COVID-19) की जितनी जांच हुई है उससे कहीं ज्यादा जांच हमने की है.

  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने कहा है कि भारत समेत 10 अन्य देशों में कोविड-19 (COVID-19) की जितनी जांच हुई है उससे कहीं ज्यादा जांच हमने की है. ट्रंप ने रविवार को कहा कि अमेरिका (America) कोरोना वायरस बीमारी के खिलाफ अपनी जंग में लगातार प्रगति कर रहा है और देश ने अब तक 41.8 लाख लोगों का परीक्षण किया जा चुका है. यह विश्व के किसी भी देश के मुकाबले रिकॉर्ड है.

ट्रंप ने व्हाइट हाउस में प्रेस कॉन्फ्रेंस में मीडिया से कहा, 'हमने फ्रांस, ब्रिटेन, दक्षिण कोरिया, जापान, सिंगापुर, भारत, ऑस्ट्रिया, ऑस्ट्रेलिया, स्वीडन और कनाडा- इन सब देशों को मिला दें तो इनके मुकाबले सबसे ज्यादा जांच की है.'

अमेरिका में कोविड-19 से मरने वालों की संख्या 40,000 के पार चली गई है और अब तक कुल 7,64,000 लोग संक्रमित है. सर्वाधिक प्रभावित न्यूयॉर्क में संक्रमण के 2,42,000 मामले हैं और अब तक 17,600 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. पिछले आठ दिन की अवधि में यहां नये मामलों के सामने आने में 50 प्रतिशत कमी आई है. ट्रंप ने कहा, विपरीत परिस्थितियों से गुजरने के बाद यह अच्छी खबर है.



ये भी पढ़ें: कोरोना से बेहाल अमेरिकी बेरोजगारी से जूझ रहे, फूड बैंकों पर भी लंबी कतारें



अमेरिकी राष्ट्रपति के मुताबिक, इटली और स्पेन जैसे देश जो शुरू में देश में लॉकडाउन लागू करने के खिलाफ थे, उन्हें इसकी बड़ी कीमत चुकानी पड़ी है. अगर देश में लॉकडाउन नहीं किया जाता और सामाजिक दूरी के उपाय नहीं किए जाते तो लाखों लोग मारे गए होते. ट्रंप ने वैश्विक महामारी के संकट से निपटने के लिए उनके प्रशासन द्वारा युद्धस्तर पर उठाए गए कदमों का उल्लेख किया और देशवासियों को आश्वस्त किया कि देश सुरक्षित होने जा रहा है.

गौरतलब है कि ट्रंप ने कोरोना के लिए चीन को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा था कि अगर वो जानबूझकर इसे फैलाने के जिम्मेदार पाए गए तो इसके परिणाम उसे भुगतने होंगे. ट्रंप ने कहा, 'कोविड-19 के दुनियाभर में फैलने से पहले तक चीन के साथ उनके संबंध बहुत अच्छे थे. लेकिन फिर अचानक इसके बारे में सुना इससे काफी फर्क आ गया है.

ये भी पढ़ें: क्या कोरोना की महामारी ने पुतिन और ट्रंप को एकदूसरे के करीब ला दिया है
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading