• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • डोनाल्ड ट्रंप ने कहा- अमेरिका यह नहीं भूलेगा कि चीन के चलते सब तबाह हो गया

डोनाल्ड ट्रंप ने कहा- अमेरिका यह नहीं भूलेगा कि चीन के चलते सब तबाह हो गया

इस बात की भी कम संभावना नहीं है कि डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) अपने राजनैतिक करियर को विराम नहीं दें. हो सकता है कि वे अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति ग्रोवर क्लीवलैंड की राह पर चलें जो 1885 में राष्ट्रपति (US President) बनने के बाद 1893 में फिर से दूसरे कार्यकाल के राष्ट्रपति बन जाएं. अमेरिकी संविधान (US constitution) के अनुसार कोई व्यक्ति केवल दो ही बार राष्ट्रपति (President) के पद पर काबिज हो सकता है. जिस तरह से इस बार ट्रम्प ने तमाम विरोध के बाद भी अपने लिए वोट बटोरे हैं, रिपब्लिकन्स के लिए उन्हें अगले चुनावों के लिए सिरे से खारिज करना आसान नहीं होगा. (फोटो: AP)

इस बात की भी कम संभावना नहीं है कि डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) अपने राजनैतिक करियर को विराम नहीं दें. हो सकता है कि वे अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति ग्रोवर क्लीवलैंड की राह पर चलें जो 1885 में राष्ट्रपति (US President) बनने के बाद 1893 में फिर से दूसरे कार्यकाल के राष्ट्रपति बन जाएं. अमेरिकी संविधान (US constitution) के अनुसार कोई व्यक्ति केवल दो ही बार राष्ट्रपति (President) के पद पर काबिज हो सकता है. जिस तरह से इस बार ट्रम्प ने तमाम विरोध के बाद भी अपने लिए वोट बटोरे हैं, रिपब्लिकन्स के लिए उन्हें अगले चुनावों के लिए सिरे से खारिज करना आसान नहीं होगा. (फोटो: AP)

US ELECTION 2020: डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने रविवार को जॉर्जिया में अपनी चुनावी रैली में चीन पर जमकर भड़ास निकाली. उन्होंने कहा कि चीनी वायरस (Chinese Virus) के चलते सब कुछ चौपट हो गया और इस बात को अमेरिका कभी भी नहीं भुला पाएगा.

  • Share this:
    वॉशिंगटन. अमेरिका में तीन नवंबर यानी मंगलवार को राष्‍ट्रपति पद के लिए चुनाव (US Election 2020) है. रिपब्लिकन डोनाल्‍ड ट्रंप (Donald Trump) और डेमोक्रेट जो बाइडेन (Joe Biden) अंतिम दौर की रैलियों में रविवार को व्यस्त रहे. डोनाल्ड ट्रंप ने रविवार को जॉर्जिया में अपनी चुनावी रैली में चीन पर जमकर भड़ास निकाली. उन्होंने कहा कि चीन के चलते सब कुछ चौपट हो गया और इस बात को अमेरिका कभी भी नहीं भुला पाएगा. डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिकी अर्थव्यवस्था (America's Economy) की हालत पस्त होने की जिम्मेदारी भी चीन पर ठहराई. उनका कहना था कि चीन ने अमेरिका की अर्थव्यवस्था को पूरी तरह से बर्बाद कर दिया.

    'हमारी अर्थव्यवस्था इतिहास में श्रेष्ठता को प्राप्त कर चुकी थी'
    डोनाल्ड ट्रंप ने चीन पर आरोप लगाते हुए कहा कि अमेरिका आर्थिक मंदी की चपेट से बाहर आ चुका था और वापस अपनी आर्थिक गति को हासिल कर रहा था लेकिन चीनी वायरस ने इसे अपनी जद में ले लिया. ट्रंप ने जॉर्जिया में कहा कि हमारी अर्थव्‍यवस्‍था इतिहास में सर्वश्रेष्‍ठ हो चुकी थी और तभी चीनी वायरस ने आकर उसे तहस-नहस कर डाला.

    ट्रंप ने किया ये दावा...
    ट्रंप के मुताबिक कोरोना वायरस की वजह से लॉकडाउन लगाना पड़ा जिसके चलते इकोनॉमी की चाल सुस्त पड़ती चली गई. अर्थव्यवस्था को दोबारा गति देने के लिए हमें लॉकडाउन हटाना पड़ा और इसके चलते अमेरिकी बच पाए. उन्होंने एक बार फिर दावा किया है कि उनके प्रशासन के चुस्त होने की वजह करीब 20 लाख लोगों की जिंदगियां बच पाई हैं. हालांकि अमेरिका का जितना नुकसान हुआ,वह नहीं होना चाहिए था.



    ये भी पढ़ें: फ्रांस: 72 घंटे में दूसरा हमला, चर्च के गेट पर पादरी को गोली मारी, हमलावर फरार

    PHOTOS: फ्रांस राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों की बूट प्रिंट वाली तस्वीर हो रही है पॉपुलर

    ट्रंप और उनका प्रशासन शुरू से ही दुनिया में कोरोना वायरस के फैलने के लिए चीन को जिम्मेदार ठहराता रहा है. दुनिया में कोरोना वायरस सबसे पहले चीन में ही पाया गया था. चीन के वुहान में यह पहली बार वर्ष 2019 के दिसंबर में पाया गया और इसका सबसे ज्यादा नुकसान अमेरिका को ही उठाना पड़ा है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज