LIVE NOW

अमेरिका में हुआ पहली बार, ट्रंप ने एफबीआई की आलोचना कर सबको चौंकाया

Hindi.news18.com | January 1, 1970, 5:30 AM IST
facebook Twitter google Linkedin
Last Updated January 1, 1970
auto-refresh

हाइलाइट्स

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने गोपनीय सूचनाओं को मीडिया में लीक होने से रोकने में असफल रहने पर खुफिया एजेंसी एफबीआई की कड़ी आलोचना की है. ट्रंप का कहना है कि इसका अमेरिका पर ‘बहुत प्रतिकूल प्रभाव पड़’ सकता है.

ट्रंप ने ट्वीट किया, ‘एफबीआई राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ी जानकारी लीक करने वालों को रोकने में पूरी तरह विफल रही है, जिसने हमारी सरकार को लंबे समय तक परेशान किया है.’

एफबीआई से काम करने का अनुरोध करते हुए ट्रंप ने कहा, ‘वे एफबीआई के भीतर भी लीक करने वाले को नहीं खोज सके. मीडिया को गोपनीय सूचनाएं दी जा रही हैं, जिनका अमेरिका पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है. तत्काल पता करें.’







दरअसल, अमेरिका की शीर्ष जांच संस्था एफबीआई की ट्रंप की ओर से सार्वजनिक आलोचना चौंकानेवाला है. शायद ही अतीत में किसी राष्ट्रपति ने पहले ऐसा किया हो.

इस्लामिक स्टेट को खत्म कर देगा अमेरिका
इधर, अमेरिकी उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने कहा है कि अमेरिका आतंकवादी समूह इस्लामिक स्टेट (आईएस) को खदेड़ देगा. अमेरिका आईएस का पूरी तरह नाश कर देगा ताकि उनके देशवासियों के लिए खतरा नहीं पैदा कर सके.

वाशिंगटन में कंजर्वेटिव पॉलिटिकल एक्शन कॉन्फ्रेंस (सीपीएसी) में पेंस ने कहा, ‘हमलोग इस्लामिक स्टेट को खदेड़ देंगे. उनके स्रोत का नाश कर देंगे, ताकि वह हमारे देश या हमारे परिवारों के लिए खतरा पैदा नहीं कर सके. हम अमेरिकी सेना का पुनर्निर्माण शुरू करने जा रहे हैं. हमलोग लोकतंत्र के शस्त्रागार का फिर से बनाएंगे. हम अपने सैनिकों, नौसैनिकों, वायुसैनिकों, मरीन और तटरक्षकों को संसाधान उपलब्ध कराएंगे. उनके मिशन को पूरा करने और घर सुरक्षित लौटने के लिए जरूरी प्रशिक्षण उपलब्ध करायेंगे.’

पेंस ने कहा कि ट्रंप प्रशासन कामकाजी परिवारों, छोटे कारोबारियों और किसान परिवारों के लिए टैक्स में कटौती कर एक बार फिर देश की अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाने जा रहा है. हमलोग नौकरियां खत्म करने वाले नियमों को हटा रहे हैं. साथ में बराक ओबामा के हस्ताक्षर वाले असंवैधानिक शासकीय आदेशों को रद्द करने जा रहे हैं.
LOAD MORE