अमेरिका में सत्ता कब्जाने की तैयारी में ट्रंप? पेंटागन में हुए बदलाव दे रहे संकेत

अमेरिका में तख्तापलट की तैयारी में डोनाल्ड ट्रंप
अमेरिका में तख्तापलट की तैयारी में डोनाल्ड ट्रंप

खबर है कि डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) प्रशासन ने पेंटागन (Pentagon) के सबसे वरिष्ठ ​अधिकारियों को हटाना शुरू कर दिया है और उनकी जगह पर ट्रंप के वफादारों को जगह दी जा रही है. डिफेंस सेक्रेटरी (रक्षा मंत्री) मार्क एस्‍पर को भी उनके पद से हटा दिया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 12, 2020, 8:20 AM IST
  • Share this:
वॉशिंगटन. अमेरिका (America) के चुनाव में जो बाइडन (Joe Biden) ने भले ही जीत हासिल कर ली हो लेकिन डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) अपनी हार स्वीकार करने को तैयार नहीं दिख रहे हैं. वह अभी भी इस बात पर जोर दे रहे हैं कि अमेरिकी चुनाव (US Elections) में धांधली की गई है. हार से बौखलाए ट्रंप ने सोशल मीडिया पर भी अमेरिकी चुनाव की प्रक्रिया और जो बाइडन (Joe Biden) की जीत पर सवाल उठाए हैं. इसी बीच खबर है कि डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका में सत्ता कब्जाने की तैयारी कर रहे हैं.

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, यही कारण है कि ट्रंप प्रशासन की ओर से रक्षा विभाग में बड़े पैमाने पर बदलाव किए जा रहे हैं. खबर है कि ट्रंप प्रशासन ने पेंटागन के सबसे वरिष्ठ ​अधिकारियों को हटाना शुरू कर दिया है और उनकी जगह पर ट्रंप के वफादारों को जगह दी जा रही है. इन अधिकारियों को हटाने से पहले ट्रंप प्रशासन ने डिफेंस सेक्रेटरी (रक्षा मंत्री) मार्क एस्‍पर को उनके पद से हटा दिया था.

अमेरिका के राष्ट्रपति पर के चुनाव में जो बाइडन और डोनाल्ड ट्रंप में कांटे की टक्कर देखने को मिली थी. चुनाव में जो बाइडन ने जीत हासिल की और सत्ता बदलाव की अपनी योजना पर आगे काम भी करना शुरू कर दिया. वहीं दूसरी तरफ डोनाल्ड ट्रंप अभी भी हार मानने को तैयार नहीं हैं और चुनाव परिणामों में बदलाव की कोशिश में लगे हुए हैं. इस बीच अमेरिका के निवर्तमान विदेश मंत्री पोम्पिओ ने कहा है कि सत्ता का हस्तांतरण शांतिपूर्ण तरीके से किया जाएगा और डोनाल्ड प्रशासन अपना दूसरा कार्यकाल जल्द ही शुरू करेगा.



अमेरिका में तख्तापलट की सुगबुगाहट का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भतीजी मैरी ट्रंप ने ट्वीट करते हुए कहा है ​कि राष्ट्रपति-चुनाव में जो बाइडन वैध और निर्णायक रूप से जीते हैं. डोनाल्ड ट्रंप अपनी जीत दिखाने के लिए कितना भी झूठ क्यूं न बोलें या फिर स्पिन करें लेकिन अब चुनाव नतीजों को बदला नहीं जा सकता है. सतर्क रहें - यह एक तख्तापलट की कोशिश है.

इसे भी पढ़ें :- ट्रंप की बढ़ सकती हैं मुश्किलें! राष्ट्रपति पद छोड़ते ही जा सकते हैं जेल

पेंटागन से निकाले जा चुके हैं कई वरिष्ठ सैन्य अधिकारी
ट्रंप प्रशासन की ओर से डिफेंस सेक्रेटरी (रक्षा मंत्री) मार्क एस्‍पर को उनके पद से हटाए जाने के बाद से अब तक पेंटागन में कई अधिकारियों को बदला जा चुका है. ट्रंप प्रशासन की ओर से जिस तरह से फैसले लिए जा रहे हैं उसे देखने के बाद से सैन्‍य नेतृत्‍व और असैन्‍य अधिकारियों में चिंता बढ़ गई है. एस्‍पर के हटाए जाने के बाद से चार वरिष्ठ सैन्य अधिकारी को निकाला जा चुका है.

इसे भी पढ़ें :- राष्ट्रपति चुनाव हारते ही क्यों ट्रंप को तलाक देने जा रही हैं मेलानिया ट्रंप?

ट्रंप के हार स्वीकार करने या ऐसा ना करने पर निकाले जाने का विकल्प
अमेरिका के निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप कभी हार स्वीकार नहीं करते, लेकिन राष्ट्रपति पद के चुनाव में डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बाइडेन की जीत के बाद अब उनके पास बस दो ही विकल्प हैं: या तो वह देश की खातिर गरिमापूर्ण तरीके से हार स्वीकार कर लें या ऐसा नहीं करने पर निकाले जाएं. चार दिन की कठिन मतणना के बाद बाइडेन की जीत के बावजूद ट्रंप अब भी यह स्वीकार करने को तैयार नहीं है कि उनकी हार हो चुकी है.

उन्होंने 'निराधार' आरोप लगाए हैं कि चुनाव निष्पक्ष नहीं था और 'अवैध' मतों की गणना की गई. उन्होंने इसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की बात की है. ट्रंप के कुछ निकटवर्ती सहयोगी उन्हें गरिमापूर्ण तरीके से हार स्वीकार करने के लिए राजी करने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन कुछ रिपब्लिकन सहयोगी उनकी हार स्वीकार नहीं कर पा रहे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज