लाइव टीवी
Elec-widget

ईरान ने बंद की इंटरनेट व्यवस्था, ट्रंप ने सुनाई खरी खोटी

भाषा
Updated: November 22, 2019, 2:49 PM IST
ईरान ने बंद की इंटरनेट व्यवस्था, ट्रंप ने सुनाई खरी खोटी
ट्रंप ने ईरान को सुनाई खरी खोटी

ट्रंप ने कहा कि ईरान इतना अधिक अस्थिर हो चुका है कि शासन ने पूरी इंटरनेट प्रणाली को ठप करवा दिया ताकि ईरान की जनता देश में जारी भयंकर हिंसा के बारे में बात भी नहीं कर पाए.

  • Share this:
वाशिंगटन. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने गुरुवार को ईरान (Iran) पर आरोप लगाया कि उसने मौत और त्रासदी पर पर्दा डालने के लिए इंटरनेट को बंद कर दिया है, इस बीच रिवॉल्यूशनरी गार्ड्स ने कहा कि सड़कों पर चल रहे विरोध प्रदर्शन खत्म हो चुके हैं. ईरान पर अमेरिका ने पहले से आर्थिक और कूटनीतिक दबाव बना रखा है. ट्रंप के इंटरनेट बंद करने संबंधी ट्वीट से यह दबाव और बढ़ गया है.

ट्रंप ने ट्वीट किया, ईरान इतना अधिक अस्थिर हो चुका है कि शासन ने पूरी इंटरनेट प्रणाली को ठप करवा दिया ताकि ईरान की जनता देश में जारी भयंकर हिंसा के बारे में बात भी नहीं कर पाए. वह नहीं चाहते कि जरा सी भी पारदर्शिता हो. उन्हें ऐसा लगता है कि दुनिया को पता ही नहीं चलेगा कि ईरान का शासन मौत और त्रासदी को अंजाम दे रहा है.


ईरान में बीते शुक्रवार को पैट्रोल की कीमतें 200 गुना बढ़ा दी गई थी जिसके कुछ ही घंटे बाद देशभर में प्रदर्शन शुरू हो गए. लोगों ने पुलिस थानों पर हमले किए, पैट्रोल पंपों को आग लगा दी और दुकानों में लूटपाट की. इंटरनेट के लगभग पूरी तरह से ठप होने से वहां के हालात के बारे में जानकारी मिलना बेहद मुश्किल हो गया. अधिकारियों ने पांच मौत की पुष्टि की लेकिन एमनेस्टी इंटरनेशनल ने कहा कि मौत का वास्तविक आंकड़ा सौ के पार हो सकता है.
Loading...

संयुक्त राष्ट्र में ईरान के मिशन ने एमनेस्टी द्वारा बताए गए मृतक आंकड़े को काल्पनिक बताया और कहा कि ईरान के खिलाफ भ्रामक जानकारी का अभियान चलाया जा रहा है. गुरुवार को रिवॉल्यूशनरी गार्ड्स की आधिकारिक वेबसाइट में दंगाईयों के खिलाफ समय रहते कार्रवाई करने के लिए सैन्य बलों की प्रशंसा की थी और बताया था कि शांति कायम हो चुकी है. ईरान में लगातार पांचवे दिन भी इंटरनेट बंद रहा.

ये भी पढ़ें : J&K समेत पूरे भारत में आतंकवाद फैला रहे हैं इस्लामी आतंकवादी: अमेरिकी सांसद

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 22, 2019, 2:49 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...