लाइव टीवी

डोनाल्ड ट्रंप बोले- कोरोना वायरस से लड़ने में भगवान का वरदान साबित होगी ये दवा

News18Hindi
Updated: March 24, 2020, 10:45 AM IST
डोनाल्ड ट्रंप बोले- कोरोना वायरस से लड़ने में भगवान का वरदान साबित होगी ये दवा
कोरोना वायरस के इलाज में एंटी मलेरिया दवा को ट्रंप ने भगवान का वरदान कहा है.

डोनाल्ड ट्रंप ने पिछले हफ्ते कहता था कि उनका प्रशासन हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन और क्लोरोक्वीन के कोराना वायरस (Coronavirus) के इलाज में जादुई असर की जांच कर रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 24, 2020, 10:45 AM IST
  • Share this:
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने कहा है कि कोरोना वायरस (Coronavirus) से लड़ने में भगवान का वरदान साबित हो सकती है एंटीमलेरिया मेडिसीन. एंटीमलेरिया दवाओं के जरिए कोरोना वायरस के इलाज की अभी जांच ही चल रही है. वैज्ञानिकों का कहना है कि बिना जांच के इस दवा पर भरोसा करना खतरनाक हो सकता है. लेकिन ट्रंप की राय में एंटी मलेरिया दवा कोरोना वायरस के इलाज में भगवान का वरदान साबित हो सकता है.

डोनाल्ड ट्रंप ने पिछले हफ्ते कहा था कि उनका प्रशासन कोराना वायरस के इलाज में हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन और क्लोरोक्वीन के जादुई असर की जांच कर रहा है. फ्रांस और चीन में हुई शुरुआती स्टडी में कहा गया है कि कोरोना वायरस के इलाज में ये दवा कारगर रही है.

ट्रंप के डॉक्टर ही उनकी बात से सहमत नहीं
हालांकि खुद ट्रंप प्रशासन के डॉक्टर राष्ट्रपति की बात से इत्तेफाक नहीं रखते हैं. अमेरिका के सबसे मशहूर संक्रमण रोग विशेषज्ञ डॉक्टर एंथनी फौसी ने कहा कि बिना बहुत ज्यादा क्लीनिकल ट्रायल के कोरोना वायरस के इलाज में इस दवा के इस्तेमाल में सावधानी बरतनी चाहिए. अभी तक इस दवा के इस्तेमाल पर बहुत कम रिसर्च हुआ है.



अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सोमवार को व्हाइट हाउस में हुए प्रेस कॉन्फ्रेंस में भी डॉक्टर एंथनी फौसी की सलाह को तवज्जो नहीं दी. उन्होंने कहा कि ''मुझे लगता है कि हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन और Z-Pak का कॉम्बिनेशन कोरोना वायरस के इलाज में काफी कारगर साबित हो सकता है. इस बात की बहुत अधिक संभावना है कि इसके इस्तेमाल के आश्चर्यजनक नतीजे सामने आ सकते हैं. ये भगवान का दिया वरदान साबित हो सकता है. अगर ये कारगर रहा तो ये बहुत बड़ा बदलाव लाने में सक्षम होगा.'' उन्होंने ऐसे मरीजों का उदाहरण भी दिया, जो इस दवा के इस्तेमाल से ठीक हुए.

अमेरिका का वैज्ञानिक समुदाय कर रहा ट्रंप की आलोचना
इस बात के लिए अमेरिका का वैज्ञानिक समुदाय उनकी आलोचना भी कर रहा है कि वो एक दवा को लेकर बहुत ज्यादा तवज्जो दे रहे हैं. इससे इस दवा के इसके रोगियों के वास्तविक इलाज में परेशानी पैदा होगी.

इस बीच अमेरिका के उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने कहा है कि इस हफ्ते से कोरोना वायरस के संक्रमण की खुद से जांच करने की किट उपलब्ध होगी. इससे अमेरिका के हेल्थ केयर सिस्टम पर दवाब कम होगा.

ये भी पढ़ें- Covid 19: टेस्‍ट की गई वैक्‍सीन रही कारगर तो तुरंत लाखों डोज बना लेगी ये कंपनी

सरकार ने देश की 12 निजी लैब को दी कोरोना टेस्‍ट की मंजूरी, यहां जानें LIST

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अमेरिका से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 24, 2020, 8:48 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर