Home /News /world /

ट्रंप ने कहा- कोरोना वायरस से हुए नुकसान के लिए चीन से वसूलेंगे 12 लाख करोड़

ट्रंप ने कहा- कोरोना वायरस से हुए नुकसान के लिए चीन से वसूलेंगे 12 लाख करोड़

ट्रंप ने कहा है कि वो चीन को कोरोना वायरस से हुए नुकसान के लिए 160 बिलियन डॉलर का बिल भेजेंगे.

ट्रंप ने कहा है कि वो चीन को कोरोना वायरस से हुए नुकसान के लिए 160 बिलियन डॉलर का बिल भेजेंगे.

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप (Donald Trump) ने कहा है कि कोरोना वायरस (Coronavirus) से हुए नुकसान की भरपाई के लिए वो चीन को 160 बिलियन डॉलर का बिल भेजेंगे.

    वाशिंगटन: अमेरिका (America) के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने कहा है कि अमेरिका कोरोना वायरस से हुए नुकसान की भरपाई के लिए चीन को बिल भेजेगा. ट्रंप ने कहा है कि अमेरिका 160 बिलियन डॉलर यानी करीब 12 लाख करोड़ से भी ज्यादा की रकम का बिल चीन को भेजेगा.

    डेली मेल की एक रिपोर्ट के मुताबिक सोमवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ट्रंप ने ये बातें कहीं. प्रेस कॉन्फ्रेंस में ट्रंप से सवाल पूछा गया था कि क्या वो कोरोना वायरस से हुए नुकसान की भरपाई के लिए बीजिंग से पैसों की मांग करेंगे. इसपर जवाब देते हुए ट्रंप ने कहा कि अमेरिका 120 बिलियन डॉलर से ज्यादा का बिल चीन को भेजेगा.

    जर्मन न्यूज़पेपर ने छापा था कोरोना से हुए नुकसान का बिल
    160 बिलियन डॉलर का आंकड़ा एक जर्मन न्यूजपेपर की वजह से आया है. जर्मन न्यूज पेपर ने लिखा था कि कोरोना वायरस के चलते लगाए लॉकडाउन की वजह से करीब 160 बिलियन डॉलर का नुकसान हुआ है. जर्मनी के न्यूज पेपर ने 160 बिलियन के नुकसान वाला बिल प्रकाशित किया था.

    अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा है कि उनके पास इससे भी कहीं अधिक अच्छा आयडिया है. उन्होंने कहा है कि जैसा जर्मन न्यूज पेपर ने सलाह दी है उससे कहीं अधिक की वसूली वो करेंगे.

    चीन पर अमेरिका आरोप लगाता रहा है कि उसने जानबूझकर वायरस संक्रमण के मामले को कवर अप किया. चीन के वुहान शहर से पूरी दुनिया में कोरोना का वायरस फैला. लेकिन चीन ने वक्त रहते इसकी जानकारी दुनिया को नहीं दी. चीन की कम्यूनिस्ट पार्टी पर आरोप लगाए गए हैं कि उन्होंने दुनिया के बाकी देशों को वायरस के बारे में जानकारी नहीं दी ताकि वो वक्त रहते संभल पाते.

    ट्रंप कोरोना वायरस को लेकर करते रहे हैं चीन पर हमले
    राष्ट्रपति ट्रंप चीन की आलोचना में सबसे मुखर नेताओं में से रहे हैं. उन्होंने सारा दोष बीजिंग के सर मढ़ा है. सोमवार को वाशिंगटन डीसी के एक प्रेस क़ॉन्फ्रेंस में ट्रंप ने कहा कि हमारे पास हमेशा कुछ चीजों को करने का आसान उपाय होता है.

    उन्होंने कहा कि जर्मनी चीजों की तरफ देख रहा है. हम भी चीजों की तरफ देख रहे हैं. लेकिन मेरा कहना है कि जर्मनी जितना सोच पा रहा है, उससे कहीं अधिक पैसों की बात हम कर रहे हैं.

    ट्रंप ने कहा है कि हालांकि हमने फाइनल अमाउंट अभी तक तय नहीं किए हैं. अभी ऐसा करना जल्दबाजी होगी.

    पिछले हफ्ते जर्मनी के न्यूज पेपर बिल्ड ने कोरोना वायरस से हुए नुकसान की भरपाई के लिए 160 बिलियन डॉलर का बिल प्रकाशित किया था. अखबार का कहना था कि जर्मनी को इतने बड़े रकम का नुकसान उठाना पड़ा है, जिसकी भरपाई चीन की सरकार से की जानी चाहिए.

    ये भी पढ़ें:

    कोरोना हुआ तो लंदन में भारतीय उबर ड्राइवर को घर से निकाला, पत्नी ने बताई दर्दनाक मौत की कहानी
    36 दिन बंद रहने के बाद फिर खुली दुनिया की सबसे बड़ी कार फैक्ट्री, बना चुकी है 4.5 करोड़ कारें
    संभल कर! मास्क नहीं पहना तो इस देश में लगेगा 8 लाख रुपए का फाइन
    अमेरिका में 57 हजार के करीब पहुंचा मौत का आंकड़ा, 10 लाख से ज्यादा संक्रमित

    Tags: America, Coronavirus, Donald Trump

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर