अमेरिका के मध्यावधि चुनावों में डोनाल्ड ट्रंप की दस्तक, अपने वफादार उम्मीदवारों के समर्थन का किया आह्वान

डोनाल्ड ट्रंप अपना पिछला चुनाव 70 लाख मतों से हारे थे. (रॉयटर्स फाइल फोटो)

डोनाल्ड ट्रंप अपना पिछला चुनाव 70 लाख मतों से हारे थे. (रॉयटर्स फाइल फोटो)

Donald Trump US Elections: डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, ‘आप ऐसे लोगों को नहीं चुन सकते जो पहले ही दो चुनाव हार चुके हैं और हमारे मूल्यों के लिए खड़े नहीं होते.’

  • Share this:

नॉर्थ कैरोलाइना. अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रिपब्लिकन नेताओं से अगले साल के मध्यावधि चुनावों में उनके प्रति वफादार रहे उम्मीदवारों का समर्थन करने का आह्वान किया. ट्रंप (74) ने 2024 में राष्ट्रपति पद के लिए दावेदारी जताने की संभावनाओं को बल दिया है, लेकिन पहले कांग्रेस पर नियंत्रण के लिए अगले साल के चुनावों में अपने सहयोगियों के लिए प्रचार अभियान चलाने पर जोर दिया है.

ट्रंप ने एक घंटे और 20 मिनट तक दिए भाषण में कहा, ‘अमेरिका का अस्तित्व अगले साल मध्यावधि चुनाव से लेकर हर स्तर पर रिपब्लिकन नेताओं का निर्वाचन करने की हमारी क्षमता पर निर्भर करता है.’ पूर्व राष्ट्रपति ने नॉर्थ कैरोलाइना जीओपी (ग्रैंड ओल्ड पार्टी) सम्मेलन के लिए एकत्र सैकड़ों रिपब्लिकन अधिकारियों तथा कार्यकर्ताओं के समक्ष भाषण दिया.

फेसबुक ने दो साल के लिए US के पूर्व राष्ट्रपति ट्रंप का अकाउंट सस्पेंड किया

कुछ पार्टी नेताओं को चिंता है कि ट्रंप के समर्थन वाले उम्मीदवारों के बढ़ने से 2022 में कांग्रेस के नियंत्रण के लिए जीओपी की लड़ाई आने वाले महीनों में अस्थिर हो सकती है. ट्रंप का अपनी पार्टी में वर्चस्व है, लेकिन वह ज्यादातर मतदाताओं के बीच लोकप्रिय नहीं हैं. वह पिछला चुनाव 70 लाख मतों से हारे थे.
डोनाल्ड ट्रंप बोले- मेरी बात सही थी चीनी वायरस वुहान के लैब से ही आया

कार्यक्रम में मौजूद रहीं ट्रंप की बहू और नॉर्थ कैरोलाइना की निवासी लारा ट्रंप ने घोषणा की कि वह पारिवारिक दायित्वों के कारण सीनेट के लिए चुनाव नहीं लड़ेंगी. उन्होंने कहा, ‘मैं अभी के लिए ना कह रही हूं लेकिन हमेशा के लिए नहीं.’




इसके कुछ मिनटों बाद ट्रंप ने अपने वफादार रहे टेड बड के प्रचार की घोषणा की, जो गवर्नर पैट मैकक्रोरी के लिए एक झटका है जो 2020 के चुनाव के बारे में ट्रंप के झूठे बयानों के आलोचक रहे हैं. ट्रंप ने कहा, ‘आप ऐसे लोगों को नहीं चुन सकते जो पहले ही दो चुनाव हार चुके हैं और हमारे मूल्यों के लिए खड़े नहीं होते.’

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज