लाइव टीवी

डोनाल्ड ट्रंप ने खामनेई को दी नसीहत- 'संभल कर बोले' ईरान के सर्वोच्च नेता

News18Hindi
Updated: January 18, 2020, 9:08 AM IST
डोनाल्ड ट्रंप ने खामनेई को दी नसीहत- 'संभल कर बोले' ईरान के सर्वोच्च नेता
राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामनेई को ‘संभल कर बात करने’ की नसीहत दी.

ईरान (Iran) के सुप्रीम लीडर खामनेई (Ayatollah Ali Khamenei) ने बीते 17 जनवरी को ट्वीट कर फ्रांस, जर्मनी और ब्रिटिश सरकार पर निशाना साधा था और उन्हें 'अमेरिका का प्यादा' बताते हुए ट्रंप पर हमला बोला था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 18, 2020, 9:08 AM IST
  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने ईरान के सर्वोच्च नेता आयतुल्ला अली खामनेई को शुक्रवार को 'संभल कर बात करने' की नसीहत दी. ईरान की राजधानी तेहरान में खामनेई (Ayatollah Ali Khamenei) की टिप्पणी के बाद ट्रंप ने ट्वीट किया, 'ईरान के तथाकथित 'सर्वोच्च नेता' जो अब उतने सर्वोच्च नहीं रह गए हैं, को अमेरिका और यूरोप के बारे में कुछ खराब बातें कहनी है.'

डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि खामनेई ने जो अपने भाषण में बोला वह उनकी भूल है. दरअसल खामनेई ने अपने भाषण में अमेरिका को 'बुरा' और ब्रिटेन, फ्रांस तथा जर्मनी को 'अमेरिका का प्यादा' बताते हुए ट्रंप पर हमला बोला था. ट्रंप ने ट्वीट किया, 'उनकी अर्थव्यवस्था चरमरा रही है और उनकी जनता परेशान है. उन्हें बोलते वक्त सावधानी बरतनी चाहिए.'



ट्रंप ने एक अन्य ट्वीट में ईरान (Iran) के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि ईरान के वे लोग, जो अमेरिका से प्यार करते हैं, एक ऐसी सरकार डिजर्व करते हैं, जो उन्हें मारने की बजाय उनके सपनों को पूरा करने में दिलचस्पी रखती है. उन्होंने अपने ट्वीट में ईरानी नेताओं से अपील की कि उन्हें अपने देश को बर्बादी की ओर ले जाने की बजाय आतंक को छोड़ देना चाहिए और ईरान को फिर से महान बनाना चाहिए.बता दें कि ईरान के सुप्रीम लीडर खामनेई ने बीते 17 जनवरी को ट्वीट कर फ्रांस, जर्मनी और ब्रिटिश सरकार पर निशाना साधा था. खामनेई ने लिखा, 'ईरान के मसले को सुरक्षा परिषद में ले जाने की फ्रेंच, जर्मन और 'शातिर' ब्रिटिश सरकारों की धमकी ने एक बार फिर साबित कर दिया है कि वे अमेरिका के 'प्यादे' हैं.' उन्होंने इसके साथ ही लिखा कि इन तीनों देशों ने सद्दाम को हमारे खिलाफ युद्ध में हरसंभव मदद की थी.

ये भी पढ़ें- ईरान की यूरोप को चेतावनी, कहा-अमेरिकी सैनिक खतरे में, आपके भी हो सकते हैं

ईरान की महिला रेफरी ने मैच में नहीं पहना हिजाब, मिल रही जान से मारने की धमकियां

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 18, 2020, 9:08 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर