Home /News /world /

दक्षिण चीन सागर में अमेरिकी मेजबानी वाले सैन्य अभ्यास पर ड्रैगन ने उगली आग

दक्षिण चीन सागर में अमेरिकी मेजबानी वाले सैन्य अभ्यास पर ड्रैगन ने उगली आग

अमेरिकी मेजबानी में हो रहे युद्धाभ्‍यास की चीन ने आलोचना की है. (प्रतीकात्‍मक चित्र )

अमेरिकी मेजबानी में हो रहे युद्धाभ्‍यास की चीन ने आलोचना की है. (प्रतीकात्‍मक चित्र )

चीन की सेना (China Army) ने दक्षिण चीन सागर में अमेरिका (America) और उसके मित्र देशों द्वारा बड़े स्तर पर किये जा रहे सैन्य अभ्यास और ‘क्वाड’ देशों (Quad alliance) द्वारा मालाबार नौसैनिक अभ्यास (Malabar Exercise) करने की बृहस्पतिवार को आलोचना की और कहा कि वाशिंगटन “गिरोह बना कर” संघर्ष को न्योता दे रहा है जिससे तनाव बढ़ेगा.

अधिक पढ़ें ...

    बीजिंग.  चीन की सेना (China Army) ने दक्षिण चीन सागर में अमेरिका (America) और उसके मित्र देशों द्वारा बड़े स्तर पर किये जा रहे सैन्य अभ्यास और ‘क्वाड’ देशों (Quad alliance) द्वारा मालाबार नौसैनिक अभ्यास (Malabar Exercise) करने की बृहस्पतिवार को आलोचना की और कहा कि वाशिंगटन “गिरोह बना कर” संघर्ष को न्योता दे रहा है जिससे तनाव बढ़ेगा.  चीन के राष्ट्रीय रक्षा मंत्रालय के एक प्रवक्ता सीनियर कर्नल तान केफेई डिजिटल माध्यम से आयोजित प्रेस वार्ता में कहा कि कथित “मुक्त वातावरण और खुलापन” लाने की बजाय एकतरफा कदम उठाना और संघर्ष को न्योता देने से केवल तनाव बढ़ेगा.

    कर्नल तान केफेई ने यह बयान हिंद प्रशांत क्षेत्र में हाल में अमेरिका के नेतृत्व में हो रहे संयुक्त अभ्यास और क्वाड देशों- भारत, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया तथा जापान द्वारा किये जा रहे मालाबार नौसैनिक अभ्यास पर दिया. उन्‍होंने कहा कि अमेरिका अन्‍य देशों के साथ युद्धाभ्‍यास कर रहा है. चीनी सेना की आधिकारिक वेबसाइट के अनुसार, तान ने कहा कि अमेरिका बीते कुछ दिनों से कुछ देशों को काल्पनिक शत्रु मानकर बड़े स्तर पर सैन्य अभ्यास कर रहा है, समुद्र में गिरोह बना रहा है और अपनी सैन्य ताकत का प्रदर्शन कर रहा है.

    ये भी पढ़ें : चीन, पाकिस्तान, थाइलैंड और मंगोलिया अगले महीने हेनान में करेंगे सैन्य अभ्यास

    ये भी पढ़ें :  परमाणु हथियार और मिसाइल जमा कर रहा चीन, सैटेलाइट तस्वीरों से हुआ खुलासा

    अमेरिकी मेजबानी चल रहे युद्धाभ्‍यास के लिए पश्चिमी प्रशांत क्षेत्र को चुना गया है. इसको लेकर चीन को आपत्ति है. अमेरिकी संयुक्त अभ्यास और क्वाड देशों- भारत, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया तथा जापान द्वारा किये जा रहे युद्धाभ्यास में युद्धपोतों, विमानों एवं हेलीकॉप्टर शामिल हैं. वहीं, अमेरिका के सातवें बेड़े ने एक बयान में कहा कि यह अभ्यास हिंद प्रशांत में नियम आधारित समुद्री व्यवस्था बनाए रखने के लिए समान विचारधारा वाले देशों की प्रतिबद्धता को दर्शाएगा.

    मालाबार अभ्यास में भारतीय नौसेना के आईएनएस ‘शिवालिक’ और अन्‍य भी शामिल 

    25वें मालाबार अभ्यास में भारतीय नौसेना के आईएनएस ‘शिवालिक’ और पनडुब्बी रोधी आईएनएस ‘कदमट’ तथा ‘पी8आई’ गश्ती विमान भाग ले रहे हैं.  अमेरिका ने अभ्यास में हिस्सा लेने के लिए प्रशांत बेड़े का मिसाइल विध्वंसक यूएसएस बेरी, टास्क फोर्स 72 का टोही विमान और यूएसएनएस रैपाहनॉक समेत अन्य पोत एवं ‍विमान तैनात किए हैं. अमेरिका के सातवें बेड़े ने कहा कि अभ्यास का पहला चरण हिंद-प्रशांत की चार नौसेनाओं के लिए संयुक्त समुद्री अभियान, पनडुब्बी रोधी जंगी अभियान, हवाई जंगी अभियान, गोलीबारी करने समेत अन्य में अपने कौशल को मजबूत करने का मौका होगा.

    Tags: America, China Army, Malabar Exercise, Quad alliance

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर