अपना शहर चुनें

States

इस देश ने लॉकडाउन में शराब की होम डिलीवरी शुरू की, प्रशासन ने कहा- इसकी ज़रूरत है

गोदामों से गायब हुई शराब
गोदामों से गायब हुई शराब

दुबई (Dubai) में चौबीसों घंटे का लॉकडाउन लगा हुआ है जिसमें लोगों को किराने की दुकान तक जाने के लिए भी पुलिस से अनुमति मांगनी पड़ती है.

  • Share this:
दुबई. संयुक्त अरब अमीरात (UAE) के दुबई (Dubai) में लॉकडाउन के चलते लोगों को घरों में रहने के निर्देश जारी किये गए हैं. दुबई शहर के राजस्व का बड़ा हिस्सा शराब की बिक्री से ही आता है ऐसे में वहां लॉक डाउन के दौरान शराब की होम डिलीवरी (Alcohol home delivery) शुरू की गई है. शराब की होम डिलीवरी को मंजूरी देते हुए प्रशासन ने बयान जारी किया है कि ऐसे वक़्त में इसकी लोगों को ज़रुरत है

दुबई के दो प्रमुख शराब वितरकों ने हाथ मिलाते हुए बीयर और शराब की घर पर डिलीवरी करने की पेशकश दी है. यूरोमॉनिटर इंटरनेशनल के बाजार अध्ययन के लिए विश्लेषक राबिया यास्मीन ने कहा, 'इस सेक्टर में लग्जरी होटल और बार बुरी तरह प्रभावित हुए हैं और इसका शराब की खपत पर सीधा असर पड़ा है.' दुबई में चौबीसों घंटे का लॉकडाउन लगा हुआ है जिसमें लोगों को किराने की दुकान तक जाने के लिए भी पुलिस से अनुमति मांगनी पड़ती है.

सरकारी अमीरात्स एयरलाइन द्वारा नियंत्रित कंपनी मैरीटाइम एंड मर्सेंटाइल इंटरनेशनल (एमएमआई) तथा अफ्रीकन एंड ईस्टर्न ने साझेदारी कर एक वेबसाइट बनाई है जिसमें वे शराब और बीयर को घर तक पहुंचाने की पेशकश दे रहे हैं. दोनों कंपनियों के अधिकारियों ने माना कि इस महामारी का इस साल के उनके राजस्व पर असर पड़ेगा. एमएमआई के प्रबंध निदेशक माइक ग्लेन ने कहा, 'हम डिलीवरी के शुरुआती दिनों में हैं और इसमें लोगों की पहले से ही अधिक दिलचस्पी है.'



विवाह-तलाक भी नहीं होंगे
कोरोना वायरस लॉकडाउन रिश्तों को बना और बिगाड़ सकता है लेकिन दुबई में वायरस का संक्रमण फैलने की आशंका के मद्देनजर अगले आदेश तक विवाह एवं तलाक को निलंबित कर दिया गया है ताकि लोगों का जमावडा़ नहीं हो. दुबई के न्याय विभाग ने बुधवार को कहा कि यह कदम कोराना वायरस महामारी को अमीरात में फैलने से रोकने के मद्देनजर उठाया गया है. यहां लॉकडाउन सख्ती से लागू किया गया है. संयुक्त अरब अमीरात में कोरोना वायरस संक्रमण के दो हजार से अधिक मामले सामने आये हैं जबकि इससे 12 लोगों की मौत हो चुकी है. आवश्यक सेवाओं में शामिल लोगों को छोडकर सभी नागरिकों एवं वहां रहने वालों को घर से निकलने के लिए अनुमति लेने की जरूरत होती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज