दुकान में चोरी के आरोप में तोता गिरफ्तार, पुलिस ने जेल में डाला

नीदरलैंड की पुलिस ने तोते को जेल के अंदर रखा.

नीदरलैंड की पुलिस ने तोते को जेल के अंदर रखा.

नीदरलैंड पुलिस (netherlands police) ने तोते को 'गिरफ्तार' करके जेल में डाल दिया. यह खबर सोशल मीडिया में आग की तरह फैल गई. इसके बाद पुलिस को आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 2, 2019, 2:11 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. रंगबिरंगे तोते (parrot) को देखकर सबकी नजरें उनपर टिक जाती हैं. तोतों को लोग इतना पसंद करते हैं कि वे उन्‍हें घर पर पालते हैं. कुछ उन्‍हें खुला रखते हैं तो कुछ पिंजरे में. नीदरलैंड के एक व्‍यक्ति के पास भी एक रंगबिरंगा सुंदर तोता है. वह जब भी कहीं जाता है तो अपने तोते को कंधे पर बैठा लेता है, लेकिन अब नीदरलैंड (Netherlands) की पुलिस ने उसे और उसके तोते को 'गिरफ्तार' कर लिया है.



इंसान को गिरफ्तार करने की बात तो ठीक है, लेकिन पुलिस (dutch police) ने तोते को भी 'गिरफ्तार' करके जेल में डाल दिया. यह खबर सोशल मीडिया में आग की तरह फैल गई. इसके बाद पुलिस को आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है.



नीदरलैंड की पुलिस ने छोटे तोते की फोटो अपने इंस्‍टाग्राम अकाउंट पर शेयर करते हुए लिखा, 'हमने अभी-अभी दुकान में चोरी करने के आरोप में एक व्‍यक्ति को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तारी के दौरान हमने आरोपी के कंधे पर बैठे तोते को भी पकड़ा है.' पुलिस के अनुसार उसका आरोपी मालिक उसे जेल में रखने को राजी था.





 
पुलिस की ओर से इंस्‍टाग्राम अकाउंट में जारी की गई फोटो में दिख रहा है कि पुलिस ने तोते को सह आरोपी बनाकर उसे इंसानों की तरह जेल में बंद कर दिया है. पीले और हरे रंग वाला तोता जेल के अंदर बैठा है. पुलिस की ओर से उसे खाने के लिए ब्रेड और पीने के लिए पानी भी दिया गया.इस पर पुलिस का कहना है कि उन्‍होंने अपनी डेस्‍क पर जांच पड़ताल की और यह जानकर चौंक गए कि उनके पास चिड़िया को रखने के लिए कोई भी पिंजरा या अलग से बर्ड सेल नहीं है. इसलिए उसे लॉक अप में रखना पड़ा. पुलिस का कहना है कि वे तोते का पूरा ख्‍याल रख रहे हैं. 





जेल में तोते की फोटो स्‍थानीय मीडिया की ओर से भी शेयर की गई. इसके बाद पुलिस की इस करतूत को लेकर ट्विटर और अन्‍य सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म पर लोगों ने पुलिस की आलोचना शुरू कर दी. कुछ यूजर्स ने लिखा है कि पहले तो पुलिस ने दुकान में चोरी करने में साथ देने के आरोप में तोते को गिरफ्तार किया. फिर उसे जेल में बंद करके ब्रेड और पानी दिया. इसके बाद जब मीडिया ने इस घटना को कवर किया तो पुलिस ने तोते की पहचान छिपाने के लिए काले निशान से उसकी आंखें छिपा दीं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज