अपना शहर चुनें

States

भूकंप के तेज झटकों से कांपा जापान, सुनामी का कोई अलर्ट नहीं

जापान के नेमी में भूकंप के झटके महसूस किए गए.(सांकेतिक तस्वीर)
जापान के नेमी में भूकंप के झटके महसूस किए गए.(सांकेतिक तस्वीर)

Japan Earthquake: जापान के फुकुशीमा प्रांत के नेमी में शनिवार को भूकंप के तेज झटके महसूस किये गए. रिक्टर स्केल पर इस भूकंप की तीव्रता 7.1 मापी गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 13, 2021, 10:49 PM IST
  • Share this:
टोक्यो. जापान (Japan) के उत्तरपूर्वी भाग के तटवर्ती क्षेत्रों में शनिवार को जोरदार भूकंप (Earthquake) आया जिसके झटके फुकुशिमा, मियागी और अन्य इलाकों में महसूस किये गये. वैसे सुनामी का कोई खतरा नहीं है. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. जापान के सरकारी प्रसारक एनएचके टीवी ने खबर दी है कि शनिवार रात को 7.1 तीव्रता का भूकंप आने के बाद फुकुशिमा डायची परमाणु संयंत्र अब यह जांच करने में लगा कि इस केंद्र में कोई समस्या तो नहीं आयी है. दस साल पहले भयंकर भूकंप आने से इस परमाणु संयंत्र को बड़ा नुकसान पहुंचा था.

सरकारी प्रवक्ता कत्सूनोबा काटो ने यहां संवाददाताओं को बताया कि वैसे ओनागावा या फुकुश डायनी जैसे क्षेत्रों के अन्य परमाण संयंत्रों से किसी गड़बड़ी की खबर नहीं है. किसी के हताहत होने की खबर नहीं है. काओ के मुताबिक टोक्यो इलेक्ट्रिक पावर कोरपोरेशन ने बताया कि भूकंप के बाद 860,000 घरों में बिजली गुल हो गयी. उन्होंने बताया कि भूकंप से सुनामी का कोई खतरा नहीं है, वैसे उत्तरपूर्वी जापान में कुछ ट्रेनों को रोक दिया गया एवं अन्य नुकसान का अब भी पता लगाया जा रहा है.

एनएचके टीवी पर प्रसारित वीडियो में एक भवन की दीवार की कुछ टुकड़े गिर गये और आलमारी से चीजें भी गिर गयीं. जापान मौसम विज्ञान एजेंसी ने बताया कि भूकंप का केंद्र समुद्र तल से करीब 60 किलोमीटर की गहराई पर था. प्रधानमंत्री भूकंप की खबर आने के तत्काल बाद अपने कार्यालय गये जहां एक संकट सेंटर स्थापित किया गया. भूकंप टोक्यो से लेकर दक्षिण पश्चिम तक महसूस किया गया.



आर्मीनिया में भी आज आया था भूकंप
इससे पहले आर्मीनिया की राजधानी में भी शनिवार को भूकंप का झटका महसूस किया गया जिसके बाद घबराए लोग इमारतों से निकल कर सड़कों पर आ गए. स्थानीय खबरों में बताया कि भूकंप के कारण जानमाल के नुकसान की कोई सूचना नहीं है. इसमें बताया गया कि भूकंप के कारण दुकानों में सामान बिखर गया. यूरोपीय भूमध्यसागरीय भूकंप विज्ञान केंद्र की ओर से बताया गया कि भूकंप की तीव्रता 4.7 मापी गई और इसका केंद्र राजधानी येरेवान से दक्षिण में 13 किलोमीटर की दूरी पर था.

भूकंप से कांपा उत्तर भारत
वहीं शुक्रवार को उत्तर भारत में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. ताजिकिस्तान में शुक्रवार रात शक्तिशाली भूकंप आया जिसके झटके दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र समेत उत्तर भारत के अनेक हिस्सों में महसूस किए गए. राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र (एनसीएस) ने बताया कि भूकंप की तीव्रता 6.3 मापी गई.

वहीं इससे पहले गुरुवार तड़के समुद्र के नीचे एक भूकंप आने के बाद दक्षिण प्रशांत द्वीपों में छोटी सुनामी लहरें आने का पता चला. प्रशांत सुनामी चेतावनी केंद्र ने कहा कि वानुआतु में 10 सेंटीमीटर (4 इंच) की लहरें मापी गईं और न्यू कैलेडोनिया में एक छोटी सुनामी का पता चला. लॉयल्टी द्वीप समूह के पास समुद्र में एक भूकंप आने के बाद सुनामी आयी जो न्यू कैलेडोनिया का हिस्सा है.

अमेरिकी भूवैज्ञानिक एजेंसी ने कहा कि भूकंप तगड़ा, लेकिन इसका केंद्र अधिक नीचे नहीं था. इसकी तीव्रता 7.7 और इसका केंद्र सिर्फ 10 किलोमीटर नीचे स्थित था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज