अपना शहर चुनें

States

विजय माल्‍या का कोर्ट में दावा- कर्ज वापसी की मेरी कोशिशों में ED ने अड़ंगा डाला

विजय माल्‍या पर बैंकों का 9000 करोड़ रुपये बकाया है. (AP Photo/Matt Dunham)
विजय माल्‍या पर बैंकों का 9000 करोड़ रुपये बकाया है. (AP Photo/Matt Dunham)

विजय माल्‍या पर भारतीय बैंकों का 9000 करोड़ रुपये बकाया है. वह फिलहाल लंदन में हैं, जहां उन्हें भारत प्रत्यर्पित किए जाने की याचिका पर वेस्टमिंस्टर कोर्ट में सुनवाई चल रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 24, 2018, 10:04 PM IST
  • Share this:
अमन सय्यद
भारतीय बैंकों से करोड़ों का कर्ज लेकर लंदन फरार हुए भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्‍या ने दावा किया है कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के चलते वह सरकारी बैंकों से कर्ज अदायगी पर समझौता नहीं कर पाए. लंदन की कोर्ट में माल्‍या ने सोमवार को यह बयान दिया. उन्‍होंने कहा कि ईडी ने उनके समझौते के प्रयासों में अड़ंगा लगाया.

बता दें कि विजय माल्‍या  फिलहाल लंदन में हैं, जहां उन्हें भारत प्रत्यर्पित किए जाने की याचिका पर वेस्टमिंस्टर कोर्ट में भी सुनवाई चल रही है. माल्या पर भारतीय बैंकों का 9000 करोड़ रुपये बकाया है.

माल्‍या ने जस्टिस एमएस आजमी के सामने अपने वकील के जरिए कहा कि पिछले दो-तीन साल में लगातार प्रयासों में जब भी सरकारी बैंकों को पैसे वापस करने की कोशिश की जाती, तो ईडी ने प्रकिया में मदद करने के बजाय हर कदम पर बाधा डाली.
माल्‍या ने ईडी की भगौड़ा घोषित करने की याचिका पर आपत्ति जताते हुए मुंबई स्थित विशेष पीएमएलए कोर्ट में अपने वकीलों के जरिये दायर किए गए 137 पन्नों के जवाब में खुद को बेकसूर बताया और कहा कि वह भगोड़ा नहीं, बल्कि इस मामले में लंदन की कोर्ट में प्रत्यर्पण के केस का सामना कर रहे हैं. इसलिए ऐसा नहीं कहा जा सकता कि विजय माल्या कानून से बचने के लिए देश से बाहर हैं.



माल्‍या ने अपने जवाब में कहा कि ऐसी परिस्थितियों में यह कहना गलत होगा कि उन्‍होंने भारत जाने से मना कर दिया है. किसी देश के कानून के पालन करने को भगोड़ा आर्थिक अपराधी नहीं कहा जा सकता. उनके जवाब में कहा गया कि उनकी ओर से बयान पूरा हो गया है और अब 10 दिसंबर को फैसला आना है. (भाषा इनपुट के साथ)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज